शादी एक ऐसा पल है जब जिंदगी का हर पहलू बदलाव की सुनहरी चादर में लिपट जाता है. यह बदलाव भावनात्मक, शारीरिक और मानसिक होने के साथ भौतिक भी होता है. खासतौर पर लड़की के लिए क्योंकि उसे अपने बचपन के घरआंगन को छोड़ कर पति के आशियाने को बसाना होता है. ऐसे में पति के घर को ले कर हर लड़की के कुछ ख्वाब भी होते हैं. वह सोचती है कि भले ही पति का घर हूबहू उस के खाके से मेल खाता हुआ न हो, लेकिन घर में उस का कमरा और रसोई कुछ हद तक उस के हिसाब से ही होगी. ऐसे में हर लड़के की जिम्मेदारी है कि अपनी पत्नी को घर लाने से पहले अपने बैडरूम और रसोई को बैचलर लुक से न्यूली वैड लुक में बदल लें. यदि आप को कमरे का इंटीरियर तय करने में समस्या आ रही है, तो नीचे दिए टिप्स आप के लिए मददगार साबित हो सकते हैं: 

बैडरूम का रंग

बैडरूम के इंटीरियर का सब से महत्त्वपूर्ण हिस्सा दीवारों पर चढ़ा पेंट होता है. आइए जानते हैं कि कैसा होना चाहिए न्यूली वैड कपल के कमरे का रंग. शादी के माहौल में अकसर वाइब्रैंट कलर्स देखने को मिलते हैं. लगातार हफ्ते भर वाइब्रैंट रंगों को देखतेदेखते दुलहन का मन उन्हीं में खो जाता है और वह उन रंगों से भावनात्मक रूप से जुड़ जाती है. खासतौर पर लाल, बैगनी, रौयल ब्लू, गोल्डन और मैरून रंग से उसे लगाव सा हो जाता है. इसलिए दुलहन के कमरे को तैयार करते वक्त कमरे की दीवारों के रंग का चुनाव इन्हीं रंगों में से करें.

नईनई शादी में रोमांस और ऐलिगैंस को बहुत महत्त्व दिया जाता है और गहरे रंग इन दोनों के ही प्रतीक हैं. इन रंगों के साथ डीप ज्वैल कलर्स जैसे गोल्डन, ब्रौजन एवं मेटैलिक का कौंबिनेशन दुलहन को और भी अधिक सूदिंग फीलिंग देता है. अपने घर से ज्यादा किसी को और कहां कोजी फीलिंग हो सकती है? जरा सोचिए, आप की दुलहन आप के लिए अपना घर छोड़ कर आ रही है ऐसे में उसे कोजी फील देने में भी ये डार्क कलर काफी मददगार हैं.

यदि कमरा बड़ा है तो पूरे कमरे में गहरा रंग कराया जा सकता है, लेकिन यदि कमरा छोटा है तो कमरे की एक दीवार पर ही गहरा रंग करवाएं. अन्य दीवारों पर गहरे रंग से मेल खाता हलका रंग करवा सकते हैं. यह कमरे को आकार में बड़ा भी दर्शाता है.

कमरे में फर्नीचर की मौजूदगी उस के खालीपन को भरती है बिलकुल वैसे ही जिस तरह आप की पत्नी आप के जीवन के खालीपन को दूर करती है. लेकिन फर्नीचर का चुनाव करते वक्त कुछ बातों का जरूर ध्यान दें.

– अब आप बैचलर नहीं रहे इसलिए आप जो भी फर्नीचर लें इस बात को ध्यान में ले कर लें कि आप 1 नहीं 2 हैं. खासतौर पर बैठने का सोफा, बैड और अलमारी का चुनाव करते वक्त पत्नी की चौइस का भी ध्यान रखें.

– रूम के साइज के हिसाब से बैड का साइज तय करें. जरूरी नहीं कि किंगसाइज बैड ही लिया जाए. यदि आप का काम क्वीन साइज बैड में चल सकता है तो वही लें.

– नए घर में दुलहन का सब से अच्छा दोस्त आईना होता है. ड्रैसिंग टेबल का चयन करते वक्त लंबाई में बड़े शीशे वाले ड्रैसिंग टेबल को चुनें क्योंकि तैयार होते वक्त कई बार दुलहन को ऊपर से नीचे तक खुद को देखना पड़ता है. ऐसे में लंबे शीशे की वश्यकता पड़ती है.

– केनोपी बैड भी न्यूली वैड्स के लिए एक अच्छा विकल्प है, क्योंकि यह बैड ऐरिया को कवर कर लेता है और बहुत रोमांटिक अपीयरैंस देता है.

– नईनवेली दुलहन अपने साथ बहुत से महंगे तोहफे और कपड़े लाती है. इस के लिए उसे ऐसे स्टोरेज की जरूरत होती है जहां उस का सामान सेफ रहे. इसलिए वार्डरोब के साइज में कंजूसी मत करें. वार्डरोब ऐसी होनी चाहिए जिस में दूल्हा और दुलहन दोनों  कपड़े रखने के अलावा ऐक्स्ट्रा स्टोरेज की भी जगह हो.

लाइट्स

रोशनी पौजिटिविटी का प्रतीक होती है. दुलहन के कमरे में खूबसूरत लैंप्स, झूमर और सीलिंग लाइट्स होनी चाहिए. लेकिन इन की सैटिंग पर विशेष ध्यान देना चाहिए.

– जिस तरफ बैड हो उस की सीध में लाइट नहीं होनी चाहिए. लाइट की चकाचौंध से आंखों में इरिटेशन होने लगता है, इसलिए लाइट की सैटिंग हमेशा बैड के दाईं और बाईं तरफ ही होनी चाहिए.

– आजकल कलरफुल लाइट्स का ट्रैंड है. यदि आप के कमरे के कलर और इंटीरियर की खूबसूरती में कलरफुल लाइट्स से इजाफा हो रहा हो तो इस का प्रयोग भी कर सकते हैं.

गृहशोभा विशेष

– यदि आप का कमरा झूमर लगवाने के लिए उपयुक्त नहीं है तो आप कमरे की सीलिंग पर डिम लाइट्स लगवा सकते हैं. डिम लाइट्स माहौल को रोमांटिक बनाने में बहुत मददगार होती हैं.

फ्लोर

नईनवेली दुलहन के लिए कमरे की फ्लोरिंग पर भी विशेष ध्यान दें. आइए हम आप को बताते हैं कुछ टिप्स.

– कमरे की दीवारें और छत जितनी अहम है उतनी ही अहम है कमरे की फर्श. इसलिए यदि आप दीवारों पर डिजाइनर पेंट करवा रहे हैं तो फर्श पर डिजाइनर कार्पेट जरूर डलवाएं.

– फर्श के इंटीरियर के लिए मार्केट में आजकल कई डिजाइनर विकल्प उपलब्ध हैं. जैसे कमरे की फर्श का रंग तकनीक द्वारा बदलवाया जा सकता है, डिजाइनर टाइल्स लगवाए जा सकते हैं, तो वुडेन फ्लोरिंग भी काफी ट्रैंड में हैं.

परदे

बैडरूम इंटीरियर में परदों का एक महत्त्वपूर्ण स्थान है. खासतौर पर बात जब न्यूली वैड कपल के बैडरूम की हो तो इन का महत्त्व और भी बढ़ जाता है. लेकिन परदों के चुनाव में भी सावधानी बरतनी चाहिए.

– दुलहन के कमरे में परदे हमेशा गहरे रंग के होने चाहिए. साथ ही वे पारदर्शी न हों. दुलहन को प्राइवेसी की जरूरत होती है,  इसलिए परदों में थोड़ा भारीपन और मोटापन होना चाहिए.

– परदों का फैब्रिक सिल्क या साटन होना चाहिए. ये परदे शाइनी और भारी होते हैं. बहुत रंगबिरंगे परदे बैडरूम के इंटीरियर को खराब करते हैं. यदि फिर भी चाहें तो 2 रंगों का इस्तेमाल किया जा सकता है.

रसोई भी हो खास

नई दुलहन के लिए ससुराल में बैडरूम के बाद रसोई घर दूसरा सब से महत्त्वपर्ण स्थान होता है. जहां स्वादिष्ठ पकवान बना वह अपने पति और ससुराल वालों का दिल जीत लेती है. लेकिन रसोई को दुलहन के हाथों सौंपने से पहले उस के इंटीरियर पर थोड़ा ध्यान जरूर देना चाहिए. आइए जानते हैं कि नई दुलहन की रसोई कैसी होनी चाहिए.

– आजकल बहुत बड़ी रसोई का चलन नहीं है, इसलिए रसोई छोटी भी हो तो इसे मैनेज कर के अच्छा बनाया जा सकता है. मसलन, रसोई साफसुथरी लगे इस के लिए फर्श और दीवारों पर टाइल्स जरूर लगवाएं.

– रसोई को मौड्युलर भी बनवाया जा सकता है. इस से सामान फैला हुआ नहीं दिखता और दुलहन को नई रसोई में सामान खोजने में ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ती.

– रसोई में रखे मसालों और अनाज के डिजाइनर डब्बे बाजार में उपलब्ध हैं. इन्हें भी रसोई के डैकोरेशन का हिस्सा बनाया जा सकता है. साथ ही जिस डब्बे में जो सामान रखा है उस डब्बे पर उस का लेबल जरूर लगाएं.

– आजकल रसोई में भी अधिकतर चीजें इलैक्ट्रौनिक ही होती हैं. इस से खाना स्वादिष्ठ पकने के साथ जल्दी भी पकता है. दुलहन को रसोई में बहुत वक्त न गुजारना पड़े इस के लिए किचन गैजेट्स की मौजूदगी अनिवार्य है. मसलन, सैंडविच मेकर, स्टर, मिक्सर ग्राइंडर, माइक्रोवेव, राइस मेकर आदि कुछ ऐसे आवश्यक आइटम हैं जो आज के समय में हर रसोई में होने ही चाहिए.

– बाजार में डिजाइनर कुकवेयर भी उपलब्ध हैं, जो भोजन की पौष्टिकता और स्वाद को बरकरार रख जल्दी भोजन तैयार करने में मददगार और किचन इंटीरियर का महत्त्वपूर्ण भाग होते हैं. रसोई में इन की मौजूदगी दुलहन को स्वादिष्ठ भोजन पकाने का आत्मविश्वास दिलाती है. 

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं