आकांक्षा के घर उस के भाई के दोस्त प्रखर का खूब आनाजाना था. प्रखर बचपन से ही उन के घर आजा रहा था लेकिन इस से पहले आकांक्षा ने कभी उसे इस नजर से नहीं देखा था लेकिन अब अचानक ही प्रखर उसे अच्छा लगने लगा था. अगर एक हफ्ते भी प्रखर घर नहीं आता तो आकांक्षा बेचैन हो उठती. उस के दिल का यह हाल उस के अलावा कोई नहीं जानता था खुद प्रखर भी नहीं. इसलिए आजकल वह प्रखर को रिझाने और अपनी तरफ आकर्षित करने का पूरा प्रयास कर रही थी. लेकिन कई बार खुद आकांक्षा अपने ही सवालों में उलझ जाती थी कि ऐसा कर के वह सही कर रही है या गलत? जब भाई के दोस्त के लिए मन में ऐसी फीलिंग्स आने लगें तो ऐसे सवाल उठने स्वाभाविक हैं. लेकिन कुछ बातों का ध्यान रख कर किसी नतीजे पर पहुंचा जा सकता है.

उम्र का रखें खयाल

अगर भाई आप से बड़ा है तो भाई का दोस्त भी आप से बड़ा ही होगा. इसलिए पहले दोस्त की उम्र भी पता कर लें. कहीं ऐसा न हो कि आप का और उन का कोई मैच ही न हो और बेकार में आप यह कदम उठा कर बदनाम भी हो जाएं और हाथ भी कुछ न आए.

भाई का विश्वास खो देंगी

अगर भाई के दोस्त से फ्लर्ट करेंगी और यह बात भाई को पता चलेगी तो वह आप पर कभी विश्वास नहीं करेगा. उसे लगेगा कि आप ने भाई को धोखा दिया है. अगर आप उस के एक दोस्त के साथ ऐसा कर सकती हैं तो बाकी दोस्तों के बारे में भी कुछ नहीं कहा जा सकता. गुस्से में ही सही, लेकिन भाई की सोच आप के बारे में काफी नैगेटिव हो जाएगी. यह बात और है कि समय बीतने पर आप उन्हें समझा भी सकती हैं.

घर में बात फैल जाएगी

अगर आप बाहर किसी से फ्लर्टिंग करेंगी तो घर में पता नहीं चलेगा लेकिन घर में करेंगी तो सब जान जाएंगे, हो सकता है कि वे आप को ऐसा करते देख उस के प्रति सीरियस समझें, जबकि आप सीरियस न हों. आप तो केवल फ्लर्टिंग कर टाइम पास ही कर रही थीं, लेकिन यह सच किसी को बता भी नहीं सकतीं इसलिए ऐसी बुरी फंसेंगी कि सिचुएशन से निकलना मुश्किल हो जाएगा.

छोटे भाईबहनों पर भी बुरा असर पड़ेगा

आप को इस तरह भाई के दोस्त के साथ इन्वौल्व होते हुए देख छोटे भाईबहनों पर भी अच्छा असर तो नहीं पड़ेगा. वे आप को ऐसा करते हुए देखेंगे तो खुद भी ऐसा ही करेंगे. इसलिए आप जो भी करें सोचसमझ कर करें. छोटे भाईबहनों के बारे में भी विचार कर लें कि आप की वजह से कहीं वे गलत रास्ते पर न चल पड़ें. आप तो फिर भी बड़ी हैं संभल जाएंगी पर आप को देख वे कोई बचपना न कर बैठें.

घर का माहौल बिगड़ेगा

मातापिता आगे से घर में लड़कों के आने पर पाबंदी लगा सकते हैं. अगर उन की एक लड़की ऐसा कर सकती है तो अन्य पर से भी उन का विश्वास उठ जाएगा. आप खुद तो गड्ढ़े में गिरेंगी ही अपने भाईबहनों को साथ में ले कर गिरेंगी. हर वक्त घर में इसी टौपिक पर बातचीत होगी, होहल्ला होगा. इस से घर का माहौल भी बिगड़ सकता है.

जल्दबाजी में शादी पर जोर

आप को ऐसा करते देख मातापिता जल्द से जल्द आप की शादी कर के अपनी जिम्मेदारी से फ्री होने की बात सोचने लगेंगे, फिर भले ही आप की पढ़ाई पूरी हुई हो या नहीं. ऐसा कर के आप बेवजह अपने पैरों पर खुद ही कुल्हाड़ी मार लेंगी.

फायदा

फ्लर्टिंग करने के मौके हजार मिलेंगे : कभी चाय पिलाने, कभी खाना खिलाने के बहाने, लड़के को पटाने के हजार मौके मिलेंगे. चाहें तो लूडो, ताश जैसे गेम्स भी सब लोग साथ मिल कर खेल सकते हैं. इस से भी खेलखेल में कब दिल मिल जाएं पता भी नहीं चलेगा.

छोरा जानापहचाना है : बाहर किसी से फ्लर्ट करने में खतरा ज्यादा रहता है. पता नहीं वह लड़का कैसा हो, कहीं गलत हुआ तो लेने के देने पड़ जाएंगे. ब्लैकमेलिंग आदि के चक्कर में फंस गए तो निकलना मुश्किल होगा, लेकिन अगर घर में भाई का दोस्त हो तो उस के नेचर, चरित्र आदि के बारे में सबकुछ पहले से ही पता होता है इसलिए आसानी रहती है.

मिलने के लिए बहानों की जरूरत नहीं : भाई के दोस्त से मिलने के लिए बाहर जाने की भी जरूरत नहीं है. मिलने वह आप से आएगा और घर वालों को लगेगा कि भाई से मिलने आया है.

सच में प्यार हो गया तो बल्लेबल्ले : अगर फ्लर्टिंग से शुरू हुई बात प्यार पर आ कर ठहरी तो आप के लिए घर वालों को शादी के लिए मनाना आसान होगा, क्योंकि लड़का उन का जानापहचाना है. अगर लड़के का कैरियर अच्छा है और वह नेचर वाइज भी अच्छा है तो पहले भाई को पटाएं फिर आगे घर वालों से अपने दोस्त की पैरवी वह खुद ही कर लेगा.

ध्यान दें

– यहां बात दोस्ती रिश्तेदारी की है इसलिए जो भी करना है सोचसमझ कर करें.

– अपने परिवार की गरिमा का खयाल रखते हुए अपनी सीमा में रह कर ही आगे कदम बढ़ाएं.

VIDEO : दीपिका पादुकोण तमाशा लुक

ऐसे ही वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक कर SUBSCRIBE करें गृहशोभा का YouTube चैनल.