डैंड्रफ का इलाज आसान नहीं होता है. डैंड्रफ का मतलब‍ ही होता है आपके सिर की मृत हो जाने वाली त्‍वचा. डैंड्रफ की वजह से कभी कभी आपके सर में खुजली भी होने लगती है. अक्‍सर डैंड्रफ आपके सिर की त्वचा पर सामने ही दिखने लगते हैं जो कि बड़ा शर्मनाक होता है और स्थिति तब और भी बिगड़ जाती है, जब ये आपके कपड़ों पर गिरने लगते हैं.

डैंड्रफ से छुटकारा पाना यूं तो इतना आसान नहीं है पर इसके उपाय के लिए कई घरेलू उपचार बताये जाते हैं. तो आज हम आपको कुछ आसान उपाय बताऐंगे जिनकी मदद से आप डैंड्रफ से निजात पा सकते है. यदि आपके सिर की त्वचा तैलीय है और आपको डैंड्रफ की समस्या ज्यादा है तो है, यहां आपके लिए कुछ बहुत असरदार उपाय हैं जिनकी मदद से आप जिद्दी डैंड्रफ को आसानी से बाय बाय कह सकेंगे..

नीबू: आपने देखा होगा कि कई एंटी-डैंड्रफ शैंपू में नीबू होता है. सिर की त्वचा पर नीबू का रस लगाकर, इसे 15 मिनिट तक लगा रखने का बाद, शैंपू से इसे धो लें. नीबू का रस डैंड्रफ के लिए तुरंत असरकारी होता है.

नमक: अपने शैंपू में थोड़ा सा नमक मिलाएं और सिर की त्वचा पर शैंपू का मिश्रण रगड़ें. ऐसा करने से सिर से सारी मृत त्वचा निकल जाती है और डैंड्रफ कपड़ों पर आकर भी नहीं गिरता.

बेकिंग सोडा: बेकिंग सोडा और पानी को मिलाकर एक शैंपू बनाइए और शैंपू के स्थान पर इसका उपयोग कर, अपने बाल धोऐं और डैंड्रफ से आसानी से छुटकारा पाएं.

नीम की पत्तियां: नीम की पत्तियों और पानी को मिलाकर बनायी गये पेस्ट को बालों में लगने से बालों में उपस्थित डैंड्रफ पर लाभकारी प्रभाव होता है. इसका कारण है कि नीम एंटी-फंगल होता है और इसीलिए यह डैंड्रफ को दूर कर देता है.

एलोवेरा: एलोवेरा तो हर चीज में बहुत लाभकारी होता है. यहां भी एलोवेरा जैल, सिर की त्वचा को नमी प्रदान करता है और इसे ऑयली भी नहीं होने देता. एलोवेरा जैल को अपने सिर पर अच्छी तरह लगाऐं और 20 मिनिट तक इसे लगा रहने दे और फिर धो लें. एलोवेरा जैल से धीरे धीरे आपके सिर की मृत त्वचा पूरी तरह निकल जाती है और त्वचा ऑयली भी नहीं होती.