गृहशोभा विशेष

पहले के जमाने में घर बड़े होते थे, जिस में बहुत से लोग रहा करते थे, एक बड़े कमरे को किचन के रूप में ढाला जाता था. लेकिन वक्त के साथ किचन और परिवार छोटे होते गए. ऐसे में ओपन किचन एक बेहतर विकल्प के तौर पर उभरा है.

भारतीय घरों के लिए ओपन किचन एक हौट ट्रैंड है. यह सुंदर दिखने के साथसाथ कंफर्टेबल भी होता है.

ओपन किचन के फायदे

  • ओपन किचन का सब से बड़ा फायदा यह है कि अगर कोई महिला किचन में काम कर रही होती है तो वह पूरे घर पर निगरानी भी रख सकती है. बच्चों की गतिविधियों पर नजर रखने के साथसाथ चाहे तोे टीवी प्रोग्राम देख सकती है. अपने मेहमानों के लिए चायनाश्ता बनाते हुए उन से बातें भी कर सकती है.
  • ओपन किचन में काम करते वक्त घुटन महसूस नहीं होती.
  • बंद किचन की तुलना में ओपन किचन स्वाभाविक रूप से अधिक चमकदार और प्राकृतिक रोशनी से भरपूर रहते हैं.
  • ओपन किचन घर के डिजाइन को अनौपचारिकता आबोहवा देते हैं.

ओपन किचन: समस्याएं व समाधान

  • ओपन किचन की एक समस्या यह है कि इस में काम करते वक्त बाहर से आने वाला कोई भी शख्स उस अव्यवस्था को सहजता से देख सकता है जो आप खाना पकाते वक्त हड़बड़ी में फैलाती हैं.

समाधान: किचन को व्यवस्थित दिखाने के लिए बेहतरीन स्टोरेज सिस्टम चुनें. आप वुडन की जगह ग्लास के कैबिनेट्स बनवा सकती हैं. ये देखने में खूबसूरत लगेंगे और आप को सामान ढूढ़ने में असुविधा भी नहीं होगी.

  • भारतीय खानों में पर्याप्त मात्रा में मसाले प्रयुक्त होते हैं. छौंक लगाने की भी जरूरत पड़ती है, जिस से खुशबू दूर तक फैल जाती है.

समाधान: इलैक्ट्रिक चिमनियों का प्रयोग कर के उचित वैंटिलेशन सैटअप स्थापित करें.

  • मिक्सर, प्रैशर कुकर या डिश वाशर जैसे सभी कुकिंग उत्पादों की आवाज पास के कमरों तक सुनाई पड़ती है.

समाधान: कोशिश करें कि किचन से जुड़े सारे उत्पाद अच्छी क्वालिटी और नई तकनीक वाले हों ताकि आवाज कम पैदा हो. साथ ही इन के प्रयोग का समय भी निश्चित कर लें.

कुछ सरल टिप्स आजमा कर आप किचन के काम को सुविधाजनक बना सकती हैं:

  • अपने किचन के लिए स्लाइड करने वाले बार्न डोर्स लगवाइए और ऐसा कर के आप का आधुनिक किचन आप की इच्छानुसार ओपन या क्लोज्ड बन सकता है.
  • किचन और लिविंग रूम को अलग करने वाला कांच का पार्टिशन भी किचन को हमेशा प्राकृतिक रोशनी से जगमगाया हुआ रखेगा.
  • आप किचन के एक छोटे हिस्से को बंद भी करा सकती हैं. इस हिस्से में आप वे काम कर सकती हैं जिन से ज्यादा शोर होता है.
  • किचन और लिविंग रूम के बीच पौधों का प्रयोग कर के विभाजन रेखा खींची जा सकती है.
  • अगर आप एक ओपन आधुनिक किचन चाहती हैं, लेकिन यह नहीं चाहतीं कि मेहमान पूरे समय ताकझांक करते रहें, तो मेहमानों के लिए बैठक की व्यवस्था ऐसे करें ताकि उन की पीठ किचन की ओर हो.

– इंटीरियर डिजाइनर शिंजिनी चावला, अर्बन क्लैप डौट कौम से की गई बातचीत पर आधारित