शाइनी आहूजा बी टाउन में जाना माना नाम है. वैसे तो शाइनी आहूजा ने कई हिट फिल्मों में काम किया है लेकिन उन्हें पहली बार पहचान फिल्म गैंगस्टर से मिली थी. बाद में उन्होंने फिल्म वो लम्हे, लाइफ इन अ मेट्रो, हाइजैक, भूलभुलैया,फना और कई बेहतरीन फिल्मों में काम किया.

लेकिन शायद ही आप जानते होंगे जिस गैंगस्टर फिल्म से शाइनी को पहचान मिली थी वो उस फिल्म के लिए दूसरी पंसद थे. फिल्म में दया शंकर के रोल से फेमस होने वाले शाइनी का ये रोल पहले पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर को मिलने वाला था. आइए बताते हैं आखिर क्या था पूरा मामला.

बताया जाता है कि डायरेक्टर महेश भट्ट की साल 2006 में रिलीज हुई फिल्म ‘गैंगस्टर’ असल में रियल गैंगस्टर अबु सलेम की लाइफ पर बेस्ड फिल्म थी. एक रिपोर्ट के मुताबिक इस फिल्म में दया शंकर का रोल पहले पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर को दिया जा रहा था. लेकिन शोएब ने इस रोल को करने से इंकार कर दिया था और इसके बाद दया शंकर के लिए शाइनी आहूजा को चुना गया.

बता दें कि कभी एक साल में 40 से ज्यादा विज्ञापन करने वाले शाइनी ने अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत भी पेप्सी के एक विज्ञापन से ही की थी. कहा जाता है कि शाइनी का फिल्मी करियर शुरू होने के पीछे इन एड फिल्म्स का ही हाथ है. साल 2005 में रिलीज हुई डायरेक्टर सुधीर मिश्रा की ‘हजारों ख्वाइशें ऐसी’ शाइनी आहूजा की पहली फिल्म थी.

कहा जाता है कि ‘हजारों ख्वाइशें ऐसी’ फिल्म में काम करने के लिए 200 लड़कों ने औडिशन दिया था. जिनमें से शाइनी आहूजा को चुना गया था. ये फिल्म हिट साबित हुई थी और इसके बाद तो हिंदी फिल्म निर्देशकों की शाइनी के आगे लाइन लग गयी. इसके बाद ही शाइनी को मुकेश भट्ट की फिल्म गैंगस्टर मिली.