आजकल हर न्यूजपेपर, टीवी चैनल, इंटरनैट, मैगजीन आदि में वजन कम करने की तमाम तरह की दवाओं के विज्ञापन छपते हैं. उन के साथ ही इन्हें इस्तेमाल करने वालों के अनुभव भी बताए जाते हैं और दवा लेने के पहले के और बाद के फोटो भी दिखाए जाते हैं. मनी बैक जैसे औफर भी दिए जाते हैं. इन विज्ञापनों को देख कर लोग जल्द से जल्द वजन घटाने के लिए इन दवाओं का सेवन शुरू कर देते हैं. परंतु ये दवाएं उन के शरीर को फायदा कम नुकसान ज्यादा पहुंचाती हैं. आइए, जानते हैं कैसे:

स्थायी समाधान नहीं

क्लीनिकल डाइटीशियन के अनुसार, वजन कम करने वाली कुछ दवाओं से शरीर का ‘बेसल मैटाबौलिक रेट’ बढ़ा कर वजन कम हो जाता है. लेकिन यह स्थायी समाधान नहीं होता, क्योंकि जैसे ही दवा का सेवन बंद करते हैं वजन फिर से बढ़ जाता है.

दरअसल, खाना खाने से हमारे शरीर को ऐनर्जी मिलती है. ऐसे में अगर कोई दवा हमारे खाने को शरीर में जज्ब होने से रोकती है, तो वह हमारे शरीर के लिए नुकसानदायक है. वजन कम करने वाली सभी दवाएं यही काम करती हैं. कई बार तो इन का असर उलटा भी हो जाता है. इसलिए वजन घटाने के लिए इन दवाओं का सेवन कभी नहीं करना चाहिए.

सुरक्षित नहीं

वजन कम करने की चाहत में लोग इन दवाओं का सेवन करते हैं, लेकिन सिर्फ गोलियां खा कर वजन कम नहीं हो सकता है. ये एक सीमा तक ही काम करती हैं. इन के साइड इफैक्ट्सके कारण वीकनैस, गुस्सा आना, लो ब्लडप्रैशर, केशों का झड़ना, ज्यादा भूख लगना, डिप्रैशन जैसी समस्याएं पैदा होने लगती हैं.

आजकल वजन कम करने वाली ऐलोपैथिक, आयुर्वेदिक और होम्योपैथिक सभी किस्म की दवाएं मार्केट में उपलब्ध हैं. लेकिन सच यह है कि तमाम दावों के बावजूद ज्यादातर दवाएं सुरक्षित नहीं हैं.

कैसे बनाएं सुडौल काया

सही डाइट व जीवनशैली में सुधार के साथसाथ कुछ अन्य उपाय भी हैं, जिन्हें अपना कर आप अपनी फिगर को सुडौल बना सकती हैं. इस में दोराय नहीं कि स्लिमट्रिम होने के लिए जितनी मेहनत करनी पड़ती है, उतनी ही कीमत भी चुकानी पड़ती है. बाजार में ऐसे भी कई उत्पाद उपलब्ध हैं, जिन का इस्तेमाल सरल है व सुडौल काया पाने में असरकारक भी. उन में से एक है स्लिमिंग औयल. यह अगर किसी ब्रैंडेड कंपनी का हो और प्राकृतिक तत्त्वों से बना हो तो इस के नियमित इस्तेमाल से सैल्युलाइट घटता है और त्वचा में कसाव बढ़़ता है. फलस्वरूप शरीर स्वस्थ व सुडौल बनता है. मगर इस्तेमाल से पहले जरूरी है कि यह तसल्ली कर लें कि आप की त्वचा पर इस का कोई साइड इफैक्ट तो नहीं होगा.

सुधारें लाइफस्टाइल

जिस प्रकार कार चलाने के लिए पैट्रोल या डीजल के अलावा कोई और लिक्विड यूज नहीं कर सकते, उसी प्रकार आप खाना खाने के बजाय कुछ स्नैक्स या ड्रिंक्स लेंगे तो उन से शरीर को चलाने के लिए पर्याप्त ऊर्जा नहीं मिल सकती. सही समय पर सही मात्रा में हैल्दी फूड लेने से ही शरीर से काम लिया जा सकता है. इसलिए कभी खाने को नजरअंदाज न करें. अगर आप अपना वजन घटाना चाहती हैं, तो प्रौपर डाइट लेने के साथसाथ ऐक्सरसाइज भी जरूर करें. 

Tags: