मौडलिंग और तेलगू फिल्म से अपने अभिनय कैरियर की शुरूआत करने वाली चुलबुली और खुबसूरत अभिनेत्री इलियाना डिक्रूज ने कम समय में दर्शकों का दिल जीता है. बौलीवुड में उन्हें पहला ब्रेक अनुराग बासु की फिल्म ‘बर्फी’ से मिला. फिल्म हिट रही और इलियाना सबकी नजर में आ गयीं. उन्होंने कई अलग-अलग तरह की फिल्मों में काम कर अपना नाम शीर्ष अभिनेत्रियों की सूची में शामिल कर लिया है. जब इलियाना दस साल की थीं, तब उनका परिवार मुंबई से गोवा शिफ्ट हो गया था. उनका बचपन गोवा में व्यतीत हुआ है, इसलिए इलियाना को जब भी समय मिलता है, गोवा जाना पसंद करती हैं. वह कई सालों से रिलेशनशिप में हैं और खुलकर बात करने से नहीं कतराती. अभी उनकी फिल्म ‘रेड’ रिलीज पर है. उनसे मिलकर बात करना रोचक था, पेश है अंश.

इस फिल्म को करने का उत्साह कैसे पैदा हुआ ?

फिल्म ‘बादशाहों’ के दौरान अजय देवगन ने इस फिल्म की कहानी को सुनने के लिए कहा था. जब मैंने सुना, तो कहानी बहुत अच्छी लगी. ये एक अलग तरह की सच्ची कहानी है, जो 80 के दशक की है और स्ट्रोंग है, जिसमें उस समय की महिला को भी बहुत मजबूत इरादों वाली दिखाया गया है. जबकि उस समय जब कोई पुरुष बाहर जाता था, तो कब आयेगा उसकी पत्नी को पता भी नहीं चलता था, इसके बावजूद भी वह किसी भी परिस्थिति में मजबूत हुआ करती थीं, जो काबिले तारीफ है.

ऐसी 3 चीजें जो आपको खुश रखती है?

एंड्रू नीबोंस, जो मेरा बौयफ्रेंड है, इसके अलावा मेरा काम जिसे मैं बहुत पसंद करती हूं और मेरी ये लाइफ जो अब सही चल रही है.

आप अपने पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ को बैलेंस कैसे करती हैं?

ये बहुत कठिन होता है, क्योंकि जब आप फिल्म इंडस्ट्री में काम करते हैं, तो आपको चुनना पड़ता है कि आप कैरियर पर ध्यान देंगे या पर्सनल लाइफ पर. मैंने इन दोनों में हमेशा सामंजस्य बिठाने की कोशिश की है, क्योंकि अगर मैं बैलेंस नहीं करुंगी, तो थोड़े समय बाद क्रेजी हो जाउंगी. मुझे फैमिली के साथ रहना, उन्हें देखना पसंद है. इसलिए जब भी समय मिलता है उनसे मिलने चली जाती हूं. काम भी मेरे लिए बेहद अहमियत रखता है. थोडा कुछ काम करते रहने से भी मैं खुश रहती हूं. कम काम मिलने पर भी मैं व्यस्त नहीं होती. सही काम का मिलना मेरे लिए काफी अहमियत रखता है.

अभी की दो तीन फिल्में लगातार सफल होने के बाद अभी कितना प्रेशर इस फिल्म का है?

मैं किसी भी फिल्म को लेकर अधिक तनाव नहीं लेती. इसमें तो मुझे पता है कि अजय देवगन जैसे बड़े कलाकार मेरे को-स्टार हैं. ये एक अलग वास्तविक फिल्म है, जो किसी भी फिल्म से अलग है. ऐसी फिल्मों को करने में चुनौती बहुत होती है.

80 के दशक के लुक के लिए क्या तैयारियां की है?

मैंने उसके लिए वर्कशौप अटेंड किये हैं. ‘रुस्तम’ फिल्म की स्टाइलिस्ट अमीरा पुनवानी ने मुझे काफी सहयोग दिया. वह लखनऊ की है और वहां के परिधान को जानती है. इसके अलावा अभिनेत्री रेखा के लुक को भी फौलो किया, जो नेचुरल है.

किसी रिलेशनशिप को आप कैसे एक्सप्लेन करेंगी? एंड्रू को पसंद करने की खास वजह क्या है?

हर रिलेशनशिप अलग होता है, मेरे माता-पिता के सम्बन्ध से मैं बहुत प्रभावित हूं, मेरा सम्बन्ध एंड्रू के साथ भी अलग है. आप किसी भी रिश्ते को प्रेडिक्ट नहीं कर सकते. समय के साथ-साथ सामंजस्य करते रहना पड़ता है.

एंड्रू बहुत ही रोमांटिक इंसान है, बहुत अच्छी बातें करता है. वह फिल्मी नहीं, बल्कि रियल है. उसके साथ अगर मुझे काम करने को मिले तो मुझे खुशी होगी.

आप किसे अपना आदर्श मानती हैं? इंडस्ट्री की किस एक्ट्रेस से आप अधिक प्रभावित हैं?

मैं अपनी मां को हमेशा आदर्श मानती हूं. माधुरी दीक्षित और काजोल के अभिनय से मैं बहुत प्रभावित हूं.

एक्ट्रेस होने के नाते क्या आप पर हमेशा अच्छे दिखने का प्रेशर होता है?

इंडस्ट्री ऐसी है कि इसमें आपको सुंदर दिखना पड़ता है और ये प्रेशर नहीं, क्योंकि ये आप पर निर्भर करता है कि आप इसे कैसे लेते हैं. मैं इस पर अधिक विचार नहीं करती. मेरे हिसाब से जिंदगी एक है, इसमें आपको जो खाने की इच्छा हो आप खा लें. मैं फिट रहना चाहती हूं, पर अधिक नहीं सोचती.

अब तक की जर्नी से आप कितनी संतुष्ट हैं?

मैं खुश हूं कि मुझे अभी महिला प्रधान फिल्में अधिक मिल रही है. इंडस्ट्री में ये अच्छा बदलाव आया है कि पहले एक्टर निश्चित करते थे कि हिरोइन कौन होगी? अभी तो एक्ट्रेस बताती है कि हीरो कौन होगा और ये अच्छी बात है.

क्या कोई सामाजिक काम आप करना चाहती हैं?

महिलाओं की सुरक्षा और उनकी शिक्षा पर काम करना चाहती हूं. साथ ही लोगों के माइंड सेट को भी बदलने की जरुरत है.

आप अपनी सुरक्षा पर कितना ध्यान देती हैं?

मैं किसी भी नार्मल कंडीशन में कभी शूट नहीं करती, लेकिन कई बार असुरक्षा की भावना घर पर रहते हुए भी महसूस करती हूं. मसलन मैं अपने घर के बाहर टहल नहीं सकती. इसे बदलने की जरुरत है, क्योंकि इससे कई बार असहजता महसूस होती है.

VIDEO : आप भी पा सकती हैं गुलाबों से भी गुलाबी होंठ

ऐसे ही वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक कर SUBSCRIBE करें गृहशोभा का YouTube चैनल.

Tags: