गृहशोभा विशेष

खास त्योहारों पर बनाई जाने वाली फिरनी अब खाने के बाद की सब से ज्यादा पसंद की जाने वाली मीठी डिश बन गई है. छोटेबड़े सभी किस्म के होटलों और रेस्त्राओं में इस को बनाया जा रहा है.

फिरनी एक मीठा व्यंजन है. इसे बहुत ही कम समय में बनाया जा सकता है. चावल की खीर की जगह यह खाने में बहुत अलग होती है. फिरनी खाने में जितनी स्वादिष्ठ लगती है, इसे बनाना उतना ही आसान है.

बच्चों को भी ये डिश बहुत पसंद आती है. फिरनी पंजाबी लोग बहुत पसंद करते हैं. अब यह धीरेधीरे हर जगह के लोगों को पसंद आने लगी है. जिस समय नया चावल बाजार में आता है, उस समय बहुत सारे लोग खुशी में फिरनी बनाते और खाते हैं. अलगअलग स्वाद के लिए कभी पिस्ता फिरनी, तो कभी मैंगो फिरनी भी तैयार की जाती है. इस से फिरनी के साथ मेवों और ताजा फलों के स्वाद का भी एहसास मिलता है.

लखनऊ के गोमतीनगर इलाके में चल रहे करीम रेस्त्रां में फिरनी को बहुत ही अच्छी तरह से बनाया जाता है. अनुराग सिंह और श्वेता सिंह बताते हैं कि वैसे यहां आने वाले करीम के नानवेज व्यंजन सब से ज्यादा पसंद करते हैं. खाने के बाद मिठाई के रूप में फिरनी लोगों को खूब पसंद आती है. फिरनी को मिट्टी की छोटी सी कटोरी में रख कर दिया जाता है. जो खाने के स्वाद को और भी बढ़ा देती है.

खाने से पहले इसे फ्रिज में रख कर ठंडा किया जाता है. फिरनी में पड़े मेवे इसे और भी खास बना देते हैं. खोए की जगह इस में दूध का इस्तेमाल किया जाता है. ऐसे में यह अलग किस्म का स्वाद देती है, जो ताजगी का एहसास कराता है.

फिरनी बनाने की सामग्री

फुल क्रीम दूध 1 लीटर

चावल 100 ग्राम

चीनी 1 मध्यम कटोरी,

काजू 50 ग्राम

बादाम 50 ग्राम किशमिश 25 ग्राम

छोटी इलायची 2

पिसा नारियल 20 से 30 ग्राम

विधि

फिरनी बनाने के लिए सब से पहले चावल को 30 मिनट के लिए भिगो कर रख दें. दूध को उबाल कर थोड़ा गाढ़ा कर लें और उस में चीनी डाल कर धीरेधीरे मिलाएं. काजू, बादाम को छोटेछोटे टुकड़ों में काट लें.

अब उबलते हुए दूध में काजू, बादाम, छोटी इलायची, किशमिश और पिसा नारियल डाल दें. इस में पिस्ता और केसर भी डाल सकते हैं.

सब कुछ डालने के बाद दूध को अच्छे से मिला लें और दूध को उबलने दें. अब जो चावल भिगो कर रखा था, उसे थोड़ा सा पानी डाल कर पीस लें. पिसे हुए चावल को दूध के मिक्सचर में धीरेधीरे डालें, ध्यान रखें कि इसे लगातार चलाते रहें, नहीं तो इस में गांठ पड़ जाएगी.

जब दूध गाढ़ा हो जाए, तो गैस की आंच बंद कर दें. ध्यान रखें, फिरनी सूखे नहीं. अब फिरनी को थोड़ा ठंडा होने दें. जब फिरनी ठंडी हो जाए, तो बाउल में डाल कर काजू, किशमिश, बादाम और पिसे गोले से सजा दें. अब इस बाउल को 5 से 10 मिनट के लिए फ्रिज में ठंडा होने के लिए रख दें. जब फिरनी ठंडी हो जाए, तो सर्व करें. फिरनी को ठंडा ही खाया जाता है. अगर फिरनी ज्यादा सूख जाए, तो इसे पतला करने के लिए ठंडा दूध डाल कर मिला लें.

फिरनी के फायदे

चावल में कार्बोहाइड्रेट होता है, जो इंस्टेंट एनर्जी देता है. फिरनी में काजू डालते हैं, जो शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है. काजू दिल के मरीजों के लिए बहुत फायदेमंद होता है. काजू ब्लडप्रेशर को कम करने में मदद करता है. काजू हमारी हड्डियों को मजबूत बनाता है. काजू वजन कम करने में मदद करता है. ऐसे में फिरनी खाने से शरीर को लाभ होता है. यह दूसरी मिठाइयों की तरह नुकसान नहीं करती है.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं