गृहशोभा विशेष

जब बात इंटीरियर की आती है, तो आप अपने घर को मौडर्न लुक में देखना पसंद करती हैं. मौडर्न लुक देने के लिए आप घर में कलर करवाने के बजाय वालपेपर लगवाएं तो घर की दीवारें इतनी खूबसूरत लगेंगी कि देखने वाला तारीफ किए बिना न रह सकेगा. आजकल वालपेपर काफी चलन में है और इस की काफी डिमांड है. मार्केट में वालपेपर की ढेरों वैराइटी और रेंज आप को मिल जाएगी.

आइए, जानें वालपेपर के इस्तेमाल के आधुनिक तरीकों को-

थीम के अकौर्डिंग

आजकल वालपेपर थीम के अकौर्डिंग इस्तेमाल हो रहा है. लोग हर कमरे को उस की उपयोगिता और उस में रहने वाले की पसंद के हिसाब से डिजाइन कर रहे हैं. ऐसे में दीवार कैसी हो, इस बात का पूरा खयाल रखना पड़ता है. यदि आप चाहती हैं कि आप के हर रूम में ग्रीनरी का एहसास हो या आप को ऐनिमल बहुत पसंद हैं, तो आप नेचर या ऐनिमल प्रिंटेड वालपेपर अपने घर में लगवा सकती हैं. साथ ही, यदि आप घर के कुछ हिस्सों को हाईलाइट करना चाहती हैं, तो सिर्फ उतनी ही जगह में वालपेपर लगवा सकती हैं. इस से वह कौर्नर या रूम डिफरैंट लगेगा. नए तरीके के वालपेपर को हाईलाइटर्स की तरह ही इस्तेमाल किया जा रहा है.

रूम के अकौर्डिंग

कुछ समय पहले तक दीवारें तसवीरों से ही सजाई जाती थीं, लेकिन अब उन की जगह वालपेपर ने ले ली है. बच्चों के रूम के लिए टौम ऐंड जैरी, हैरी पौटर, बाइक्स और ऐनिमल प्रिंट का इस्तेमाल किया जाता है. इस से रूम खूबसूरत तो लगता ही है, बच्चों की क्रिएटिविटी भी बढ़ती है. युवाओं के कमरों के लिए फ्लोरल, टैक्सचर, स्टिकर्स, स्कैच, ट्राइएंगल और ऐब्सट्रैक्ट के साथ ही पिक्चर डिजाइन का वालपेपर सिलैक्ट कर सकती हैं. लड़कियां शिमर, फ्लोरल, रोज और ऐब्सट्रैक्ट वालपेपर ही पसंद करती हैं. कपल्स के लिए थीम बेस्ड, थ्री साइज वालपेपर के साथ डार्क शेड मिक्स ऐंड मैच किया जा सकता है. वालपेपर में आप मिक्स ऐंड मैच का फंडा अपना सकती हैं. इस के लिए घर के फर्नीचर या परदों से मैच करते वालपेपर लगा सकती हैं. हां, यदि आप किसी और वालपेपर से बोर हो गई हैं, तो उस पर री पेंट भी करा सकती हैं. पेंट और वालपेपर को मिक्स ऐंड मैच कर के भी लगवा सकती हैं.

पार्टी या फंक्शन में

यदि आप के घर में कोई शादी या पार्टी  है तो आप गोल्डन या सिल्वर कलर का वालपेपर लगवा सकती हैं. इस से आप के घर का पूरा लुक पार्टीनुमा हो जाएगा. इसी तरह ब्राइड के रूम में भी रैड या पिंक कलर के वालपेपर में ग्लिटर व स्पार्कल का इस्तेमाल बैस्ट औप्शन रहेगा.

कुछ जरूरी बातें

वालपेपर लगवाते समय यदि आप को लगता है कि आप उसे मैंटेन नहीं कर पाएंगी तो वाटरप्रूफ वालपेपर लगवाएं. इस की मैंटेनैंस पर खर्च भी बहुत कम आता है, क्योंकि यह वाशेबल होते हैं. अच्छी क्वालिटी का वालपेपर ही लगवाएं, क्योंकि यह 10 साल तक भी खराब नहीं होता.  घर में सीलन होने पर आप सोचेंगी कि वालपेपर लगाना मुश्किल होगा, लेकिन अब यह भी आसान हो गया है. इस में सब से पहले वाल को वाटरप्रूफ किया जाता है, फिर वालपेपर लगाया जाता हैं. अगर दीवार में बहुत नमी है, तो इंटीरियर डिजाइनर वहां पर वाटरपू्रफ प्लाईर् लगाने का सुझाव देते हैं. फिर उस प्लाई पर वालपेपर लगाया जाता है. बाजार में वालपेपर की रेडीमेड थीम्स भी मौजूद हैं. डैकोरेटिव पैटर्न, फैब्रिक बैक्ड विनाइल और नौन वुवन वालपेपर, जो नैचुरल फैब्रिक से तैयार होता है, मिल जाएगा.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं