गोवा में भारत के 48 वें अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव की शुरूआत ईरानी फिल्मकार माजिद मजीदी की फिल्म‘‘बियांड द क्लाउड’’ से हुई, जिसे उन्होने भारत में भारतीय कलकारों के साथ ही फिल्माया है. माजिद मजीदी इस फिल्म को दीपिका पादुकोण के ही साथ बनाना चाहते थे. इसके लिए उन्होने दीपिका पादुकोण का औडीशन भी लिया. सब कुछ तय हो गया, उसके बाद अचानक माजिद मजीदी ने दीपिका पादुकोण की बजाय मालविका मोहनन को लेकर यह फिल्म बनायी. तब से कई तरह की अफवाहें गर्म थी.

पर अब गोवा में फिल्म समारोह के ही दौरान माजिद मजीदी ने अपनी फिल्म ‘‘बियौंड द क्लाउड’’में दीपिका पादुकोण को न लेने के लिए उनके स्टारडम को दोषी ठहराया है. मीडिया से बात करते हुए खुद माजिद मजीदी ने कहा-‘‘सेट पर एक बड़े स्टार के साथ हर चीज को समायोजित करना कठिन होता है.

मैंने एक दिन के लिए दीपिका पादुकोण का औडीशन टेस्ट रखा था. उस दिन मैंने महसूस किया कि उनके स्टारडम के चलते काम करना कितना मुश्किल है. उनसे मिलने वालों को तांता लगा हुआ था. उनको लेकर लोगों में अजीब सी उत्सुकता थी. सब कुछ व्यवस्थित करना हमारे मुश्किल हो रहा था.’’

मजीद मीजीदी ने आगे कहा-‘‘मैं अपनी फिल्म की कथा समाज से चुनता हूं. मैं अपनी फिल्म का हीरो लोगों की भीड़ से चुनता हूं. मैं असर नए लोगों के साथ काम करता हूं. इसके यह मायने नहीं है कि मैं स्थापित कलाकारों के साथ काम नहीं करना चाहता. मेरी फिल्म में लोकेशन भी एक पात्र होती है. मैंने अपनी फिल्म‘बियौंड द क्लाउड’ को मुंबई में फिल्माया है, उससे पहले मैं भारत में काफी घूमा. पर अंत में मैने मुंबई को चुना.’’