गृहशोभा विशेष

हमारे देश में वर्ष-भर में छः ऋतुएं आती हैं. इनमें गर्मियां ही एक ऐसा मौसम है, जिसमें चेहरे और त्वचा की सबसे ज्यादा देखभाल करनी पड़ती है. इस मौसम में पसीने की वजह से मेकअप बह जाता है,  शरीर से दुर्गध आने लगती है तथा त्वचा झुलसने लगती है. सूरज की गर्मी और प्रदूषण की मार से अच्छी-से-अच्छी त्वचा भी खराब हो जाती है और कील -मुंहासे, झाइयां, काले-भूरे दाग, ब्लैक हैड, घमौरी और पसीने की गंध जैसी बहुत-सी परेशानियां सामने आती हैं. गर्मियों के इस धूल और पसीने से सराबोर मौसम में त्वचा की उचित देखभाल करना बहुत जरूरी है.

यहां हम आपको गर्मियों में चेहरे की देखभाल करने के लिए कुछ टिप्स बताएंगे, जिससे आप आसानी से अपनी त्वचा और सौंदर्य की देखभाल कर सकेंगी.

गर्मियों में चेहरे की देखभाल के लिए त्वचा पर टमाटर के रस के बने आइस क्यूब का मसाज करना लाभकारी होता है इससे धूप में झुलसी त्वचा को आराम मिलता है साथ ही त्वचा की चमक भी बनी रहती है.

इसके लिए आप सुबह उठते ही चेहरे को अच्छी तरह धोएं, फिर संतरे के छिलकों के पाउडर में थोड़ा-सा कच्चा दूध मिलाकर चेहरे पर लगाएं पांच-सात मिनट बाद हल्के हाथ से मालिश करें और अंत में ठंडे पानी से मुंह को धोएं. ड्राई स्किन में मृत कोशिकाओं की मात्रा काफी ज्यादा होती है इसलिए सूखी त्वचा के लिए फेस स्क्रब का प्रयोग करना चाहिए.

गर्मियों में ड्राई स्किन की देखभाल के लिए दो केले को छीलकर अच्छी तरह पीस ले फिर इस पेस्ट को चेहरे में लगाये.

रात को सोने से पहले हाथ-पांव और मुंह अच्छी तरह धोएं, ताकि दिन-भर की गंदगी साफ हो जाए. इसके बाद त्वचा पर तेल रहित माइस्चराइजर जरूर लगाएं.

गर्मियों में शरीर के खुले हिस्सों पर सनस्क्रीन लगाना बहुत जरूरी है. कई कंपनियां दावा करती हैं कि उनके माइस्चराइजर में सनस्क्रीन भी मौजूद है, मगर अच्छा होगा कि आप माइस्चराइजर के साथ अलग से सनस्क्रीन भी लगाए. अगर आप धूप में ज्यादा समय रहने वाली हैं तो 30 एसपीएफ वाला सनस्क्रीन को अच्छी तरह ही लगाकर बाहर जाएं.

गर्मियों में चेहरे की देखभाल के लिए आंखों के नीचे आई क्रीम लगाएं, ताकि वहां की त्वचा में नमी बनी रहे और झुर्रियां न पड़ें. मगर इस क्रीम को सोने से पंद्रह मिनट पहले धो दें, जिससे आंखें सूजी हुई न लगें. क्रीम के कारण त्वचा के रोम छिद्र बंद हो जाते हैं, जिससे त्वचा सांस नहीं ले पाती है.

कम से कम हफ्ते में एक बार हल्दी का लेप, चंदन का लेप, एलोवेरा के पेस्ट का लेप आदि प्राकृतिक फेसपैक का इस्तेमाल जरुर करें.

गर्मियों में चेहरे की देखभाल के लिए हर दिन नाश्ते के साथ एक कप दही लें तो आपकी त्वचा के लिए अत्यंत फायदेमंद है. दही को आप अपनी त्वचा पर बाहरी रूप में लगाकर भी उपयोग कर सकते हैं. विटामिन डी और प्रोटीन जैसे तत्वों से भरपूर दही आपकी त्वचा को स्वस्थ बनाए रखता है.

गर्मियों में चेहरे की देखभाल के लिए कच्चे पपीते के रस में नारियल का तेल मिलाकर चेहरे पर मालिश करें.

दिन में प्रदूषण, सूर्य की अल्ट्रावायलेट किरणों और धुएं का सामना करते-करते रात तक त्वचा की प्रतिरोधक क्षमता जवाब दे देती है और त्वचा के विटामिन-सी और विटामिन-ई के प्राकृतिक स्रोत लगभग समाप्त होने लगते हैं. नाइट क्रीम त्वचा के अंदर जाकर इन स्रोतों की पूर्ति करती है.

गर्मियों में त्वचा पर घमोरियां निकल आती है पर अक्सर घमौरियां पर लोग पाउडर छिड़कते रहते हैं, इससे घमौरियां और भी बढ़ जाती हैं. अगर घमौरियों पर बर्फ रगड लिया जाये, तो काफी राहत मिलती है.

बहुत ज्यादा धूप त्वचा के लिए बहुत हानिकारक है. सूरज की सीधी किरणें त्वचा में कोलाजेन और इलास्टिक टिश्यू को नष्ट कर देती हैं और उनका असर बढ़ता ही जाता है. सनस्क्रीन लोशन या सन ब्लाक धूप के इस हानिकारक असर को रोकते हैं.

गर्मियों में चेहरे की देखभाल के लिए बाहर जाते वक्त अपने साथ साफ रूमाल, पेपर नैपकिन या लेमन और यूडीकोलोन में भीगे टिश्यू पेपर जरूर रखें. पसीना आने पर चेहरा पोंछ लें, नहीं तो पसीने पर गंदगी चिपकेगी, जिससे मुंहासे होने का डर रहता है. सनबर्न स्क‍िन के लिए एंटाक्सीडेंट वाले हल्के लोशन का उपयोग करें.

तेज धूप से त्वचा काली पड़ जाए तो खीरे या ककड़ी का रस चेहरे पर लगाएं.

गर्मियों में चेहरे की देखभाल और त्वचा की चमक बरकरार रखने के लिए ज्यादा से ज्यादा पानी पियें. त्वचा को हाइड्रेट रखने के लिए हर रोज खीरा, ककड़ी, करेला, पालक, तरबूज आदि जैसी ताजी सब्जियां और फल को अपनी खुराक में अवश्य शामिल करें.