गृहशोभा विशेष

शादी और कम खर्च यह सुनना शायद सभी को अजीब लगे, पर अब शादी पर कम खर्च का चलन शुरू हो गया है, क्योंकि इस से समय और पैसा दोनों की ही बचत होती है. कुछ लोगों को यह सोच कंजूसी लग सकती है, क्योंकि वे सोचते हैं कि लकड़ी की मेजों पर सफेद चादरें बिछा कर, कैंडल लाइट कर और कम लोगों को आमंत्रित कर शादी के खर्च को कम किया जा सकता है. मगर ऐसा बिलकुल नहीं है.

कम खर्च की शादी के लिए यह जरूरी नहीं कि आप सब कुछ त्याग दें या न करें, बल्कि जो चीजें शादी में जरूरी नहीं होतीं या केवल दिखावे के लिए होती हैं उन्हें छोड़ प्रमुख चीजों पर ध्यान दें. इस प्रकार केवल थोड़ी सी समझदारी और सही प्लानिंग से ही आप शादी को अपने मनमुताबिक और यादगार बना सकते हैं.

इस बारे में वैडिंग प्लानर आशु गर्ग बताते हैं कि शादी सब के लिए यादगार बने इस की मैं हमेशा कोशिश करता हूं, क्योंकि शादी का खर्च व्यक्ति के बजट के आधार पर होना चाहिए ताकि किसी को भी बोझ न महसूस हो. यही मेरे लिए चुनौती होती है. ऐसे में इन बातों पर ध्यान देने की जरूरत होती है:

डिटेलिंग पर दें ध्यान

पीच कलर के साथ रैड और गोल्डन का चलन विवाह में सालों से है. वैडिंग में इन का खास महत्त्व होता है, लेकिन अब इन में हलके और प्राकृतिक रंगों के मिश्रण को भी अधिक महत्त्व दिया जा रहा है. इस में वैसी ही कलाकृतियों वाले फर्नीचर और पेड़पौधे इस की शोभा को बढ़ाते हैं.

बड़ीबड़ी चीजों से बनावटी सजावट का समय अब नहीं है. अब लोग अपनी पसंद से घर या विवाह मंडप को सजाते हैं, जिस में सजाने वाले का व्यक्तित्व और पसंद पूरी तरह से दिखाई देती है. यह उन के लिए एक चुनौती होती है. इस में कपल्स अधिकतर बौलीवुड की सजावट का सहारा लेते हैं, जिस में डिटेलिंग पर अधिक जोर होता है, जो अधिकतर तरहतरह के कलर कौंबिनेशन पर आधारित होती है ताकि पिक्चर्स अच्छी निकलें. कम खर्चे की शादी में खूबसूरती के अलावा अधिकतर कपल्स चाहते हैं कि उन की साजसजावट में भी एक शानदार लुक हो, इसलिए डिटेलिंग के अलावा छोटीछोटी चीजों पर भी खुद ध्यान देने की जरूरत होती है. इस में अतिथियों का मनोरंजन सब से ऊपर होना चाहिए. इस के अलावा स्टेज प्रैजेंटेशन, गैस्ट टेबलों का आकार जो गोल या चौकोर में हो और सिल्क के रंगीन कपड़े से ढकी हों ताकि एक कोणीय व्यू मिले.

एक डिजाइन को बड़ा दिखाएं

कम खर्चे की शादी में अधिकतर लोग दीवारों पर कम सजावट करते हैं, जबकि हकीकत में एक अच्छा थीम या डिजाइन सोच कर उसे ही बड़े और कलरफुल तरीके से दिखाना उचित होता है, जिस का केंद्र बिंदुविवाह होना चाहिए. इस में रंग और लाइट्स से ले कर हर बेसिक चीज शामिल होनी चाहिए.

फ्लौवर पावर

फूलों की सजावट आप के हर लुक को शानदार बना देती है. आशु कहते हैं कि फूलों के साथ आप तरहतरह के ऐक्सपैरिमैंट कर वैवाहिक परिदृश्य को अधिक सुंदर बना सकते हैं. फूल सजाने के लिए, दूल्हादुलहन के लिए, सैंटर टेबल और दीवार की डैकोरेशन आदि सभी जगहों पर किसी न किसी रूप में प्रयोग किए जा सकते हैं. गैस्ट टेबल और दीवारों को सजाने के लिए अगर बनावटी फूलों का भी सहारा लिया जाए, तो खर्च और भी कम होता है. इस के अलावा कलरफुल बैरीज और स्ट्राबैरीज को भी सजावट के लिए प्रयोग कर सकते हैं. ये फ्रैश लुक को बनाए रखने में मददगार साबित होती हैं.

नैचुरल लाइटिंग

रोशनी को वैडिंग में सब से खास माना जाता है. अगर यह सही तरह से कर ली जाए, तो सिंपल और ऐलिगैंट वैडिंग कल्पना जो आप ने की है वह गैस्ट और वैडिंग दोनों को ही आकर्षक लगती है. नैचुरल लाइटिंग विवाह के खर्चे को हमेशा कम करती है. मसलन, ओपन हौल, कोलोनियल स्टाइल हौल्स या मध्यम रोशनी के कैफे स्टाइल आदि सभी पारंपरिक और शिल्पकारी की पराकाष्ठा को बयान करते हैं.

डिनर फिएस्टा

वाह में भोजन सब से महत्त्वपूर्ण होता है, जिस में संतुलित आहार होने के साथसाथ उस की गुणवत्ता पर अधिक ध्यान देने की जरूरत होती है. लंबी लिस्ट मेनू होने से अतिथि खुश हों, यह जरूरी नहीं, क्योंकि वे पूरे मेनू का स्वाद चखने में असमर्थ होते हैं. इसे साधारण और गुणवत्तापूर्ण रखें, क्योंकि आज लोग क्वांटिटी से अधिक क्वालिटी पर विश्वास रखते हैं. इसे परोसने के लिए थोड़ी कला और प्यार रखें ताकि उन्हें एक अच्छा माहौल मिले.

ट्रीट ओ ट्रीट

विवाह में आजकल केक काटने का चलन है. ऐसे में अलगअलग स्टाइल के केक इस की शोभा को बढ़ाते हैं. इस में आप अपनी कला को शामिल कर इसे खूबसूरत बना सकते हैं. जरूरत हो तो कुछ फूलों से इस की शोभा और अधिक बढ़ाई जा सकती है.

परिधान हों यादगार

हैवी ऐंब्रौयडरी वाले गाउन्स और लहंगों का जमाना अब नहीं है. ऐसे में स्टाइलिश और सुंदर दिखने वाले गाउन्स आज की मांग हैं. कपल्स आजकल आरामदायक और क्लासिक ड्रैस पहनना पसंद करते हैं, जिस में कट्स और प्लीट्स पर ध्यान देना आवश्यक होता है. लहंगाचोली या साड़ी, सिल्क या शिफौन के कपड़े पर मनपसंद रंग के अनुसार अच्छी कढ़ाई ही वैडिंग को शानदार बनाती है. साथ में सफेद लिली का बुके या बालों में फूल लगाने पर दुलहन मूर्तिकला की प्रतिरूप लगती है. गहने जरूरत के हिसाब से लेने चाहिए और उन में नथ, बाजूबंद और कमरबंद को शामिल करना न भूलें.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं