होंठों की सुंदरता बढ़ाने में लिपस्टिक का खास महत्त्व होता है. मगर कई महिलाएं लिपस्टिक का सही चुनाव नहीं कर पातीं, जिस का प्रभाव उन के लुक्स पर भी पड़ता है. खासतौर पर गर्मी के मौसम में लिपस्टिक के चुनाव में अधिक सावधानी बरतने की जरूरत है, नहीं तो पूरा लुक बिगड़ सकता है.

ब्यूटीशियन मीनू अरोड़ा कहती हैं, ‘‘गर्मी के मौसम में महिलाएं कपड़ों में कूलिंग इफैक्ट देने वाले रंग ढूंढ़ती हैं. ठीक उसी तरह लिपस्टिक के शेड्स और फिनिश भी मौसम के अनुकूल होनी चाहिए. महिलाओं को अपनी स्किन टोन का भी ध्यान रखना जरूरी है क्योंकि लिपस्टिक का शेड स्किन टोन को उभारता है. इस मौसम में ग्लौसी की जगह मैट फिनिश वाली लिपस्टिक का ही इस्तेमाल करना चाहिए क्योंकि यह लाइट और सोबर लुक देती है.’’

किस स्किन टोन पर कौन सा रंग

स्किन टोन पहचानने का सब से अच्छा तरीका होता है कि कलाई पर उभरी हुई नसों का रंग देख लिया जाए. यदि नसों का रंग नीला है तो यह कूल स्किन टोन का प्रतीक है और यदि नसों का रंग हरा है स्किन टोन वार्म होती है. मीनू बताती हैं, कूल स्किन टोन वाली महिलाओं का रंग पेल व्हाइट और व्हाइट होता है जबकि वार्म स्किन टोन वाली महिलाएं व्हीटिश, डस्की और डीप डार्क होती हैं. हर रंग की त्वचा पर अलग रंग की लिपस्टिक अच्छी लगती है. जैसे

– गोरी या बहुत गोरी त्वचा (व्हाइट और पेल व्हाइट) पर पिंक, कोरल, न्यूड और बेज रंग इस मौसम में बहुत अच्छे लगते हैं.

– व्हीटिश यानी गेंहुए रंग वाली महिलाओं पर रोज रैड, मोव और बेरी शेड्स की लिपस्टिक बहुत अच्छी लगती है. इस रंग की महिलाओं पर कौपर और ब्रौंज कलर की लिपस्टिक भी बहुत जंचती है.

– यदि त्वचा का रंग सांवला है तो कभी भी ब्राउन और पर्पल फैमिली के लिप शेड्स का इस्तेमाल न करें. इस रंग पर औरेंज फैमिली के शेड्स काफी अच्छे लगते हैं.

– गहरे सांवले रंग की महिलाएं ब्राउन, प्लम और वाइन कलर की लिपस्टिक में खूब जंचती हैं.

लिपस्टिक खरीदते वक्त ध्यान रखें

त्वचा के रंग के आधार पर लिपस्टिक खरीदते वक्त कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है. मीनू कहती हैं, ‘‘कई महिलाएं चार्ट या ऊपर से लिपस्टिक का रंग देख कर लिपस्टिक खरीद लेती हैं, मगर यह सही तरीका नहीं है. हर ब्रांड में एक ही लिपस्टिक के 2-3 कलर टोन आते हैं और यह होंठों के रंग पर निर्भर करता है की कौन सा कलर टोन अच्छा लगेगा. इसलिए हमेशा लिपस्टिक ट्राए कर के ही लें.’’

निम्नलिखित बातों का भी ध्यान रखें:

– निचले होंठ के रंग से 2 शेड गहरी लिपस्टिक ही खरीदें. रंग जांचने के लिए लिपस्टिक को निचले होंठ पर लगाएं और ऊपर वाले होंठ के रंग की गहराई से परखें. रंग की गहराई समान होने पर ही लिपस्टिक खरीदें.

– लिपस्टिक का सही कलर इफैक्ट देखने के लिए बिना मेकअप ओरिजनल स्किन टोन पर लिपस्टिक लगा कर देखें.

– यदि एक साथ कई लिपस्टिक शेड खरीद रही हैं, तो पहले शेड को होंठों से साफ करने के बाद ही दूसरा ट्राए करें.  

मैटी फिनिश के लिए होठों को करें तैयार

गर्मी के मौसम में मैट फिनिश वाली लिपस्टिक सब से अच्छा विकल्प है क्योंकि यह लिपस्टिक गर्मी में पिघल कर फैलती नहीं है. मीनू कहती हैं, ‘‘मैट फिनिश की लिपस्टिक बेहद शालीन लुक देती है मगर इसे लगाने के कुछ नियम होते हैं, जिन के अनुसार इस का इस्तेमाल न किया जाए तो लुक बिगड़ भी सकता है.’’

यह नियम निम्नलिखित हैंय

– फटे हुए होंठों पर कभी भी मैट फिनिश वाली लिपस्टिक नहीं लगानी चाहिए. यदि होंठ फटे हैं, तो पहले उन्हें स्क्रब कर के ऐक्सफोलिएट कर लें.

– मैट फिनिश वाली लिपस्टिक होंठों को रूखा कर देती है इसलिए लगाने से पहले होंठों पर बेबी औयल से मसाज कर लेनी चाहिए ताकि होंठों में नमी बनी रहे और होंठों पर दरारें न दिखें.

– मैट लिपस्टिक का अच्छा इफैक्ट देखने के लिए होंठों पर पहले कंसीलर लगाएं. इस से लिपस्टिक का रंग उभर कर आता है.

– मैट लिपस्टिक के हमेशा 2 कोट होंठों पर लगाएं और कभी भी होंठों को रब न करें.

– मैट लिपस्टिक लगाने से पहले होंठों को लिप लाइनर से शेप जरूर दें. दरअसल ग्लौसी लिपस्टिक की तरह मैट लिपस्टिक अपने आप होंठों पर नहीं फैलती इसलिए लिप लाइनर की आउटलाइन के सहारे पूरे होंठों पर लिपस्टिक लगानी चाहिए.           

न करें ये गलतियां

– ड्रैस के कलर को कॉम्प्लिमैंट करने वाला लिप शेड लगाएं न की ड्रैस के रंग से मैच करता हुआ. यह ड्रैस और मेकअप दोनों का ही लुक बिगाड़ देता है.

– पतले होंठों पर कभी भी गहरे रंग की लिपस्टिक न लगाएं, होंठ और भी पतले लगेंगे.

– यदि आंखों पर हैवी मेकअप है तो होंठों को ड्रामैटिक लुक देने से बचें.