महिलाओं को यह गलतफहमी होती है कि वे चेहरे पर क्रीम, पाउडर औैर कौस्मैटिक के दूसरे उत्पादों को लगा कर खूबसूरत दिखने लगेंगी. लेकिन ऐसा नहीं है. मेकअप चेहरे के आकार और त्वचा के रंग को ध्यान में रख कर ही करना चाहिए. तभी वह आप को खूबसूरत दिखाने में मदद कर सकता है.

बीते दिनों दिल्ली प्रैस भवन में गृहशोभा की फेब मीटिंग में प्रतिभागियों को मेकअप के इन्हीं गुरों को सिखाने के लिए शिल्पी ब्यूटी सैलून की मेकअप आर्टिस्ट शिल्पी कपूर ने बताया कि मेकअप हमेशा ऐसा होना चाहिए जिस से खूबसूरती निखर कर सामने आए.

गोरी त्वचा का मेकअप

सैशन की शुरुआत हुई फेयर स्किन यानी गोरी त्वचा के मेकअप टिप्स से जिस में शिल्पी ने बताया कि ज्यादातर पेल या फेयर स्किन वाली महिलाओं की त्वचा नाजुक होती है. जरा सी भी ईचिंग या स्क्रैच से उन का चेहरा लाल हो जाता है और उन की त्वचा पर मार्क्स दिखाई देते हैं. इसलिए इस रंग की महिलाओं को अलग तरह के मेकअप की जरूरत होती है.

पेल या फेयर स्किन पर मेकअप के दौरान गलती होने के बहुत चांसेज होते हैं. साथ ही गलत तकनीक से किए गए मेकअप से चेहरा भद्दा लगने लगता है.

रंगों का इस्तेमाल

गोरे रंग या फेयर स्किन पर ब्राइट कलर हमेशा ही अच्छे लगते हैं. इसलिए मेकअप में भी इस बात का ध्यान रखें. फेयर कलर की महिलाओं को मेकअप में हमेशा डार्क और थोड़े चमकीले रंगों का प्रयोग करना चाहिए. वैसे ब्रौंज कलर फेयर कलर वालों पर बहुत खूबसूरत लगते हैं. खासतौर पर होंठों पर गहरे रंग की लिपस्टिक लगानी चाहिए.

फाउंडेशन

कई बार रंग साफ होेने की वजह से महिलाएं मेकअप बेस नहीं बनातीं. लेकिन यह गलत है. फाउंडेशन के इस्तेमाल से त्वचा को स्मूथ बेस मिलता है. साथ ही इस से स्किन टोन भी एक जैसा हो जाता है. यहां एक बात पर ध्यान देना जरूरी है. वह यह कि फेयर कलर वालों को फाउंडेशन चुनते वक्त बहुत सतर्क रहना चाहिए, क्योंकि यदि वे गलत फाउंडेशन का चुनाव करेंगी, तो उन का रंग काला या फिर ग्रे दिखने लगेगा. खासतौर पर रोशनी में गलत फाउंडेशन का असर ज्यादा दिखाई देता है. इसलिए फाउंडेशन लगाने से पहले उसे एक बार त्वचा पर लगा कर टैस्ट कर लेना चाहिए.

आंखों के लिए साधारण मेकअप

गोरे रंग वाली महिलाओं को आंखों का मेकअप जहां तक हो साधारण रखना चाहिए. वैसे तो इन के लिए काजल, आईलाइनर और मसकारा ही पर्याप्त होता है, लेकिन हलके रंग का आईशैडो भी इस्तेमाल किया जा सकता है.

ब्लशर जरूर लगाएं

गालों पर कभी भी ब्लशर का इस्तेमाल करना न भूलें. इस के बिना आप का मेकअप पूरा नहीं होगा. पेल स्किन को खूबसूरत और ग्लोइंग दिखाने के लिए हलके ब्लशर की जरूरत होती है.

सांवली त्वचा का मेकअप

डार्क स्किन यानी सांवली त्वचा वाली महिलाओं को हमेशा इस बात की शिकायत रहती है कि वे अपनी त्वचा की रंगत को निखार नहीं सकतीं. इस के लिए वे बाजार में उपलब्ध बहुत सारे उत्पादों का प्रयोग करती हैं. कभीकभी इस की वजह से वे हीन भावना का शिकार भी होती हैं. लेकिन डार्क स्किन वाली महिलाएं भी मेकअप के जरीए अपनी त्वचा की रंगत को निखार सकती हैं और किसी भी समारोह में अलग दिख सकती हैं. ऐसी त्वचा वाली महिलाओं को मेकअप के दौरान अपनी स्किन टोन का ध्यान रखना चाहिए. इस के अलावा अपने चेहरे से मिलताजुलता कलर लिपलाइनर और ब्लशर का इस्तेमाल कर वे खूबसूरत दिख सकती हैं.

लिक्विड फाउंडेशन करें इस्तेमाल

सांवली महिलाएं मेकअप के लिए लिक्विड फाउंडेशन इस्तेमाल करें, क्योंकि यह त्वचा के रंग से मिल जाता है. यदि आप को अपनी स्किन टोन से मेल खाता हुआ फाउंडेशन नहीं मिलता है, तो आप 2 रंगों के फाउंडेशन को मिला कर अपनी टोन का रंग बना सकती हैं. फाउंडेशन लगाने से पहले चेहरे पर मौइश्चराइजर लगाना न भूलें.

ब्लशर का इस्तेमाल कभीकभी

डार्क स्किन वाली महिलाओं को हमेशा चेहरे पर ब्लशर नहीं लगाना चाहिए. हां, कभीकभार पार्टी आदि में आप इस का प्रयोग कर के एक सुंदर सा लुक पा सकती हैं. चेहरे को ब्लश करने के लिए डीप औरेंज, वाइन या कोरल रंगों का प्रयोग करें.

लिपस्टिक का प्रयोग

सांवली त्वचा वाली महिलाओं को लिपस्टिक का चुनाव भी रंग के हिसाब से करना चाहिए. जिन महिलाओं का रंग डार्क हो उन्हें पेल कलर्स यानी हलके रंगों का प्रयोग नहीं करना चाहिए. अगर आप को लिपस्टिक लगाना पसंद है तो आप डार्क कलर की ही लिपस्टिक लगाएं, जैसे वाइन, रैड, प्लम और ब्राउन आदि रंग आप की सुंदरता निखारेंगे.

आईब्रोज के लिए

ऐसी महिलाओं को मेकअप के दौरान अपनी आइब्रोज को नजरअंदाज बिलकुल भी नहीं करना चाहिए. अपनी आईब्रोज को शेप देने के लिए पैंसिल और पाउडर का प्रयोग करना बेहतर होगा. ये आप की आंखों की खूबसूरती को बढ़ाते हैं.