गृहशोभा विशेष

गर्मियों में मच्छर आते हैं पर इनदिनों हर जगह इनका प्रकोप कुछ ज्यादा ही बढ़ गया है. हर कोई मच्छरों से परेशान है. लेकिन मच्छरों से बचकर रहना बेहद जरूरी है. इनसे कई तरह की बीमारियों के होने का खतरा होता है. मलेरिया, डेंगू, इन्सेफलाइटिस सहित कई ऐसी बीमारियां हैं जो मच्छरों के काटने की वजह से होती हैं.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक हर साल मच्छरों के काटने से होने वाले रोगों से तकरीबन 1 मिलियन लोगों की जान चली जाती है. ऐसे में मच्छरों से अपना बचाव करने को लेकर सचेत रहें. आज हम आपको मच्छरों के काटने से होने वाली कुछ बीमारियों के बारे में बताने वाले हैं ताकि आप उनसे अपना बचाव कर सकें और स्वस्थ रह सकें

मलेरिया

एनाफिलीज मच्छरों के काटने से मलेरिया रोग होता है. इसका प्रमुख कारण पैरासाइट प्लास्मोडियम है. बुखार, सिरदर्द और उल्टी इस रोग के प्रमुख लक्षणों में शामिल हैं. समय रहते अगर मलेरिया का इलाज न करवाया जाए तो यह जानलेवा हो सकता है.

डेंगू

मादा एडीज मच्छरों के काटने से डेंगू रोग होता है. तेज बुखार, सिरदर्द, हड्डियों और मांसपेशियों में दर्द, नाक और गले से खून आना आदि इसके लक्षण हैं. मच्छरों के काटने से होने वाली जानलेवा बीमारियों में यह सबसे घातक बीमारी है. इसलिए जितना हो सके इससे खुद का बचाव करें.

जीका बुखार

यह एडीज प्रजाति के ही मच्छरों के काटने से फैलता है. इसमें बुखार और जोड़ों में दर्द जैसे लक्षण दिखाई पड़ते हैं.

चिकनगुनिया

इसमें तेज बुखार, जोड़ों में दर्द, सिरदर्द आदि लक्षण दिखाई देते हैं. एडीज एजिप्टी तथा एडीज एल्बोपिक्टस मच्छरों के संक्रमण से यह वायरल बीमारी होती है.

लिम्फेटिक फाइलेरिया

यह भी मच्छरों के काटने से होने वाला एक रोग है. इसमें हमारे लिम्फेटिक सिस्टम को काफी नुकसान पहुंचता है. ऐसा होने पर बार-बार संक्रमण के हमलों का खतरा बढ़ जाता है.

जापानी इन्सेफेलाइटिस

जापानी इन्सेफेलाइटिस वायरस हमारी नर्व्स सिस्टम, दिमाग और स्पाइनल कोर्ड पर हमला बोलता है. यह मच्छरों के काटने से होने वाली जानलेवा बीमारियों में से एक है.

VIDEO : टिप्स फौर लुकिंग ब्यूटीफुल एंड अट्रैक्टिव

ऐसे ही वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक कर SUBSCRIBE करें गृहशोभा का YouTube चैनल.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं