लगभग पंद्रह दिन पहले हमने हमारी ‘‘सरिता’’ पत्रिका में यहीं बताया था कि गोविंदा किस तरह आत्म-मुग्धता और अहम के चलते अपने करियर के साथ साथ अपनी फिल्म ‘‘आ गया हीरो’’ को डुबाने पर उतारू हैं. हमने उस वक्त लिखा था कि गोविंदा के अभिनय से सजी फिल्म ‘‘आ गया हीरो’’ इतनी खराब है कि कोई भी वितरक इसे वितरित करने को तैयार नहीं है, मगर किसी तरह जुगाड़ कर गोविंदा अपनी इस फिल्म को सत्रह मार्च को देश के आठ सौ स्क्रीन्स में प्रदर्शित करवाने में सफल हो गए. और बॉक्स आफिस के जो परिणाम आए, वे वही हैं, जो पहले से अनुमान लगाए जा रहे थे.

जी हां! गोविंदा की 22 करोड़ रूपए की लागत वाली फिल्म ‘‘आ गया हीरो’’ ने शुक्रवार को पच्चीस लाख रूपए और शनिवार को महज बीस लाख रूपए कमाए. अब हालात यह हो गए हैं कि रविवार के दिन अस्सी स्क्रीन्स से ‘‘आ गया हीरो’’ हटा दिया गया. सूत्रों का दावा है कि सोमवार, बीस मार्च को डेढ़ सौ स्क्रीन्स से फिल्म ‘आ गया हीरो’ को उतार दिया गया. इस तरह की दुर्गति किसी नवोदित या अति छोटे कलाकार की फिल्म की भी इससे पहले कभी नहीं हुई. इस दुर्गति के बाद गोविंदा ने चुप्पी साध रखी है. देखना है कि चुप्पी तोड़ने पर गोविंदा इसके लिए किसे दोषी ठहराते हैं.