महिलाओं के साहस, सौंदर्य और बहादुरी का जश्न मनाने के लिए मिसेज इंडिया वर्ल्डवाइड 2018 ने एक विशेष ओरिएंटेशन प्रोग्राम के माध्यम से अपने 8वें संस्करण की शुरुआत की. श्रीसाईं एंटरटेनमैंट्स की पहल मिसेज इंडिया वर्ल्डवाइड विवाहित भारतीय महिलाओं के लिए सौंदर्य प्रतियोगिता है. इस का आयोजन खासतौर पर उन महिलाओं के लिए किया जाता है जो पेशेवर मौडल नहीं हैं, ताकि वे फैशन जगत के जानेमाने चेहरे के रूप में नाम कमा सकें और एक पेशेवर व उद्यमी के रूप में अपनी पहचान बना सकें.

ओरिएंटेशन प्रोग्राम में देशभर से आई 100 से अधिक प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया, जिन्होंने सौंदर्य जगत में एक नई यात्रा की शुरुआत की है. प्रतिभागियों को अपने ग्रूमर्स से मिलने का मौका मिला, जो उन के व्यक्तित्व में निखार लाएंगे, प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए उन का आत्मविश्वास बढ़ाएंगे. उद्योग जगत के कई जानेमाने नाम प्रतियोगिता के साथ जुड़े हैं, जैसे सिल्वी रोजर्स-सैलिब्रिटी हेयरस्टाइलिस्ट, लीजा वर्मा-कोरियोग्राफर, रुचिका सोधी-औफिशियल न्यूट्रिशनिस्ट, डा. आजाद-स्किनकेयर स्पैशलिस्ट, शायन सोनी-स्टाइल स्पैशलिस्ट और डा. गीतांजलि वर्मा-औफिशियल स्माइल स्पैशलिस्ट.

मिसेज इंडिया वर्ल्डवाइड 2017 की 3 विजेता भी ओरिएंटेशन में मौजूद थीं, जिन्होंने नई प्रतिभाशाली महिलाओं के साथ अपने अनुभव साझा किए, उन्हें जोश व उत्साह के साथ आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया.

भरत के भरमार, संस्थापक व चेयरमैन, हाट मोंडे इंडिया ग्रुप, ने इस मौके पर कहा, ‘‘विवाहित महिलाओं को सशक्त बनाना इस कार्यक्रम का उद्देश्य है. प्रतियोगिता इन महिलाओं को अपनी प्रतिभा व क्षमता को पहचानने का मौका प्रदान करती है. मिसेज इंडिया वर्ल्डवाइड के 7 वर्षों के दौरान हम ने प्रतिभागियों को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित किया है.’’

फिनाले में चुनी जाने वाली 100 से ज्यादा प्रतिभागियों के लिए ग्रीस दौरे का मौका इस साल का मुख्य आकर्षण है, जहां उन्हें उद्योग जगत के दिग्गज विशेषज्ञ ग्रूम करेंगे. ग्रैंड फिनाले का आयोजन दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में सितंबर माह में किया जाएगा.