फिल्म आंखेंसे अपने अभिनय करियर की शुरुआत करने वाली रितु शिवपुरी अब टीवी शो इस प्यार को क्या नाम दूंमें एक्टिंग कर रही हैं. वह कहती हैं एक्टिंग मेरे खून में है. मैं खुद को स्टार नहीं बल्कि आर्टिस्ट समझती हूं. यह मेरे माता पिता से सीखने को मिला है. मेरे माता पिता सुधा और ओम शिवपुरी ने मुझे यही सिखाया था. जब सीरियल में मुझे निगेटिव रोल औफर हुआ तो मुझे लगा कि पता नही दर्शकों की क्या प्रतिक्रिया होगी. सीरियल देखने के बाद लोगों ने मेरे रोल को जिस तरह से सराहा उससे मुझे बहुत खशी हुई. अगर रोल अच्छा हो तो मैं मेल कैरेक्टर भी कर सकती हूं. अभी भी मुझे आइटम डांस के भी औफर आ रहे हैं’.

स्टार प्लस के सीरियल इस प्यार को क्या नाम दूं में इन्द्राणी की भूमिका निभाने वाली रितु शिवपुरी कहती हैं यह सीरियल उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद शहर पर बना है. इसमें शादीशुदा कपल पर फोकस किया गया है. इसमें लव और हेट दोनों देखने को मिलेगा. इन्द्राणी के रूप में मुझे मेरा कैरेक्टर बहुत षडयंत्र वाला सस्पेंस से भरा दिखाया गया है. इस कैरेक्टर में जीवन के कई रंग दिखाये गये हैं. मैं सौतेली मां का किरदार निभा रही हूं. इसमें एक्टिंग के कई रंग दिखाने का अवसर मिला’.

बड़े पर्दे से छोटे पर्दे के सफर पर रितु शिवपुरी कहती हैं फिल्मों में पहले जो रोल लिखे जाते थे उनमें हीरोइन के लिये बहुत कम अवसर मिलते थे. सीरियल फिल्मों के मुकाबले ज्यादा महिला प्रधान बनते हैं. ऐसे में मुझे यहां काम करने में ज्यादा एक्टिंग दिखाने का अवसर मिल रहा है. वैसे अभी मैं अच्छी भूमिका वाली फिल्में भी कर रही हूं. पुनीत इस्सर के साथ मेरी फिल्म ही मैनआने वाली है. मैं रोल के लिये कभी इधर से उधर नहीं भागती. मैंने अपने दायरे में रहकर काम करना सीखा है. जो लोग मुझे टैलेंटड समझते हैं वह मुझे अच्छे रोल देते हैं’.

शादी के बाद दोबारा एक्टिंग के बारे में रितु शिवपुरी ने कहा शादी के बाद परिवार को समय दिया. मेरे दो जुडुवा बच्चे हैं. अब वह 10 साल के हो चुके हैं. अब वह खुद अपने को संभाल सकते हैं. तब मैंने दोबारा से एक्टिंग में कदम रखा है. मेरे लिये परिवार पहला प्यार है. रितु को ज्वेलरी और इंटीरियर डिजाइन का भी शौक है. वह कहती हैं कुछ समय मैंने ज्वेलरी डिजाइन किया. ज्वेलरी बिजनेस में जिस तरह की चतुराई की जरूरत होती है वह मुझमें नहीं थी इसलिये मैंने उसे छोड दिया. मैं इंटीरियर डिजाइन भी करती हूं. मेरे घर में सोफा से लेकर टेबिल तक मेरा अपना डिजाइन किया हुआ है’.

रितु शिवपुरी को साड़ी का सबसे अधिक शौक है. वह कहती हैं मैंने अपनी शादी में सबसे अधिक साड़ी की ही खरीददारी की थी. उनमें लखनवी चिकनकारी और जरदोजी की साड़ियां सबसे अधिक थी’.

अपनी फिटनेस के विषय में रितु शिवपुरी कहती हैं मैं खाने की बहुत शौकीन हूं. मैं शुरू से ही दिन में कई कई बार खाना खाती थी. उस समय मेरे पापा कहते थे कि एक बार खाया करो. मैं दिन भर खाती थी. अब तो डाइटीशियन भी कहती है कि हर दो घंटे में खाना खाना चाहिये. इस वजह मेरी फिटनेस बनी रहती है’.