चिलचिलाती गरमी के बाद रिमझिम का मौसम बहुत ही लुभावना लगता है. लेकिन इस मौसम में कई परेशानियों से भी जूझना पड़ता है. इस मौसम में त्वचा और बालों से संबंधित समस्याएं अधिक होती हैं, जो आप के सौंदर्य को प्रभावित कर सकती हैं. आइए, जानते हैं इस मौसम में त्वचा व बालों से संबंधित परेशानियों से बचने के कुछ टिप्स:

इस सुहावने मौसम में यह जरूरी है कि हमारे मन के साथसाथ हमारी त्वचा भी खुश रहे. इसलिए इन 4 स्टैप्स यानी क्लींजिंग, टोनिंग, मौइश्चराइजिंग और प्रोटैक्शन को अपने डेली रूटीन में शामिल करें. दिन में कम से कम 2-3 बार चेहरे को ऐस्ट्रिंजैंट से साफ करें, क्योंकि यह ऐंटीबैक्टीरियल होता है, जो त्वचा को इन्फैक्शन से बचाता है. इस के बाद स्किनटोनर को रुई के फाहे में ले कर पूरे चेहरे पर लगाएं. इस से पोर्स बंद हो जाएंगे, जिस से पसीना कम आएगा और मौसम जैसी ताजगी चेहरे पर भी बनी रहेगी.

पोर्स को बंद करने और चेहरे पर ग्लो लाने के लिए चेहरे पर 1 मिनट तक बर्फ मल कर आइस फेशियल भी कर सकती हैं या फिर बर्फ के पानी में गुलाबजल मिला कर कौटन पैड को उस में डुबो कर चेहरे पर मलें.

सूर्य की हानिकारक किरणें हर मौसम में त्वचा को नुकसान पहुंचा सकती हैं. इन से स्किन कैंसर होने तक की संभावना रहती है. इसलिए चाहे बाहर धूप हो या न हो घर से निकलने से पहले चेहरे व अन्य खुले भागों पर एसपीएफ और पीए युक्त सनस्क्रीन लगा कर त्वचा को सूर्य का हानिकारक किरणों से बचाएं.

इस मौसम में स्किन के साथसाथ बाल भी जल्दी चिपचिपे होने लगते हैं. बालों को फ्रैश बनाए रखने के लिए हर दूसरे दिन खुशबू वाले शैंपू से वाश करें. इस मौसम में उमस काफी बढ़ जाती है, जिस कारण बालों में सैटिंग टिकती नहीं और बाल रूखे भी हो जाते हैं. ऐसे में बालों में ऐंटी ह्यूमिडिटी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करें.

इस मौसम में डैंड्रफ के चांस भी बढ़ जाते हैं. इस के उपचार के लिए घरेलू उपाय के तौर पर मेथी के दानों की नीम के पत्तों के साथ पीस लें. अब इस में प्याज का रस मिला कर बालों में लगाएं और थोड़ी देर बाद बालों को धो लें. इस के अलावा अपनी कंघी, तौलिया व तकिया अलग रखें और इन्हें जब भी प्रयोग करें प्रयोग के बाद इन तीनों को किसी ऐंटीसैप्टिक घोल में आधा घंटा डुबो कर रखें और फिर सुखा कर ही दोबारा इस्तेमाल करें.

– इशिका तनेजा, अंतर्राष्ट्रीय एअरब्रश मेकअप ऐक्सपर्ट ऐंड ऐग्जीक्यूटिव डायरैक्टर औफ एल्प्स कौस्मैटिक क्लीनिक

GS-660

CLICK HERE                   CLICK HERE                     CLICK HERE