पूरी जिंदगी आप नौकरी करती हैं कि आप और आपका परिवार सुकून से रह सके. किसी चीज की कमी ना हो और जीवन आराम से बीते. पर नौकरी के बाद क्या? उसके बाद तो आपको आराम चहिए. खुद के लिए वक्त चहिए. और ऐसे इंवेस्टमेंट चहिए जो आपकी आराम भरी जिंदगी में परेशानी ना आने दे. ऐसे में हम आपको बताएंगे वो तमाम इंवेस्टमेंटस जो आपके रिटायरमेंट के बाद भी आपका ख्याल रखेंगे. आइये जानते हैं उन विकल्पों के बारे में-

फिक्स्ड डिपौजिट (एफडी) – रिटायरमेंट के बाद निश्चित आय के लिए एफडी एक अच्छा, सुरक्षित और सुविधाजनक विकल्प है. रिटायर लोगों के लिए एफडी एक निश्चित रिटर्न देती है. बता दें कि अलग अलग बैंकों में एफडी पर मिलने वाले ब्याज की दर अलग-अलग होती है.

सीनियर सिटीजन सेविंग्स स्कीम –  अगर आपकी उम्र 60 साल से ज्यादा है तो आप ये निवेश कर सकती हैं. इसके अलावा अगर किसी कर्मचारी ने वौलेन्टरी रिटायरमेंट सर्विस ली है तो वे 55 साल की उम्र से इसमें निवेश कर सकते हैं. इसमें एक व्यक्ति 15 लाख रुपये तक का अधिकतम निवेश कर सकता है.

पोस्ट औफिस मंथली इनकम स्कीम – इस दिसंबर में खत्म होने वाली तिमाही में इस स्कीम पर 7.7 फीसद की दर से ब्याज मिल रहा है. इसमें सिंगल अकाउंट पर अधिकतम 4.5 लाख रुपये और ज्वाइंट अकाउंट में 9 लाख रुपये का निवेश किया जा सकता है. इसका मैच्योरिटी पीरियड 5 साल का है.

 म्युचुअल फंड – म्यूचुअल फंड निवेश के लिए एक जबरदस्त विकल्प है. म्यूचुअल फंड को इक्विटी की जानकारी रखने वाले एक्सपर्ट्स द्वारा मैनेज किया जाता है. जानकारों का कहना है कि म्युचुअल फंड से सिस्टेमैटिक विड्रावल प्लांस (एसडब्ल्यूपी) के माध्यम से आय का निश्चित स्त्रोत बना रहेगा.

 

Tags:
COMMENT