गृहशोभा विशेष

घर के कामों में सब से बड़ा काम सफाई का होता है. घर बड़ा हो या छोटा, सफाई का काम सभी को करना पड़ता है औैर वह भी अलगअलग कमरों में अलगअलग तरीके से. मसलन, रसोई हो या बाथरूम, बैडरूम हो या डाइनिंगरूम हर जगह सफाई करने का अलग तरीका होता है. सलीके से सफाई न होने पर घर में पनपने वाले कीटाणु परिवार की सेहत पर बुरा प्रभाव डाल सकते हैं.

स्टीम क्लीनिंग

अमूमन गृहिणियां पानी के साथ कैमिकल, साबुन और कास्टिक का इस्तेमाल कर घर की सफाई करती हैं. ये वस्तुएं भले ही घर को चमका दें, लेकिन इन से घर पूरी तरह स्वच्छ होगा, इस की गारंटी नहीं होती. लेकिन स्टीम क्लीनर्स 99.9% तक बैक्टीरिया का खात्मा करने की क्षमता रखते हैं. इन की खासीयत यह है कि इन में 100 डिग्री सैल्सियस तक पानी को गरम कर उस की भाप से सफाई की जाती है.

स्टीम क्लीनिंग का आधार

कार्चर स्टीम क्लीनिंग सिस्टम के साथ मल्टीपल ऐक्सैसरीज मिलती हैं, जिन का इस्तेमाल विभिन्न तरीके से अलगअलग स्थान को साफ करने में किया जा सकता है.

नोजल्स: इस का इस्तेमाल सख्त स्थान को साफ करने के लिए किया जाता है. जैसे कि घर का फर्श. कमर को झुका कर फर्श पर झाड़ू और पोंछा लगाना हर किसी के बस का नहीं होता. बावजूद इस के गंदगी कुछ हद तक ही साफ हो पाती है. लेकिन स्टीम नोजल भाप से फर्श की अच्छी तरह सफाई कर देता है.

ब्रश अटैचमैंट: सिंक और किचन स्लैब्स को साफ करने के लिए अब हाथों को घिसने की जरूरत नहीं है, क्योंकि स्टीम क्लीनिंग सिस्टम में ब्रश अटैचमैंट्स भी मौजूद हैं, जो आसानी से सिंक और स्लैब्स साफ कर देते हैं.

स्टीम हौसेस: अमूमन बाथरूम में टाइल्स लगी होती हैं. बाथरूम की साफसफाई के दौरान ज्यादा ध्यान टाइल्स को चमकाने पर दिया जाता है, जबकि असली गंदगी टाइल्स के बीच की दरारों में होती है. टाइल्स के बीच छिपी गंदगी को साफ करने के लिए स्टीम हौसेस परफैक्ट क्लीनिंग टूल है.

क्लौथ किट: ओवन, फ्रिज और मिरर की सफाई बिना कपड़े के अधूरी है. स्टीम क्लीनिंग सिस्टम की क्लौथ किट इस तरह की चीजों को साफ करने में कामयाब है.

स्टीम क्लीनिंग के फायदे

  1. इस के द्वारा साफसफाई में किसी भी कैमिकल का इस्तेमाल नहीं किया जाता, बल्कि सिर्फ पानी की भाप के इस्तेमाल से सफाई की जाती है.
  2. 1 लिटर पानी से 1,700 लिटर भाप तैयार होती है. खास बात यह है कि भाप से उन स्थानों की भी आसानी से सफाई की जा सकती है जहां दूसरे क्लीनिंग टूल्स नहीं पहुंच पाते.
  3. इस विधि से सफाई जल्दी होती है और वह भी कम पैसों में.
आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं