गृहशोभा विशेष

क्या??आप भी यह सोच कर परेशान हैं कि आखिर कैसे अपने ऊनी कपड़ों की देखभाल करें. पिछले साल ही तो नया स्वैटर खरीदा था, इस साल उस में रोएं भी आ गए. उफ, यह गरम सूट, इस का तो सारा ग्रेस ही खत्म हो गया. दरअसल, ऊनी कपड़ों को आम कपड़ों से ज्यादा देखभाल की आवश्यकता होती है. तभी ये सालोंसाल साथ निभाते हैं.

धोते समय सावधानी

ऊनी कपड़े आम कौटन या सिंथेटिक कपड़ों की तरह तो होते नहीं कि एक बार पहने और गंदे हो गए. इन्हें जल्दीजल्दी धोना मतलब जल्दी खराब करना है. एक बार पहनने के बाद इन्हें खुली हवा में छोड़ देने से ये दोबारा पहनने लायक हो जाते हैं. यदि सी हिस्से पर दाग लग गया हो तो सिर्फ थोड़ा सा डिटरजैंट लगा कर उसी हिस्से से दाग हटाना बेहतर होता है. इस प्रकार आप के स्वैटर लंबे समय तक नए बने रहेंगे.

ऊनी कपड़ों को धोते समय आपस में न रगड़ें. इस से ऊन के रेशों को नुकसान पहुंच सकता है.

यदि गरम कपड़ों पर रोएं आ गए हों तो उन्हें धोने से पहले हाथ से या कैंची से हटा लें. हलके हाथों से ब्रश मार कर भी इन्हें हटा सकती हैं.

धोने से पहले कपड़ों को 1-2 घंटे अवश्य भिगोएं ताकि इन के सारे रेशे अच्छी तरह भीग जाएं. इस प्रकार कपड़े सिकुड़ते नहीं हैं.

कपड़ों को यदि तौलिए या समतल जगह पर फैला कर सुखा रही हैं, तो थोड़ा स्ट्रैच कर दें, इस से स्वैटर सिकुड़ेगा नहीं.

यदि फ्रंट लोडिंग वाशिंग मशीन है तो बेशक आप इस में स्वैटर धो सकती हैं, वरना कोशिश करें कि टौप लोडिंग व अन्य सैमी आटोमैटिक मशीनों में ऊनी कपड़े न धोएं.

यदि ईजी या ऊनी कपड़े धोने वाला डिटरजैंट न हो तो माइल्ड शैंपू से कपड़े धोएं, पर आम डिटरजैंट का प्रयोग कभी न करें.

ऊनी कपड़ों को जल्दीजल्दी धोने के बजाय उन्हें स्टीम वाश करें. इस के लिए कपड़ों को बाथरूम में टांग दें. सर्दियों में नहाने के लिए जब आप गरम पानी का प्रयोग करेंगे तो उस की स्टीम से भीग कर कपड़ों से हलकीफुलकी गंदगी दूर हो जाती है.

यदि ऊनी कपड़ों पर कोई दाग नहीं लगा है तो इन्हें 1 बार सिर्फ पानी से ही धोना काफी रहता है. इस से कपड़ों की ऊपरी सतह पर मौजूद धूलमिट्टी के कण निकल जाते हैं.

जब स्वैटर सिकुड़ जाए

ऊन का यह गुण होता है कि यदि यह गरम पानी में भीग जाए तो इस के रेशे आपस में उल?ा जाते हैं, जिस कारण यह सिकुड़ कर छोटा हो जाता है. इसे ठीक करने के लिए स्वैटर को हलके कुनकुने पानी में माइल्ड डिटरजैंट के साथ 10 मिनट तक भिगो कर रख दें, ताकि आपस में उल?ो रेशे खुल जाएं. फिर इसे छायादार स्थान पर किसी तौलिए पर फैला दें और स्ट्रैच कर के इस के सामान्य साइज तक ले आएं. फिर स्वैटर को तौलिए पर ही सूखने दें. सूखने पर आप का स्वैटर पुरानी शेप में वापस आ जाएगा.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं