एल्युमीनियम सबसे आवश्यक तत्वों में से एक है और विभिन्न औद्योगिक-मानकों में कई फायदों के साथ सम्बंधित है. जैसा कि हम जानते हैं, एल्युमीनियम पैकेजिंग-उद्योगों में व्यापक रूप से इस्तेमाल किया जाता है. हम मूलतः खाद्य-पैकेजिंग में इसके लाभ पर एक दृष्टि डाल रहे हैं.

एल्युमीनियम खाद्य-पैकेजिंग में दूसरे कई तत्वों से बेहतर साबित हुआ है और शायद इसीलिए ही सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाता है. चलिए आगे बढ़ते हैं और पैकेजिंग हेतु प्रयोग किये जाने वाले एल्युमीनियम तत्व के फायदों पर एक नज़र डालते हैं.

लंबी अवधि के लिए खाद्य-भंडारण में मददगार

असाधारण रूप से जल एवं जल-वाष्प अभेद्य एल्युमीनियम, खाद्य-पदार्थों को लम्बे समय तक संरक्षित करने में सहायक है . अपने इसी गुण के कारण यह खाने को एक लम्बी अवधि तक तरो-ताज़ा रखने में भी सक्षम है .

ऊष्मा एवं प्रकाश अवरोधक

भोजन क्षय का मुख्य कारण उष्मा या गर्मी है . और एल्युमीनियम ऊष्मा एवं प्रकाश अवरोधी होने के कारण खाद्य-पैकेजिंग में बहुतायत इस्तेमाल किया जाता है . इस विशेष गुण के कारण एल्युमीनियम, खाद्य-पदार्थों के भंडारण एवं पैकेजिंग के लिए सबसे चहेता तत्व बन गया है .

आसान-पैकेजिंग

एल्युमीनियम का विशिष्ट लाभ यह भी है कि इसमें पैकेजिंग करना आसान है . भोजन को पन्नी में लपेटकर सिर्फ़ इतना सुनिश्चित करना होता है कि, अन्दर पैक-भोजन टपककर या रिस कर बाहर ना आये .

कीटाणुओं और जीवाणुओं की रोकथाम में समर्थ

जैसा कि सर्व-विदित है, मात्र ऊष्मा ही नहीं अपितु बैक्टीरिया भी भोजन की गुणवत्ता को प्रभावित करता है . एल्युमीनियम की पन्नी भोजन को बैक्टीरिया, अन्य जीवाणुओं एवं रोगाणुओं के संपर्क में आने से बचाती है . कीटाणु प्रतिरोधी होने के कारण यह हानिकारक जीवाणुओं इत्यादि के प्रभाव से खाद्य-पदार्थों को सुरक्षित रखता है.