गृहशोभा विशेष

फैशनेबल ड्रेस में लेदर और फर का प्रयोग बहुत पहले समय से हो रहा है जो एनिमल के लिये गंभीर खतरे की तरह होता है. पेटासंस्था ने फैशनेबल पोशाकों में एनिमल के लेदर और फर का प्रयोग न करने का संदेश देने के लिये तमाम तरह के उपाय किये. कभी न्यूड शो हुआ तो कभी बौडी पेंटिंग के जरीये इसका प्रचार किया गया.

अब पेटाफैशन डिजाइनिंग सीख रहे छात्रों के बीच जाकर उनको समझाने का प्रयास कर रहा है कि वह बिना लेदर और फर के ऐसी पोशाक बनायें जो लेदर और फर के शौकीन लोगों को पसंद आये. जेडी इंस्टीटयूट औफ फैशन टेक्नलॉजी के सालाना फोटोशूट 2017 एनुवल फैशन अवॉर्ड में ऐसी ही पोशाकें पेश की गई जो बिना किसी लेदर और फर के तैयार हुई थी.

इंस्टीटयूट के लखनऊ ब्रांच के डायरेक्टर संदीप गोला और शिप्रा आनंद ने अपनी देख रेख में छात्रों से ऐसे डिजाइन तैयार कराये जिससे आने वाले नये फैशन की शुरुआत करने का मौका मिला. इन खूबसूरत पोशाकों को मौडल हीना खान, विद्या श्री, निकिता डोबरीयाल, सेनाली वर्मा, मारिया और स्टैसी ने रैंप शो पर पहनें.

जजमेंट पैनल में डायरेक्टर आरसी दलाल और पेटा की मिस बेनजीर मौजूद थी. इन पोशाकों को देखकर लगा कि खूबसूरत पोशाकों के लिये लेदर और फर की जरूरत नहीं होती है.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं