गृहशोभा विशेष

बौलीवुड में दमदार अभिनय से दर्शकों के बीच खास पहचान बनाने वाली अभिनेत्री दीपिका पादुकोण मशहूर बैडमिंटन खिलाड़ी प्रकाश पादुकोण की बेटी हैं. दीपिका ने अपने कैरियर की शुरुआत मौडलिंग से की थी. 2006 में प्रदर्शित कन्नड़ फिल्म ‘ऐश्वर्या’ से दीपिका ने अपने फिल्मी कैरियर की शुरुआत की. बौलीवुड की पहली फिल्म ‘ओम शांति ओम’ है. इस फिल्म से दीपिका को काफी लोकप्रियता मिली. शाहरुखदीपिका की जोड़ी को दर्शकों ने बेहद पसंद किया. इस फिल्म से दीपिका को कई अवार्ड मिले. इस के बाद फिल्मों के लगातार औफर आने लगे. ‘बचना ऐ हसीनो’, ‘चांदनी चौक टू चाइना’, ‘कार्तिक कौलिंग कार्तिक’, ‘हाउसफुल’, ‘खेले हम जी जान से’, ‘लफंगे परिंदे’, ‘कौकटेल’, ‘चेन्नई ऐक्सप्रैस’, ‘गोलियों की रासलीला रामलीला’, ‘हैप्पी न्यू ईयर’ आदि फिल्में मिलती गईं. कुछ फिल्में औसतन, तो कुछ सुपरडुपर हिट रहीं.

2012 में प्रदर्शित फिल्म ‘कौकटेल’ दीपिका की महत्त्वपूर्ण फिल्मों में गिनी जाती है. इस फिल्म में उन की जोड़ी सैफ अली खान के साथ काफी पसंद की गई. 2013 दीपिका के कैरियर के लिए बेहतरीन वर्ष साबित हुआ. इस साल उन की फिल्म ‘रेस-2’, ‘ये जवानी है दीवानी’, ‘चेन्नई ऐक्सप्रैस’ और ‘गोलियों की रासलीला रामलीला’ आदि फिल्में रिलीज हुईं. सभी फिल्मों ने क्व100 करोड़ से ऊपर कमाई की. 2015 की सब से बड़ी फिल्म ‘हैप्पी न्यू ईयर’ ने तो क्व200 करोड़ का आंकड़ा भी पार कर लिया. यह फिल्म दीपिका के जीवन की अब तक की सब से सफल फिल्म रही.

दीपिका से बात करना रोचक रहा. प्रस्तुत हैं, बातचीत के कुछ अंश:

आप सफल अभिनेत्री मानी जाती हैं, इस बात से कितनी सहमत हैं?

मुझे जो भी प्रोजैक्ट मिलता है. मैं उसे अच्छी तरह करने की कोशिश करती हूं. पर कई बार ऐसा नहीं हो पाता. उतारचढ़ाव आता रहता है. मैं इसे सहजता से लेती हूं.

जब आप ने पहली बार अभिनय करने की मंशा जताई तो परिवार की प्रतिक्रिया क्या थी?

मुझे फिल्मों में नहीं आना था. मैं बैंगलुरु में 12वीं कक्षा में पढ़ती थी. पिता के साथ बैडमिंटन खेलती थी. उसी समय हमारे परिचित ऐड गुरु प्रसाद बेडप्पा ने मेरा फोटो शूट किया. फोटो का रिजल्ट बहुत अच्छा आया था. फिर उन्होंने ही मुझे कुछ विज्ञापनों के औफर भी दिलवा दिए. शौकिया तौर पर काम करतेकरते मुझे अच्छा लगने लगा. एक दिन जब मैं ने पिता से कहा कि मैं फिल्मों में काम करूंगी तो उन्होंने मना कर दिया. उन्होंने कहा कि तुम बैडमिंटन अच्छा खेलती हो. इसी को प्रोफैशन बनाओ. फिर छोटी बहन भी धीरेधीरे इसी में आ जाएगी. तब मैं ने मां को समझाया कि अगर मैं अभिनय में सफल नहीं हो पाई तो वापस स्पोर्ट में आ जाऊंगी. मां ने पिता को राजी कर लिया. मैं अकेली मुंबई आ गई. मेरे पास प्रसाद बेडप्पा का शूट किया पोर्टफोलियो था, जिसे मैं ने सभी प्रोडक्शन हाउस में डाल दिया.  इसी दौरान फराह की निगाह मुझ पर पड़ी और मैं अभिनेत्री बन गई.

आने वाली फिल्में?

बड़ी फिल्म ‘पीकू’ है. जिस में मैं पहली बार अमिताभ बच्चन की बेटी की भूमिका निभा रही हूं. इस के अलावा संजय लीला भंसाली की ‘बाजी राव मस्तानी’ कर रही हूं.