कई बीमारियों के लिए दवाइयों पर निर्भर रहना ठीक नहीं होता. कई ऐसे प्राकृतिक तरीके होते हैं जिनके प्रयोग से आप अपनी कई बीमारियों का इलाज घर बैठे कर सकती हैं. इनकी खास बात है कि ये असरदार तो होते ही हैं, साथ में इनका कोई साइड इफेक्ट नहीं होता. कुछ ऐसी ही तुलसी के पत्तों से जुड़ी जानकारियां हम आपके लिए ला रहे हैं. इस खबर में हम आपको बताएंगे कि तुलसी के पत्तों को दूध में डाल कर इस्तेमाल करने से आप किन किन रोगों का इलाज कर सकती हैं.

फ्लू

अगर आपको फ्लू हो गया हो, तो तुलसी और दुध को मिला कर पीने से आप जल्दी ठीक होंगी.

ह्रदय के लिए है लाभकारी हृदय

जिन लोगों को हृदय रोग है उनके लिए तुलसी का पत्ता और दूध किसी प्रभावशाली दवा से कम नहीं है. ऐसे मरीजों के लिए ये काफी फायदेमंद है.

तनाव में है लाभकारी

इस पेय को पीने से नर्वस सिस्टम अच्छा रहता है इससे व्यक्ति का तनाव कम होता है. डिप्रेशन के मरीजों के लिए ये महत्वपूर्ण इलाज है.

गलाए किडनी का स्‍टोन

किडनी के स्टोन में ये पेय काफी लाभकारी है. जिन्हें ये परेशानी है उन्हें तुरंत तुलसी और दूध का सेवन शुरू कर देना चाहिए. जल्दी ही फायदा दिखेगा.

कम करे कैंसर का खतरा

तुलसी में कई एंटीबायोटिक गुण होते हैं साथ ही ये एक जबरदस्त एंटीऔक्‍सीडेंट भी है. वहीं दूध में सारे अन्‍य पोषक तत्‍व होते हैं जिसकी वजह से कैंसर जैसी घातक बीमारी, शरीर के कमजोर न होने की स्थिति में पनप नहीं पाती है.

Tags:
COMMENT