गृहशोभा विशेष

खूबसूरत और बड़े घर की चाह हर किसी को होती है. मगर महानगरों  में ऐसे घरों की चाह पूरी होना आसान नहीं. छोटे घरों में रहने को मजबूर होना पड़ता है. मगर थोड़ी सी सूझबूझ व साजसजावट के तरीकों पर ध्यान दे कर छोटे घर में रह कर भी बड़े और हवादार घर में रहने का एहसास ले सकती हैं.

रखें घर को व्यवस्थित:

आप अपने घर को जितना अधिक व्यवस्थित व साफसुथरा रखेंगी, कमरों में उतनी ही ज्यादा जगह दिखेगी. सामान करीने से रख कर और फालतू सामान को हटा कर काफी जगह खाली कर सकती हैं.

सफेद व हलके रंगों का प्रयोग करें:

गहरे रंग बड़ी जगह के प्रभाव को कम कर देते हैं. इसलिए घर की दीवारों पर सफेद रंग करवाएं. फर्नीचर भी हलके रंग का खरीदें. अगर दीवारों पर सफेद रंग पसंद नहीं आता हो तो हलका हरा, गुलाबी, आसमानी, पीला आदि रंगों का चुनाव करें. पेंट एक ही रंग का करवाएं, फिर देखें कैसे कमरा बड़ा नजर आता है.

रोशनी का चुनाव:

घर में भरपूर रोशनी आने दें, क्योंकि घर में पर्याप्त रोशनी उसे उज्ज्वल और बड़ा दिखाने में मदद करती है. अपने घर में रंगों का प्रभाव दिखाने  के लिए लैंप्स भी लगाएं. इस से घर आकर्षक भी दिखेगा.

मल्टीपर्पज फर्नीचर का इस्तेमाल:

ऐसे फर्नीचर में निवेश करें जो बहुद्देशीय हो. इस तरह का फर्नीचर आप के कमरे को व्यवस्थित दिखाता है और जगह भी ज्यादा नजर आती है. उदाहरण के लिए किचन में ऐसी बहुद्देशीय मेज का प्रयोग किया जा सकता है, जिस में बहुत से रैक हों. इस में आप अपनी रसोई के कुछ सामान के साथसाथ दूसरी जरूरी चीजें भी एक जगह रख सकेंगी और सामान अतिरिक्त जगह भी नहीं घेरेगा.

घर में मिरर का प्रयोग:

मिरर के प्रयोग से आप अपने कमरे को बड़ा होने का आभास दे सकती हैं. फोकल पौइंट का प्रयोग करें और अपने मिरर को ऐसे केंद्रित करें कि घर में गहराई का भ्रम पैदा हो. घर की खिड़की के सामने वाली दीवार पर दर्पण लगाएं. रोशनी के प्रतिबिंब के कारण आप के कमरे का क्षेत्र बड़ा दिखेगा.

स्ट्राइप्स का प्रयोग:

घर के डैकोर में हलका सा फेरबदल ला कर भी घर का रूप बदल सकती हैं. उदाहरण के लिए धारीदार कारपेट्स कमरे को लंबा होने का आभास दे सकता है. इसी तरह घर के परदे आदि में स्ट्राइप्स वाली डिजाइनें घर को बड़ा दिखाती हैं.

मार्गों को ब्लौक न करें:

घर के छोटे प्रवेशमार्गों, लौबियों या हौलवे में संकीर्ण कौन्सोल टेबलों के उपयोग से घर के प्रवेश स्थान के बड़े होने का आभास दे सकती हैं. मार्गों को ब्लौक न करें या प्रवेश स्थान को इतना संकीर्ण न करें कि लोगों को वहां चलने में परेशानी हो. जितनी दूर तक आप की आंखें कमरे को देख पाएंगी, कमरे के उतना ही बड़ा होने का आप को एहसास होगा.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं