गृहशोभा विशेष

कुछ भी ठंडा या गर्म खाने पर दांतों में झनझनाहट होना, खट्टा या मीठा लगने पर सेंसेशन होना जैसी समस्याओं को ही दांतों की  सेंसिटिविटी कहते हैं. उम्र के साथ दांतों से जुड़ी कई समस्याएं हो जाती हैं और मसूड़ों की पकड़ कमजोर हो जाती है. कई बार दांतों की सड़न भी सेंसिटिविटी का कारण हो सकती है.

सेंसिटिविटी  में फायदा पहुंचाने वाले टूथपेस्ट और दूसरे उपायों के विज्ञापन तो हम हर रोज देखते हैं लेकिन इनका असर कुछ देर तक ही रहता है. ऐसे में बेहतर होगा कि आप घरेलू उपाय अपनाएं. इन उपायों को अपनाने से किसी तरह का नुकसान नहीं होता है और इनका असर भी लंबे समय तक बना रहता है.

इन घरेलू उपायों को अपनाने से होगा फायदा:

1. दिन में दो बार एक-एक चम्मच काले तिल को चबाने से सेंसिटिविटी में फायदा होता है.

2. तिल, सरसों का तेल और नारियल का तेल एक-एक चम्मच करके अच्छी तरह मिला लें. अब इस तेल से दांतों और मसूड़ों की मसाज करें. उसके बाद गुनगुने पानी से मुंह साफ कर लें. कुछ दिन ऐसा करने पर आपको खुद ही फर्क नजर आने लगेगा.

3. नमक और सरसों के तेल से मसाज करना भी फायदेमंद होता है. आप चाहें तो सिर्फ सरसों के तेल से भी दांतों और मसूड़ों की मसाज कर सकते हैं.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं