गृहशोभा विशेष

त्वचा की खूबसूरती को कौस्मैटिक प्रोडक्ट्स के साथसाथ कई प्राकृतिक चीजों के जरीए भी बरकरार रखा जा सकता है. ये चीजें न सिर्फ सेहतमंद होती हैं, बल्कि कई तरह के साइड इफैक्ट्स से भी बचाती हैं. बादाम, केसर, दूध, शहद, गुलाब ,नीम आदि में ऐसे प्राकृतिक तत्त्व मौजूद होते हैं जो त्वचा को ग्लोइंग बनाने के साथसाथ उसे झुर्रियों से भी बचाते हैं. इन के नियमित इस्तेमाल से आप हर उम्र में जवां दिख सकती हैं.

जानिए इन चीजों के फायदे:

गुलाब

इस में विटामिंस, मिनरल्स और ऐंटीऔक्सीडैंट गुण होने के कारण यह मौइश्चराइजर का काम तो करता ही है, साथ ही इस में ऐंटीसैप्टिक, ऐंथ्रीजेंट और ऐंटीइनफ्लैमेटरी प्रौपर्टी होने के कारण यह ऐक्नों और रैडनैस की परेशानी से भी छुटकारा दिलाता है.

स्किन बनती है क्लीयर: ऐंटीऔक्सीडैंट प्रौपर्टी होने के कारण गुलाब स्किन को कीटाणुओं से बचा उसे क्लीयर बनाए रखता है. 1 चम्मच गुलाब की पत्तियों में थोड़ा पानी मिला कर चेहरे पर लगाएं. थोड़ी देर बाद चेहरे को धो लें. चेहरा चमक उठेगा.

करे मौइश्चराइज: गुलाब की पत्तियों में मौजूद नैचुरल औयल कोशिकाओं में पहुंच कर उन्हें नमी प्रदान करता है, जिस से स्किन पर नैचुरल चमक बरकरार रहती है.

औयल कंट्रोलर: ज्यादातर टोनर्स में अलकोहल होने के कारण वे स्किन को बिलकुल रूखा बना देते हैं, जबकि गुलाब स्किन को सौफ्ट बनाने का काम करता है. इसे पेस्ट के रूप में चेहरे पर लगाने पर यह रोमछिद्रों को कम करने के साथसाथ स्किन को भी फ्रैश करता है.

जलन से राहत: ऐंटीइनफ्लैमेटरी गुण होने के कारण यह ऐक्नों से लड़ कर स्किन को कूलकूल फील कराता है.

नैचुरल सनस्क्रीन: गुलाब में विटामिन सी की मौजूदगी व ऐंटीऔक्सीडैंट गुण होने के कारण यह सूर्य की अल्ट्रावायलेट किरणों से बचा कर स्किन को सुरक्षा प्रदान करता है. सनबर्न हुई स्किन को भी आराम पहुंचाता है. गुलाब की पत्तियों को पानी में उबाल कर ठंडा होने दें. रोज इस से चेहरा धोने पर वह ग्लो करने लगेगा.

बालों को दे मौइश्चर: यह बालों को मौइश्चर प्रदान कर उन में चमक लाता है. इस के लिए आप डेली रोजवाटर से बालों की मसाज करें.

केसर

इस में पोटैशियम होने के कारण यह कोशिकाओं को बनाने और उन की मरम्मत करने में सक्षम होता है. इस में विटामिंस और ऐंटीऔक्सीडैंट की मौजूदगी स्किन के लिए काफी लाभकारी सिद्ध होती हैं. ऐंटीफंगल प्रौपर्टीज होने के कारण यह ऐक्नों से भी बचाव करता है.

नैचुरल ग्लो रहेगा बरकरार: अगर आप स्किन पर नैचुरल ग्लो की चाह रखती हैं तो केसर के कुछ धागे 2 घंटे दूध में भिगो कर रखें. फिर इन्हें चेहरे व गरदन पर मल कर फेस वाश करें. कुछ दिन इस प्रक्रिया को दोहराने से रंग में निखार आने के साथसाथ चेहरा ग्लो भी करेगा.

ऐक्ने, ब्लैकहैड्स करे कम: केसर का ऐंटीफंगल गुण ऐक्ने और ब्लैकहैड्स से लड़ने में कारगर होता है. आप 5-6 तुलसी की पत्तियों को 10-12 केसर के धागों के साथ मिला कर पेस्ट तैयार कर उसे चेहरे पर लगा कर 10-15 मिनट बाद ठंडे पानी से चेहरे को धो लें.

सुधारे स्किन टैक्स्चर: हर महिला अपने स्किन टैक्स्चर को सुधारना चाहती है. इस के लिए 1/2 कप पानी को 1/2 घंटा उबालें फिर उस में 4-5 केसर के धागे और 4 चम्मच मिल्क पाउडर डाल कर पेस्ट बनाएं और चेहरे पर लगाएं. थोड़ी देर बाद चेहरे को ठंडे पानी से धो लें. आप खुद अपने स्किन टैक्स्चर में सुधार देखेंगी.

करे ड्राईनैस दूर: अगर आप की स्किन रूखीरूखी सी है तो नीबू और केसर को मिला कर पेस्ट तैयार करें. नीबू जहां स्किन को क्लीयर करता है वहीं केसर नमी प्रदान कर उस की ड्राईनैस दूर करता है.

शहद

शहद में पोषक तत्त्व, ऐंटीऔक्सीडैंट और हीलिंग गुण होने के कारण यह त्वचा को नमी प्रदान करने के साथसाथ झुर्रियों और बैक्टीरिया से लड़ने में भी मददगार होता है.

मौइश्चराइजर: यह कोशिकाओं तक पहुंच कर उन्हें मौइश्चर प्रदान करता है, जिस से त्वचा सौफ्ट होती है. शहद को चेहरे पर लगा कर 15-20 मिनट बाद धो लें.

क्लींजर का काम: शहद में ऐंजाइम्स होने के कारण यह रोमछिद्रों को क्लीयर और क्लीन करने का काम करता है, जिस से चेहरा आकर्षक लगता है.

ऐक्नों का ट्रीटमैंट: इस में ऐंटीबैक्टीरियल और ऐंटीफंगल गुण होने के कारण यह रैडनैस और ऐक्नों से त्वचा को राहत पहुंचाता है. रैडनैस वाले एरिया पर शहद लगा कर 15-20 मिनट बाद चेहरा धो लें.

बैस्ट कंडीशनर: यह डल स्किन में ग्लो व सौफ्टनैस लाता है. 2 बूंदें नारियल के तेल में 1 चम्मच शहद मिला कर 20 मिनट लगा कर रखें. फिर धो लें. चेहरा खिलाखिला नजर आएगा.

सनबर्न ट्रीटमैंट: शहद में ऐंटीइनफ्लैमेटरी गुण होने के कारण यह सनबर्न स्किन को ठीक करने का काम करता है.

दूध

कच्चे दूध में विटामिन बी, अल्फा हाइड्रौक्सी ऐसिड, कैल्सियम होने के कारण यह स्किन और हैल्थ के लिए काफी फायदेमंद होता है.

नैचुरल फेस क्लीनर: हम डेली प्रदूषण को फेस करते हैं. ऐसे में चेहरे पर गंदगी एकत्रित हो ही जाती है. उसे हटाने के लिए आप डेली कच्चे दूध से चेहरे को साफ करें. फेस क्लीन होने के साथसाथ ऐक्नों की परेशानी से भी राहत मिलेगी.

टैनिंग हटाए: कच्चा दूध न सिर्फ टैनिंग दूर करता है, बल्कि डैड स्किन को भी रिमूव करता है.

बादाम

फाइबर, प्रोटीन, मैग्नीशियम और विटामिन ई होने के कारण बादाम सेहत, स्किन और बालों के लिए काफी फायदेमंद साबित होते हैं.

स्किन बनाएं हैल्दी: आप अगर क्लीयर कौंप्लैक्शन और ग्लोइंग त्वचा चाहती हैं, तो ट्राई करें बादाम तेल. यह स्किन को नमी प्रदान करने के साथसाथ उसे सौफ्ट भी बनाता है.

डार्क सर्कल्स से राहत: आंखें भले ही कितनी भी खूबसूरत क्यों न हों, लेकिन डार्क सर्कल्स हों तो उन की खूबसूरती में कमी आ जाती है. ऐसे में बादाम औयल में विटामिन ई की मौजूदगी डार्क सर्कल्स को कम करती है.

डैड स्किन सैल्स हटाएं: गंदगी, पसीने के कारण त्वचा पर डैड स्किन सैल्स इकट्ठे होने के कारण स्किन डल सी दिखती है. बादाम में मौइश्चराइजिंग प्रौपर्टी होने के कारण डैड स्किन रिमूव होती है.

स्प्लिट ऐंड्स को रिमूव करे: अगर आप बादाम के तेल से बालों की मसाज करें तो उन की डलनैस दूर होने के साथ स्पिल्ट ऐंड्स की परेशानी से भी छुटकारा मिलता है.

नीम

नीम के जितने फायदे गिनवाए जाएं कम हैं. इस की पत्तियों को पीस कर फेस पैक की तरह यूज कर के ऐक्नों की परेशानी से छुटकारा पाया जा सकता है. यह स्किन को ड्राई होने से भी रोकता है.

ब्लैकहैड्स हटाए: नीम औयल की 2-3 बूंदों में थोड़ा सा पानी मिला कर चेहरे पर लगाने से ब्लैकहैड्स जड़ से खत्म हो जाते हैं.

स्किन ऐलर्जी से रखे दूर: नीम स्किन ऐलर्जी से भी बचाता है. पानी में कुछ बूंदें नीम औयल की डाल कर उस से नहाने से स्किन ऐलर्जी दूर होती है.

ग्लो के लिए कारगर टूल: अगर आप रोजाना नीम की पत्तियों और हलदी के पेस्ट को चेहरे पर लगाएंगी तो इस से स्किन क्लीयर होने के साथसाथ ग्लो भी करेगी.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं