आजकल की भाग-दौड़ भरी लाइफ में अनयिमित माहवारी होना बिल्‍कुल ही आम बात हो चुकी है. अचानक वजन बढ़ना या फिर कम होना, स्‍मोकिंग करना, कॉफी,दवाइयां और खराब खान-पान की वजह से यह समस्‍या पैदा होती है. भावनात्मक तनाव भी आपके शरीर में हार्मोन में परिवर्तन, आपकी माहवारी को अनियमित बनाने के लिए कारण हो सकता है.

किसी महीने में माहवारी हुई तो किसी महीने में टल गई, ऐसे में शरीर को भी नुकसान होता है. आइये जानते हैं कि अनियमित महावारी से बचने के लिये प्राकृतिक रूप से कौन-कौन से तरीके हैं.

टिप्‍स जो करे पीरियड को रेगुलर –

  1. इस समस्‍या को ठीक करने के लिये सहिजन,तरोई, सफेद कद्दू, तिल का बीज और करेला का नियमित सेवन करें. रोजाना दिन में दो बार करेले की जड़ का काढा पीजिये और देखिये कि यह प्राकृतिक तरीके से कैसे ठीक हो जाता है.
  2. कब्‍ज पैदा करने वाले खाद्य पदार्थ से दूर रहें खास कर के महावारी के आखिरी चक्र में. खट्टे खाघ पदार्थ,फ्राइड फूड और प्रोटीन से भरी दालों का सेवन ना करें.
  3. अपनी डाइट में मछली का प्रयोग करें क्‍योंकि इसमें ओमेगा3 फैटी एसिड होता है जो कि मासिक चक्र के दौरान बहुत ही लाभकारी होता है.
  4. बैंगन,मीट, पीला कद्दू और आलू को पीरियड्स शुरु होने के एक हफ्ते पहले ना खाएं.
  5. सौंफ खान से पीरियड्स टाइम पर आते हैं. यहां तक की तिल का तेल भी बहुत ही लाभकारी होता है. मासिक चक्र शुरु होने के एक हफ्ते पहले सौंफ का बना काढा लें.
  6. तिल के बीज को जीरा पाउडर और गुड के साथ मिला कर खाएं. इससे पीरियड टाइम पर होगा.
  7. रोजाना अंगूर का जूस पीने से भी आपको अनियमित महावारी से मुक्‍ती मिलेगी.
  8. रोजाना व्‍यायाम करें जिससे शरीर का टंपरेचर सामान्‍य बना रहे और अनियमित महावारी कंट्रोल में रहे.
  9. कच्‍चा पपीता खाइये. यह एक प्राकृतिक तरीका है जो कि ज्‍यादातर महिलाएं पीरियड को टाइम पर लाने के लिये और प्रेगनेंसी से मुक्‍ती पाने के लिये करती हैं.