सुंदर दिखने की चाह स्त्रीपुरुष दोनों में होती है. पुरुषों का रुझान सौंदर्य के प्रति निरंतर बढ़ रहा है. जिस तरह औद्योगिक जगत में पुरुषों ने समय के बदलाव का साथ देते हुए महिला सहकर्मियों का खुले दिल से स्वागत किया है, ठीक उसी तरह महिलाओं ने भी पुरुषों की सुंदर दिखने की चाह को दिल से मान दिया है. इस का सुबूत आज जगहजगह खुलने वाले यूनीसैक्स पार्लर व सैलून हैं, जहां एक ही छत के नीचे पुरुष व महिलाएं प्रदूषण, धूप, धूल, गरम हवाओं और बढ़ती उम्र आदि के त्वचा पर होने वाले दुष्परिणामों जैसे पिगमैंटेशन, झुर्रियां, काले घेरे, कीलमुंहासे, ऐक्ने, अनईवन स्किनटोन, रैडनैस, डलनैस आदि से नजात पाते हैं. इन फेशियल की सब से बड़ी खासीयत यह है कि ये पुरुष व स्त्री त्वचा पर एकसमान कारगर काम करते हैं.

यूनीसैक्स फेशियल की कई किस्में हैं:

स्किन लाइटनिंग फेशियल

यह थकान, तनाव व धूप के संपर्क में आने वाली त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटा कर अनईवन स्किनटोन की रंगत में गजब का निखार लाता है. इस में मौजूद गोजी बेरी (फल), ऐंटीऔक्सीडैंट, ओमेगा 3 व ओमेगा 6 विटामिन और ऐसैंशियल औयल त्वचा के बैलेंस को मैंटेन कर उसे प्रोटैक्ट करते हुए उस में नैचुरली निखार लाते हैं, फिर चाहे वह महिला की कोमल त्वचा हो या फिर पुरुष की. त्वचा में फर्क पहली सिटिंग से ही महसूस होने लगता है. इस फेशियल का असर सामान्य फेशियल से कहीं ज्यादा होता है.

हाइडे्रटिंग फेशियल

खानपान की गलत आदतों, पानी और पोषण की कमी के कारण त्वचा असमय अपनी रंगत खो कर डल व डैमेज होने लगती है. हाइड्रेटिंग फेशियल में मौजूद मिनरल, अमीनो ऐसिड और विटामिन सी त्वचा के संपर्क में आ कर उसे ऐक्सफौलिएट व रिफ्रैश करता है. इस में मौजूद ग्लोइक, लैक्टिक व सैलिक ऐसिड त्वचा के डैमेज सैल्स को ऐक्सफौलिएट करने के साथसाथ रिपेयर कर के स्किन को फ्रैश लुक भी प्रदान करता है.

नौनसर्जिकल फेसलिफ्टिंग फेशियल

फेसलिफ्टिंग फेशियल खास किस्म के प्रोटीन, अमीनो ऐसिड, सीविड, कीवी और बी ग्रुप के विटामिन का समावेश है. यह एक हाईटैक ऐडवांस फेशियल है, जो बिना किसी सर्जरी के झुर्रियों व फाइन लाइंस का दिखना कम करता है. इस के इस्तेमाल से असमय चेहरे पर पड़ने वाले ऐजिंग साइन को कम किया जा सकता है. इस में मौजूद ऐक्वा शटल व ह्यालुरोनिक ऐसिड स्किन को पावरफुल मौइश्चर प्रदान करते हैं, जिस से त्वचा फ्रैश, स्मूद, हैल्दी और कसावपूर्ण नजर आती है. चूंकि इस फेशियल में दी जाने वाली पावर गेज में व्हीट ऐक्स्ट्रैक्ट और ओट प्रोटीन का समावेश होता है, इसलिए इसे लगाते समय फेशियल मूवमैंट ज्यादा न करें ताकि बेहतरीन परिणाम मिल सके और स्किन रीजेनरेट हो सके. यह फेशियल हर स्किन के लिए उपयुक्त है. कुछ ही सिटिंग्स में आप अपनी स्किन में उम्दा फर्क महसूस करेंगी. लेकिन ध्यान रखें बेहतर और दीर्घगामी परिणाम के लिए फेशियल करवाने के बाद डेली पीलिंग, टोनिंग व मौइश्चराइजिंग का समावेश जरूर करें.

ऐक्ने कंट्रोल फेशियल

कीलमुंहासों और ऐक्ने की समस्या त्वचा की आम समस्या है, जो हर उम्र के महिला व पुरुष दोनों को होती है. ऐक्ने कंट्रोल फेशियल त्वचा से ऐक्ने और कीलमुंहासों को दूर करने के साथसाथ त्वचा की परत को साफ कर इन के दोबारा होने की प्रक्रिया को भी कंट्रोल करता है. यह त्वचा से धूलमिट्टी को निकाल कर रोमछिद्रों की सफाई करने में मदद करता है. यह त्वचा की तैलीय ग्रंथियों की सक्रियता को भी कम करता है.

स्किन नरिशिंग फेशियल

यह फेशियल ड्राई व डल स्किन के मौइश्चर में लौक कर के स्किन के नैचुरल मौइश्चर लैवल को बढ़ाने में मदद करता है, जिस से स्किन स्मूद व सौफ्ट नजर आती है. इस फेशियल में मौजूद जैल व सीरम स्किन में आयनिक मशीन द्वारा ईजिली पेनिट्रेट हो कर त्वचा के खिंचाव को कम करते हुए उसे यंगर लुक इफैक्ट देती है.

पिगमैंट कंट्रोल फेशियल

सूर्य की हानिकारक किरणों, रसोई गैस की हीट, त्वचा की रगड़, धूलमिट्टी और तैलीय ग्रंथियों की अधिक सक्रियता का प्रभाव त्वचा पर सब से अधिक पड़ता है. विशेषकर यूवीबी किरणें त्वचा के रंग को अधिक गहरा बनाती हैं जिस से चेहरे पर काले धब्बे पड़ने लगते हैं. इन पिगमैंटेशन को ही कंट्रोल करता है पिगमैंट कंट्रोल फेशियल. यह बाहरी सतह पर मुख्यरूप से मैलानिन पर कार्य करता है, जिस के प्रभाव से चेहरा क्लीन, नरिश्ड लगता है और ईवनटोन रंगत निखर कर आती है. इस में मौजूद प्राकृतिक सैफरौन फ्लौवर सत, विटामिन बी3 और जड़ीबूटियों का समावेश होने के कारण यह स्किन की डलनैस को दूर कर त्वचा के रक्तसंचार को बढ़ा कर स्किन को नरिश व रिजुविनेट करता है, फिर वह चाहे त्वचा महिला की हो अथवा पुरुष की.

सीबम कंट्रोल फेशियल

यह फेशियल स्किन को प्यूरिफाई कर के उस में बनने वाले सीबम की अधिकता को कम करता है, जिस की वजह से व्हाइटहैड्स व ब्लैकहैड्स की समस्या से काफी हद तक नजात मिलती है. यह औयली व कौंबिनेशन स्किन के लिए बैस्ट फेशियल है. यह त्वचा के सीबम को कंट्रोल करने के साथसाथ उस में मौइश्चर बैलेंस को भी बनाए रखता है, जिस से स्किन हैल्दी व ग्लोइंग नजर आती है. इस फेशियल में इस्तेमाल होने वाली सक्शन मशीन और ऐक्ने ज्यादा होने पर ओजोन मशीन इस फेशियल के परिणाम को बढ़ा देती है. लेकिन इस फेशियल को कराने के बाद नियमित औयलफ्री मौइश्चराइजर का प्रयोग करना न भूलें. सभी यूनीसैक्स फेशियल का रिजल्ट 4 घंटों के अंदर ही दिखना शुरू हो जाता है, इसलिए किसी इवेंट के लिए आप यह फेशियल 1 दिन पहले या फिर कम से कम 4 घंटे पहले भी करवा सकती हैं. यूनीसैक्स फेशियल किसी कुशल ब्यूटीशियन से व अच्छे सैलून में ही करवाएं. इस में इस्तेमाल होने वाली मशीनें जैसे सक्शन अल्ट्रासोनिक, एअर कंप्रैसर, ओजोन, टैस्टर आयनिक, मैग्नैटिक व ग्लैवेनिक आदि त्वचा पर किसी प्रकार का कोई नुकसान न पहुंचा कर उस में निखार लाती हैं. लेकिन स्किन टैस्ट करवा कर ही इन फेशियल को करवाएं ताकि जो फेशियल आप की स्किन की जरूरत को पूरा करता हो वह आप की त्वचा के संपर्क में आ कर उस में गजब का निखार ला सके