बालों के कमजोर होने के बहुत कारण होते हैं. उम्र, हारमोनल गड़बड़, तनाव, थिन ब्लड, दवा, अचानक कम होता वजन, पर्यावरण में बदलाव हीट जैनरेटिंग उत्पादों का इस्तेमाल इत्यादि से बाल रूखे और कमजोर हो जाते हैं.

बालों को खराब न होने दें. इन की परेशानियों के लिए पेश हैं आसान से समाधान:

गुलाबजल: गुलाब के पानी का पीएच बालों के पीएच के करीब होता है. इस का मतलब है कि यह बालों के तेल को कम कर सकता है और उन की नैचुरल चमक को भी निखार सकता है. गुलाबजल बालों के लिए बहुत ही अच्छा मौइश्चराइजर है. पानी में गुलाबजल मिला कर बालों को धोएं.

आंवला: बालों को झड़ने से बचाने का एक बेहतर इलाज आंवला भी है. अपने बालों की आंवले के तेल से मालिश करने से खोपड़ी के रोम मजबूत होते हैं, जिस से बालों को ताकत और चमक मिलती है.

आंवले में विटामिन सी होता है. इसलिए यह न केवल समय से पहले बालों को सफेद होने से रोकने में मदद करता है, बल्कि खुजली वाली खोपड़ी के लिए भी सब से अच्छा उपचार है. यह एक आला दर्जे का हेयर कंडीशनर है, जो खोपड़ी के अंदर तक पोषण देने की क्षमता रखता है.

अमला और शिकाकाई का पेस्ट बना कर 30 मिनट तक बालों में लगा कर रखें फिर धो लें.

आलू: आलू में विटामिन बी, विटामिन सी, जिंक और आयरन होता है, जो स्कैल्प को पोषण देता है और बालों की ग्रोथ को बढ़ाता है.

शैंपू के बाद बालों में आलू का रस लगाएं और थोड़ी देर तक लगा रहने दें. फिर साफ पानी से अच्छी तरह धो लें. बड़े बालों के लिए 1 कप और छोटे बालों के 1/2 कप आलू का रस पर्याप्त रहेगा.

करीपत्ता: करीपत्ते बालों की ग्रोथ के लिए फायदेमंद हैं और उन्हें समय से पहले सफेद होने से भी रोकते हैं. करीपत्ता फास्फोरस, आयरन, कैल्सियम, विटामिन ए और विटामिन सी से भरपूर होता है, ये तत्व बालों को मजबूत बनाते हैं. करीपत्तों में मौजूद पोषण से खोपड़ी में डैड स्किन सैल्स को नष्ट करने में मदद मिलती है और ये नए और हैल्दी बाल उगाने में भी अहम भूमिका निभाते हैं.

करीपत्तों को नारियल के तेल के साथ तब तक गरम करें जब तक वे काले न पड़ जाएं. फिर इस मिश्रण को ठंडा कर खोपड़ी और बालों पर अच्छी तरह लगाते हुए कुछ मिनट तक खोपड़ी की मालिश करें. इसे कम से कम 1 घंटे तक लगा रहने दें. फिर बालों को धो लें.

प्याज: औलिव औयल और प्याज के रस को अच्छी तरह मिला कर इसे खोपड़ी पर धीरेधीरे गोलाकार में मालिश करें. लगभग 2 घंटे तक लगा रहने दें. फिर किसी सौम्य शैंपू से धो लें.

प्याज के रस में बहुत से ऐंटीऔक्सीडैंट ऐंजाइम्स होते हैं, जो बालों की ग्रोथ में सुधार करने में मदद करते हैं. प्याज के जीवाणुरोधी गुण स्कैल्प को स्वस्थ और संक्रमण से मुक्त रखने में मदद करते हैं.

-डा. अरविंद पोसवाल

(हेयर ऐक्सपर्ट, डा. ऐज क्लीनिक)