गृहशोभा विशेष

महिलाएं आज हर क्षेत्र में कामयाबी हासिल कर रही हैं. उन के लिए किसी भी क्षेत्र में सफलता हासिल करना मुश्किल नहीं है. सिर्फ यही नहीं बल्कि वे यह भी जानती हैं कि उन के परिवार का काफी बिजी शैड्यूल है ऐसे में अगर खानपान में लापरवाही बरती गई तो आगे चल कर समस्या खड़ी हो सकती है. इसलिए उन की यही कोशिश रहती है कि उन्हें जो भी परोसा जाए वह पौष्टिकता से भरपूर हो.

उन के इसी प्रयास में दिल्ली प्रैस ने गत 26 अप्रैल, 2018 को आईटीसी द्वारा आशीर्वाद इवैंट का आयोजन वसुंधरा के न्यू दिल्ली अपार्टमैंट में किया गया, जिस में बड़ी संख्या में महिलाओं ने भाग लिया.

इवैंट की शुरुआत ऐंकर अंकीता मंडल ने आशीर्वाद आटे के गुणों पर प्रकाश डालते हुए की. फिर उन्होंने रोटी मेकिंग की ऐक्टिविटी के लिए 3 महिलाओं को बुलाया जिन्हें आटा दे कर रोटी बनाने को कहा गया. इस ऐक्टिविटी का मकसद यह था कि कौन से आटे से बनी रोटी सौफ्ट बनती है. इस में विजेता वही रोटी रही जो आशीर्वाद सलैक्ट आटे से बनी हुई थी.

इस के बाद सैफ संतु मैटी ने बताया कि उन्होंने खुद आशीर्वाद आटे की खूबियों को जाना है और यह सच में बाकी आटे से काफी बैस्ट है. फिर उन्होंने आशीर्वाद शुगर रिलीज कंट्रोल आटे से क्रमबल बनाना सिखाया जो लो शुगर होने के साथ काफी पौष्टिक भी था और प्रेजैंटटेशन इतनी अच्छी कि हर किसी का खाने को दिल करे.

सैफ सैशन के बाद न्यूट्रिशनिस्ट डा. संगीता ने बताया कि आज हमारे खानपान की वजह से हम खुद को फिट नहीं रख पा रहे हैं. ऐसे में जरूरत है कि सही चीजें सही मात्रा में खाएं और इस के लिए आप सब से पहले आशीर्वाद मल्टीग्रेन आटे को अपने खानपान में शामिल करें. इस से आप को कई ग्रेंस एक साथ खाने को मिल जाएंगे जो आप को स्वस्थ रखने का काम करेंगे.

इतने जानकारीवर्धक सैशन के बाद मल्टी टास्किंग दीवा प्रतियोगिता के लिए 2 महिलाओं को बुलाया गया. इस में अव्वल रहीं अंजना दत्त और द्वितीय स्थान हासिल किया पूनम बबर ने. इस राउंड को सभी ने खूब ऐंजौय किया.

इस के तुरंत बाद पौपुलर दीवा प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिन्हें आशीर्वाद सलैक्ट आटे के साथ कुछ सामग्री दी गई. प्रतिभागियों को औन द स्पौट अपनी क्रिएटिविटी दिखाते हुए डिश बनाने को कहा गया जिस में हैल्दी डिश बना कर सीमा गुप्ता ने प्रथम पुरस्कार जीता व मनोहर गुप्ता ने द्वितीय स्थान हासिल किया.

फिर रैसिपी विनर्स की घोषणा की गई. आटा चौकलेट केक बना कर प्रतिभा ने सांत्वना पुरस्कार जीता. तृतीय पुरस्कार की विजेता रहीं आटा कुकीज बनाने वाली दीपिका माहेश्वरी. वहीं आटा जवे बना कर द्वितीय पुरस्कार जीता रश्मी गुप्ता ने. मेथी थेपला बना कर लीना ने प्रथम पुरस्कार जीता. अंत में सभी को गुडी बैग्स दिए गए.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं