फिल्म ‘बाजीगर’ से बॉलीवुड में कदम रखने वाली पतली और स्लीक बॉडी की धनी, ‘फिटनेस फ्रीक’ शिल्पा शेट्टी हमेशा से ही हेल्थ और फिटनेस पर ध्यान देती हैं. यही वजह है कि फिटनेस से जुड़ी किसी भी बात पर वह हमेशा आगे रहती हैं. उनकी हाइट अधिक होने की वजह से उनकी और अक्षय कुमार की जोड़ी काफी सराही गयी. वह खाना खूब खाती हैं, लेकिन वर्कआउट भी खूब करती हैं. दिन में एक घंटा समय वह अपने लिए अवश्य देती हैं, जिसमे मेडिटेशन खास होता है.

आई टी सी की फूड नेचुरल की ब्रांड अम्बेसेडर शिल्पा कहती हैं कि मुझे हर मौसम में वर्कआउट करना पसंद है. गर्मियों में मैं खासकर लिक्वीड ड्रिंक्स लेती हूं, जिसमें खासकर नारियल पानी, नीबू पानी, जूस, छास आदि है. जो नैचुरल है और घर पर आसानी से कम शक्कर के साथ बनाया जा सकता है. ये व्यक्ति को एनर्जी देती है और लोग इसे समझने भी लगे हैं.

गर्मियों में पसीने से शरीर से काफी मात्रा में पानी बाहर निकल जाता है, ऐसे में शरीर को हाइड्रेट करते रहना जरुरी है. इतना ही नहीं जो लोग एसी में काफी समय तक गर्मियों में रहते है, उन्हें भी अधिक से अधिक पानी पीना चाहिये.

शिल्पा को अपनी फिटनेस को बनाये रखने के लिए कोई प्रेशर नहीं रहता. काम का प्रेशर अधिक रहता है वह आगे बताती हैं कि काम के बावजूद भी मैं पूरी नीद लेती हूं, सही खाना खाती हूं, जिसमें तरल पदार्थ सही मात्रा में होना आवश्यक है वह केवल पानी नहीं, बल्कि किसी भी फॉर्म में लिक्वीड होना चाहिए.

सुबह की शुरुआत मैं एक गिलास पानी से करती हूं. चीनी खाने में जहर के समान होती है. इसका हमेशा कम प्रयोग सही होता है. मुझे हमेशा एक्टिव रहना पसंद है, समय मिले तो बेटे के साथ भी एक्टिव हो जाती हूं. इसके अलावा ओवर वर्क नहीं करती. शरीर की क्षमता को व्यक्ति खुद ही समझता है,क्योंकि कोई भी मशीन भी अगर अधिक देर तक आप चलाती है, तो वह भी क्रैश हो जाता है. बॉडी की रोगप्रतिरोधक क्षमता को बनाये रखने के लिए सही नियमावली का पालन, खासकर गर्मियों में करनी चाहिए.

शिल्पा को गर्मियों में मेकअप लगाना एकदम पसंद नही. फिल्मों के अलावा दैनिक जीवन में वह केवल सनस्क्रीन और लिप बाम का प्रयोग करती हैं. गर्मियों में बाहर से आकर शावर लेकर वह मॉइस्चराइजर लगाना नहीं भूलती. इससे त्वचा की नमी कम नहीं होती. शिल्पा के केश बचपन से अच्छे हैं, जिसके लिए वह अपने माता-पिता को थैंक्स कहती हैं. वह अपने केशों को ‘सिर का ताज’ कहती हैं, जो हमेशा उनके खूबसूरती को बनाये रखती है. इसे अच्छा रखने के लिए उसे नियमित देखभाल करनी पड़ती है. सप्ताह में एक दिन ऑइल मसाज करवाती हैं और शैम्पू के बाद ब्लो ड्राई करती है. उनके हिसाब से संतुलित भोजन और सही वर्कआउट ही आपकी त्वचा और केशों को सही माइने में पोषण देती है.

शिल्पा हमेशा फिट रहती हैं, बेटा होने के बावजूद उन्होंने बहुत ही कम समय में वापस अपने वजन पर आ गयी. लेकिन कई बार फिल्मों में एक्टर या एक्ट्रेस भूमिका के हिसाब से अपना वजन घटाते और बढ़ाते हैं, ये कितना सही है, क्या आपने कभी ऐसा किया था? पूछे जाने पर शिल्पा कहती हैं कि मुझे ऐसी भूमिका नहीं मिली, लेकिन आजकल कई ऐसे कलाकार हैं जो इस तरह की चुनौतियों को लेना पसंद करते हैं और किरदार को पूरी न्याय देने के लिए वे ऐसा करते है. हेल्थ पर इसका असर अधिक नहीं पड़ता, क्योंकि वे डॉ. की सलाह के अनुसार ही करते हैं. वजन बढ़ाना और घटाना दोनों ही मुश्किल है. अगर वजन बढ़ाया है, तो उसे घटाने के भी कई तरीके है. जो वे ट्रेनर के साथ करते हैं.

शिल्पा आगे बताती हैं कि आजकल की महिलाएं खुद खाना बनाना पसंद नहीं करती, वे बाहर की जंक फूड और रेडीमेड फूड अधिक खाती हैं. मैं मध्यम वर्गीय परिवार में पली बड़ी हुई हूं, मुझे याद आता है, मेरी मम्मी और पापा दोनों ही काम पर जाते थे. इसके बावजूद मम्मी शाम का खाना खुद बनाती थीं. वह अधिकतर शनिवार को बाजार में जाकर अपने हाथों से चुनकर सब्जियां, मांस और मछलियां पूरे सप्ताह के लिए लाकर फ्रीज करती थी. इससे पूरे सप्ताह में हमें चिकन और फिश खाने को मिलता था. हर खाने को वह घी, नारियल तेल और वेजिटेबल ऑइल में पकाती थी. घर का खाना हमेशा सेहत के लिए अच्छा होता है. कामकाजी महिलाएं एकदिन खाना बनाकर फ्रीज कर उसे कई दिनों तक खा सकती हैं, क्योंकि हमारे इंडियन मसालें खासकर हल्दी, मिर्च, पुदीना, नीबू, गरम मसालें आदि में प्रिसर्वेटिव तत्व होते हैं, जो खाने को खराब होने से बचाते हैं.

चुकी ग्लैमर वर्ल्ड में बनावटी लोगों की भरमार है, ऐसे में शिल्पा स्पष्टभाषी है और किसी प्रकार की बनावटी लोगों को पसंद नहीं करती, कई बार उन्हें इसका खामियाजा भी भुगतना पड़ा, पर वह उसका सामना करने से नहीं घबराती. वह जोरदार हंसती हुई कहती हैं कि बनावटी बातें या चीजें देखने या सुनने में अच्छी लगती है, पर उसका असर हमेशा खराब होता है. जितना नैचुरल आप रहेंगे या खाना खायेंगे उतना ही आप स्वस्थ रहेंगे. मैं जैसी हूं वैसी ही रहना पसंद करती हूं. आपको हमेशा खुश रहना चाहिए, इससे लाइफ सिंपल बनती है.