गृहशोभा विशेष

चिलचिलाती गर्मी के बाद मानसून की पहली बारिश आने पर लोग राहत की सांस लेते हैं. पर ध्यान रहे, यही बारिश कई तरह की बीमारियों को भी जन्म देती है. इसलिए जरूरी है कि आप इस मौसम में जर्म और बैक्टीरिया को खुद से दूर रखें. आइए हम आपको देते हैं कुछ ऐसे टिप्स, जिससे आप बिना बीमार हुए बरसात के इस मौसम का मजा ले पाएंगे.

हाथ जरुर धोएं

सब्जी आदि काटने के लिए प्रयोग किए जाने वाले चॉपिंग बोर्ड को इस्तेमाल करने से पहले अच्छी तरह से धाएं. खाना खाने से पहले, खाना खाने के बाद और टॉयलेट से आने के बाद हाथ को अच्छी तरह से धोए.

उबला हुआ पानी पीएं

मानसून में आप सिर्फ फिल्टर्ड और उबला हुआ पानी ही पीएं. ध्यान रहे कि पानी को उबाले हुए 24 घंटे से ज्यादा न हुए हों. जर्म से बचने के लिए ज्यादा से ज्यादा हर्बल चाय जैसे अदरक की चाय, नींबू की चाय आदि पीएं. अगर आपको चाय पसंद नहीं है तो हॉट वेजटेबल सूप भी पी सकते हैं.

पत्तियों वाली सब्जी को ठीक से धुलें

फल और सब्जी पर खास ध्यान दें. विशेषकर पत्तियों वाले सब्जी पर. क्योंकि इसमें कई तरह के लारवा, धूल और कृमि होते हैं. इन बैक्टीरिया से छुटकारा पाने के लिए इसे पानी में अच्छी तरह धोएं. इससे भी अच्छा तरीका यह है कि फल और सब्जी को नमक पानी में डुबो कर 10 मिनट तक खौलाएं. इससे इसके सारे बैक्टीरिया नष्ट हो जाएंगे.

मानसून में अपने खाने को अच्छे से पकाएं. कच्चा या अधपका खाने का मतलब है कि आप बीमारियों को दावत दे रहे हैं.

फल और सब्‍जियों का सेवन ज्‍यादा करें

गर्मा गरम भजिया की जगह ताजा फल या वेजटेबल का सेवन करें.

स्ट्रीट फूड से दूर रहें

वैसे तो मानसून में स्ट्रीट फूड से खुद को दूर रखना थोड़ा मुश्किल है. फिर भी जितना ज्यादा से ज्यादा हो सके इससे बचें. स्ट्रीट फूड में कई तरह के जर्म होते हैं, जो बीमारियों को जन्म देते हैं.

लहसुन, काली मिर्च, अदरक, हल्दी का सेवन जरुर करें

हल्का भोजन करें, क्योंकि मानसून में शरीर भोजन को जल्दी नहीं पचा पाता है. अपने पाचन तंत्र को बेहतर बनाने के लिए लहसुन, काली मिर्च, अदरक, हल्दी और धनिया का सेवन करें.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं