गृहशोभा विशेष

मैं ने सुना है कि यदि शादी से पहले लड़की किसी लड़के से शारीरिक संबंध स्थापित कर ले तो विवाह के बाद उस के पति को पता चल जाता है कि लड़की कुंआरी नहीं है, अर्थात उस का किसी से शारीरिक संबंध रहा है. मैं जानना चाहती हूं कि पति को यह कैसे पता चल जाता है? कृपया मुझे जवाब मेरे मोबाइल पर मैसेज कर दें.

लड़कियों की योनि में एक झिल्ली होती है, जो प्रथम समागम के दौरान फट जाती है. इस से थोड़ा रक्तस्राव होता है और हलकी सी पीड़ा भी होती है. पहले प्रथम सहवास के समय रक्तस्राव न होने को इस बात का प्रमाण माना जाता था कि युवती का कौमार्य भंग हो चुका है. लेकिन आजकल लड़कियों के साइकिल चलाने, गिरने या और किसी वजह से भी कौमार्य झिल्ली फट सकती है.

इस के अलावा कुंआरी युवतियों के यौनांगों में कसावट होती है पर यदि युवती विवाहपूर्व किसी से अवैध संबंध बना चुकी हो तो यौनांग की कसावट खत्म हो जाती है, जिस से पता चल जाता है कि युवती शारीरिक संबंधों की अभ्यस्त है.अगर पति को ऐसा अंदेशा हो जाए तो उन का वैवाहिक जीवन प्रभावित हो सकता है.

अत: विवाहपूर्व ऐसे अनैतिक संबंध बनाने से यथासंभव बचने की सलाह दी जाती है.जहां तक मोबाइल फोन पर आप के प्रश्न का उत्तर देने की बात है तो हम पहले भी कई बार अपने पाठकों को बता चुके हैं कि उन के प्रश्नों के उत्तर सिर्फ गृहशोभा में ही प्रकाशित किए जाते हैं. मैसेज द्वारा संभव नहीं.

मैं 20 वर्षीय विवाहिता हूं.4 महीने पहले मैं ने एक बेटे को जन्म दिया था. बच्चे को कोई हार्ट प्रौब्लम थी और उस का पेट भी सामान्य से बड़ा था. शायद इसीलिए औपरेशन से प्रसव होने के 13 घंटों के बाद ही मेरे बेटे की मृत्यु हो गई. प्रसव से पूर्व सब कुछ ठीक था अर्थात प्रसवावस्था में मुझे कोई समस्या नहीं थी. फिर मेरे बच्चे के साथ ऐसा क्यों हुआ? मैं बहुत दुखी रहती हूं.

एक मां 9 महीने तक जिस शिशु को अपने गर्भ में रखती है, जिस के लिए कष्ट सहती है, उसे अपनी गोद में लेने और उस पर अपनी ममता लुटाने के सपने देखती है. पर जब उस सपने को यों ठेस पहुंचती है तो मायूस होना लाजिम है. आप को स्वयं को इस दुख से उबारना होगा. साथ ही अपने स्वास्थ्य का भी ध्यान रखना होगा. अभी आप की उम्र बहुत कम है. आप थोड़े अंतराल के बाद किसी स्त्रीरोग विशेषज्ञा की देखरेख में दोबारा गर्भधारण कर सकती हैं.

मेरी सगाई हो चुकी है.6 महीने बाद शादी है. होने वाले पति का घर सुखीसंपन्न है. पर एक बात के लिए मैं मुश्किल में हूं. मंगेतर शादी पूर्व ही शारीरिक संबंध के लिए जोर दे रहा है. मैं विवाहपूर्व यह सब नहीं चाहती, मगर मंगेतर का कहना है कि विवाह तय हो चुका है तो खतरा किस बात का है? मंगेतर मिलने बुलाता है तो डर लगता है. मैं क्या करूं?

विवाहपूर्व शारीरिक संबंध के कई खतरे हैं. भले ही आप लोगों की शादी तय हो चुकी है पर फिर भी मंगेतर की जिद पर आप उन्हें समझाएं कि मात्र 6 महीने ही तो शेष हैं, जो जल्दी ही बीत जाएंगे. इस से पूर्व संबंध बनाना उचित नहीं है. इस के अलावा विवाह को ले कर वरवधू में एक रोमांच होता है, वह विवाहपूर्व संबंध स्थापित कर लेने से जाता रहेगा. समझदारी से काम लेंगी तो मंगेतर मान जाएंगे.

मैं विवाहित युवती हूं. हमारे विवाह को अभी सिर्फ 1 साल हुआ है. मेरे पति कहते हैं कि सहवास करते समय उन्हें किसी प्रकार की आनंदानुभूति नहीं होती. बताएं मैं क्या करूं? मेरी तो कुछ समझ में नहीं आता.

आप सहवास करने से पहले परस्पर प्रेमालाप करें. समागम से पहले एकदूसरे की कामोत्तेजना बढ़ाने के लिए चुंबन, आलिंगन आदि कामक्रीडाएं यानी फोरप्ले करें. इन रतिक्रीडाओं से आप दोनों की ही कामोत्तेजना में वृद्धि होगी. उस के बाद जब आप सहवास करेंगे तो यकीनन आप दोनों को आनंदानुभूति होगी.

मेरे मित्र की शादी को करीब 2 वर्ष हो चुके हैं. उन पतिपत्नी के बीच कोई सैक्स संबंधी समस्या है. इस कारण मित्र बहुत परेशान रहता है. घर में कोई अन्य महिला नहीं है, जिस से उस की पत्नी राय ले सके. कृपया आप मुझे किसी यौन विशेषज्ञ का नाम पता या ईमेल आईडी बताएं ताकि मैं अपने मित्र को उन से राय लेने भेज सकूं?

आप के मित्र या उस की पत्नी को कोई सैक्स संबंधी समस्या है यह बात आप दावे के साथ कैसे कह सकते हैं जबकि आप के मित्र ने इस बाबत आप से कोई जिक्र नहीं किया? फिर भी अगर आप को लगता है कि उन्हें किसी यौन विशेषज्ञ से परामर्श करना चाहिए तो आप गूगल से सर्च कर के किसी स्थानीय सैक्स स्पैशलिस्ट का पता उन्हें दे सकते हैं और अपने मित्र को पत्नी सहित उन के पास भेज सकते हैं. लेकिन ऐसा तभी करें जब आवश्यक हो. कहीं अपने अति गोपनीय संबंधों में आप की इस दिलचस्पी को वे अन्यथा न ले लें यानी उन की भलाई करतेकरते आप के अपने मित्र के साथ संबंध बिगड़ न जाएं.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं