गृहशोभा विशेष

अरविंद उस दिन सड़क से गुजर रहा था, तभी उस ने एक कागज देखा. उत्सुकता से उस ने वह कागज उठा लिया. उस के ऊपर एक संदेश लिखा हुआ था. अरविंद ने पढ़ना शुरू किया. ‘‘यदि तुम्हें खजाना चाहिए तो ग्रीनवे रोड पर जाओ और दूसरे पिलर की जांच करो. उस में एक लिफाफा रखा है. जिस में खजाने के बारे में जानकारी दी गई है.’’

‘शायद यह मजाक है. कोई बेवकूफ ही इन बातों पर विश्वास कर सकता है,’ अरविंद ने सोचा. तभी उस के दिमाग में आया कि यदि यह सच हुआ तो? मुझे इस की तलाश करनी चाहिए. ग्रीनवे रोड यहां से बहुत दूर भी नहीं है.

अरविंद ग्रीनवे रोड की ओर चल पड़ा. वहां पहुंच कर उस ने दूसरा पिलर ढूंढ़ा और उस के पास चला गया. वहां पिलर के ऊपर एक लिफाफा चिपका हुआ था. अरविंद ने उस लिफाफे को खोला. उस में लिखा था, ‘खजाने के लिए मूलविच रोड पर जाओ और अपनी दाहिनी तरफ के पिलर की जांच करो.’

अरविंद बहुत उत्साहित हुआ. अब उसे यह मजाक नहीं लग रहा था. उस ने मूलविच रोड की तरफ जाने का निश्चय किया, जो वहां से 10 मिनट की दूरी पर था.

hindi stories for kids

वह जब दूसरे पिलर के पास पहुंचा, तो वहां भी एक लिफाफा चिपका हुआ था. उस ने खोल कर पढ़ना शुरू किया. उस में लिखा था, ‘जैकसन रोड पर जाओ. वहां के दूसरे पिलर पर ही तुम्हारी मंजिल है.’

अब अरविंद का दिल धड़कने लगा. जैकसन रोड वहां से 15 मिनट की दूरी पर था. पर अरविंद रुका नहीं, वह जैकसन रोड की तरफ चल पड़ा.

15 मिनट बाद वह जैकसन रोड के दूसरे पिलर के पास था. वह पसीने में नहा गया था. थरथराते हाथों से उस ने लिफाफा लिया और खोलने लगा. अब उस की मंजिल पास थी. वह पढ़ने लगा. उस में लिखा था, ‘उम्मीद है कि तुम्हारा वजन एक किलो कम हो गया होगा. तुम्हारा स्वास्थ्य ही तुम्हारा खजाना है. गुडबाय.’

hindi stories for kids

इस संदेश को पढ़ कर अरविंद मुसकराने लगा. उस ने लिफाफे को मोड़ कर अपनी जेब में रखा और गुनगुनाते हुए अपने घर की ओर चल पड़ा.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं