यदि सब कुछ सही ढंग से संपन्न हो सका, तो बहुत जल्द मुक्केबाज मैरी कौम का किरदार निभा चुकी अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा सिनेमा के परदे पर पी टी उषा की तरह भागती हुई नजर आएंगी. केरला के पायोली गांव से निकलकर अंतरराष्ट्रीय एथलीट के रूप में सौ से अधिक राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय मेडल जीतते हुए जबरदस्त शोहरत हासिल करने के बाद लंबे समय तक खेल की दुनिया में छायी रहने वाली पी टी उषा ने दावा किया है कि उन्होंने अपनी बायोपिक फिल्म के लिए फिल्मकार रेवती एस वर्मा को इजाजत दे दी है.

यूं तो पी टी उषा 2000 से खुद को प्रतियोगिताओं से अलग कर अपने गांव में एथलीट स्कूल खोलकर प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को प्रशिक्षण दे रही है, पर उनका नाम आज भी लोगों की जुबान पर है. इतना ही नहीं उनके प्रशंसक सिर्फ भारत ही नहीं, बल्कि चीन व रसिया में भी है. 

तमिल फिल्म ‘जून आर’ और मलयालम फिल्म ‘माड दाद’ सहित करीबन सात फिल्में निर्देशित कर चुकी रेवती एस वर्मा अब सौ करोड़ के बजट वाली पी टी उषा की बायोपिक फिल्म का निर्देशन करने जा रही हैं, जिसका नाम होगा ‘पी टी उषा’. इस फिल्म का निर्माण मूलतः अंग्रेजी भाषा में होगा. उसके बाद इसे हिंदी, चाइनीज, रसियन व मलयालम भाषा में डब किया जएगा.

फिल्म ‘पी टी उषा’ में ए आर रहमान का संगीत होगा. जबकि फिल्म की पटकथा हृदय रोग विशेषज्ञ साजिश सरगम लिख रहे हैं.

रेवती एस वर्मा ने मीडिया से बात करते हुए कहा है, ‘‘ पी टी उषा ने दो साल पहले ही मुझे अपने उपर बायोपिक फिल्म बनाने की इजाजत दे दी थी पर मैंने अब तक इस बात को छिपा रखा था क्योंकि मैं इस फिल्म के लिए तैयारी कर रही थी. मैं पी टी उषा की बहुत बड़ी प्रशंसक हूं और उन पर फिल्म बनाने का सपना में पिछले दस वर्षों से देखती आ रही हूं.’’

रेवती एस वर्मा आगे कहती हैं, ‘‘मैं इस फिल्म में ऐसी अदाकारा की तलाश में थी, जो कि केरला व मलयालम फिल्मों से इतर हो. मैंने इस बारे में प्रियंका चोपड़ा से बात की. वह इस फिल्म को करने के लिए काफी उत्साहित हैं. उनका चेहरा भी काफी हद तक पी टी उषा से मिलता है. उनके शरीर की बनावट भी एक खिलाड़ी वाली ही है. तो उनके लिए इस किरदार को निभाना काफी आसान होगा. वैसे अभी तक प्रियंका चोपड़ा ने हमारी फिल्म करने के लिए अंतिम रूप से सहमति नहीं दी है.’’