भले ही आप पौष्टिक आहार ले रहे हों, पर जिन बरतनों का इस्तेमाल कर रहे हैं, यदि वही स्वच्छ नहीं हैं तो आप की हैल्दी डाइट कोई माने नहीं रखता. पहले लोग राख से बरतन साफ करते थे. पर हैरानी की बात है कि जो खुद ही स्वच्छ नहीं, वह किसी चीज को साफ कैसे कर सकती है. फिर बाजार में साबुन की टिकिया आई जिसे लोग बरतन साफ करने के लिए इस्तेमाल करने लगे एक ही स्क्रबर से बारबार टिकिया को घिसने और बरतन साफ करने के कारण गंदगी स्क्रबर के बीच में ही घुसी रहती है.

टिकिया से बरतन साफ करने के बाद भी उस के कण बरतनों में चिपके रह जाते हैं. कुछ लोग डिटरजैंट पाउडर का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन यह काफी दाग नहीं छुड़ता है. यदि बरतन पूरी तरह साफ न हुए हों तो उन में चिपके कीटाणु हमारे पेट में भी चले जाते हैं, जिस से पेट में इन्फैक्शन, डायरिया, कौलरा जैसी घातक बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है.

अपनाइए कुछ नया

बरतनों को अच्छी तरह और कम मेहनत से धोने की इच्छा आज हर महिला की है. इसी जरूरत को ध्यान में रखते हुए बाजार में आधुनिक तरीकों से बने लिक्विड क्लीनर पेश किए गए हैं. इन से बरतनों को साफ करना आसान बन गया है.

आधुनिक तकनीक

आमतौर पर सभी लिक्विड क्लीनर बैलेंस्ड पीएच फार्मूले से बने होते हैं. इन्हें बनाने के लिए लाइम और विनेगर का इस्तेमाल किया जाता है. ये बरतनों को पारंपरिक साधनों से बेहतर साफ कर सकते हैं. ऐंटीबैक्टीरियल होने के कारण ये बरतनों को जर्मफ्री बनाते हैं आमतौर पर लिक्विड क्लीनरों में टाक्ंिसस का इस्तेमाल नहीं होता, इसलिए ये पूरी तरह से सुरक्षित होते हैं. जिद्दी दागों व तले से जलने के कारण बरतनों पर दागधब्बे पड़ जाते हैं, जो देखने में बहुत भद्दे लगते हैं लेकिन लिक्विड क्लीनर ऐसे कैमिकल्स से बनाए जाते हैं, जिन से जिद्दी दाग भी हट जाते हैं.

हर क्राकरी के लिए उपयुक्त

लिक्विड क्लीनरों से सभी तरह के बरतन जैसे बोनचाइना, मैलामाइन, कांच व स्टील के बरतनों को आसानी से धोया जा सकता है. बार या पाउडर के प्रयोग से इन पर स्क्रबर के घिसने से निशान पड़ जाते हैं व इन्हें साफ करने के लिए काफी मेहनत भी करनी पड़ती है, लेकिन लिक्विड क्लीनरों से इन्हें घिसना नहीं पड़ता, जिस से डैलीकेट क्राकरी भी सुरक्षित तरीके से साफ की जा सकती है. आज बाजार में कई लिक्विड क्लिनर उपलब्ध हैं, जैसे प्रिल, डिशवाशिंग, निप इत्यादि. इन के दाम करीब 50 रुपए हैं. इन से बरतनों को साफ करने के लिए प्रत्येक बरतन के लिए 1-2 बूंदें ही काफी होती हैं.

स्किन फ्रैंडली

अन्य साधनों से बरतन साफ करने से हाथों की त्वचा रूखी हो कर फटने लगती है, लेकिन लिक्विड क्लीनर स्किन फ्रैंडली होते हैं. इन को बनाने के लिए हार्श कैमिकल्स का प्रयोग नहीं किया जाता. लिक्विड क्लीनर द्वारा बरतन धोने में स्क्रबर के स्थान पर स्टैंडिंग ब्रश का इस्तेमाल करना चाहिए. इस से बरतन साफ करना ज्यादा आसान हो जाता है, क्योंकि बिना टच किए ही बरतनों को आसानी से घिसा जा सकता है. बस 1 बूंद डालें और ब्रश से साफ करें.