विदेशी फिल्मों, टीवी शो और पर्यटन के लायक जगहों में आज ऐम्यूजमैंट पार्क सब से अधिक आकर्षण का केंद्र बन गया है और किशोरों को यह खूब भाने लगा है. बड़े शहरों की तर्ज पर अब छोटे शहरों में भी ऐम्यूजमैंट पार्क बनने लगे हैं. महंगा होने के कारण यहां आना भारी पड़ता है. कारोबारी मुकाबले के चलते कुछ ऐम्यूजमैंट पार्क अब सस्ते भी हो रहे हैं.

किशोरों के लिए ऐम्यूजमैंट पार्क सब से अधिक मस्ती का स्थान होता है. यहां उन्हें सब से अधिक पसंद आने वाली चीजों में झूले और तरहतरह के गेम्स होते हैं. ऐम्यूजमैंट पार्क एक तरह से ऐडवैंचर से भरा होता है. इस में तरहतरह की राइड्स होती हैं. कुछ इस तरह से होती हैं कि छोटेबड़े हर एक को पसंद आएं. राइड्स के साथ यहां तरहतरह के झूले भी होते हैं. इस तरह के पार्कों में कुछ क्षेत्र ऐसा होता है, जो आर्मी के ट्रेनिंग कैंप जैसा होता है. यहां आ कर लगता है कि किशोर जैसे किसी आर्मी ट्रेनिंग कैंप में आ गए हों.

ऐम्यूजमैंट पार्क को बेहतर बनाने के लिए यहां पर वाटर पार्क और टौय ट्रेन जैसी सुविधाएं भी उपलब्ध होती हैं. खानेपीने की दुकानों के साथसाथ यहां म्यूजिक और डांस का भी भरपूर इंतजाम होता है.

ऐम्यूजमैंट पार्क की सब से खास बात है कि यह काफी बड़े क्षेत्र में फैला होता है जहां पर किशोर अपने दोस्तों के साथ खूब मस्ती करते हैं. बड़ेबड़े शहरों में तो ऐसे पार्क बहुत पहले से चल रहे हैं लेकिन अब छोटे शहरों में भी ऐम्यूजमैंट पार्क खुलने लगे हैं.

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में ड्रीम वर्ल्ड ऐम्यूजमैंट पार्क आशियाना इलाके में करीब 6 एकड़ एरिया में बना है. इस में 22 राइड्स हैं. सितंबर 2016 में खुला यह पार्क लोगों को काफी पसंद आ रहा है. अब इस में एक छोटा वाटर पार्क भी है, जिस में बड़े और बच्चे सभी मौजमस्ती कर सकते हैं. ड्रीम वर्ल्ड ऐम्यूजमैंट पार्क के डायरैक्टर मनीष वर्मा का कहना है कि हम ने इस पार्क के रेट भी अन्य ऐम्यूजमैंट पार्कों से कम रखे हैं.

बड़े शहरों में महंगे हैं ऐम्यूजमैंट पार्क

बड़े शहरों में खुले ऐम्यूजमैंट पार्क बहुत महंगे होते हैं. इस कारण यहां जाना किशोरों की जेब पर भारी पड़ता है. सामान्यतौर पर ऐम्यूजमैंट पार्क में हर राइड का अलगअलग रेट होता है. यह 100 रुपए से ले कर 500 रुपए तक हो सकता है. यह जेब पर काफी भारी पड़ता है. किशोरों में ऐम्यूजमैंट पार्क बहुत फेमस हैं. दिल्ली, मुंबई, चंडीगढ़ और चेन्नई जैसे बड़े शहरों में लोग घूमने जाते हैं तो ऐम्यूजमैंट पार्क जरूर जाते हैं.

ज्यादातर किशोरों को ऊंची राइड्स पसंद आती हैं. इस के अलावा आर्मी के ट्रेनिंग कैंप जैसी राइड्स भी उन्हें खूब भाती हैं. स्कूल की तरफ से किशोरों को कई बार ऐसे पार्क में ले जाया जाता है. इस का कारण यह होता है कि बच्चों को यहां बहुतकुछ सीखने को मिलता है. इसलिए बच्चे यहां आना पसंद करते हैं, लेकिन महंगा होने के कारण बच्चे यहां बारबार नहीं आ पाते. पैरेंट्स भी ऐम्यूजमैंट पार्क में बच्चों को कभीकभी ही ले जाते हैं.

अपने बच्चों के साथ ऐम्यूजमैंट पार्क जाने वाली देविका कहती हैं कि बच्चे ऐसे पार्क में जा कर हर खेलने वाली वस्तु का प्रयोग करना चाहते हैं. सभी पार्कों में सब के अलग रेट होते हैं. अच्छी बात यह है कि ऐम्यूजमैंट पार्क आ कर बच्चों को बहुतकुछ सीखनेसमझने को मिलता है.

हर सुविधा से युक्त ऐम्यूजमैंट पार्क

आमतौर पर हर पार्क कुछ ही सुविधाओं से लैस होता है लेकिन ऐम्यूजमैंट पार्क में हर तरह के फन को करने का मौका मिलता है. यहां झूले, राइड्स, ट्रेन और भी तरहतरह के ऐडवैंचर से भरपूर चीजें होती हैं. अब वाटर पार्क और कई जगहों पर चिडि़याघर भी इस का हिस्सा हो गए हैं.

ऐम्यूजमैंट पार्क में जाने के शौकीन विपुल अग्रवाल कहते हैं, ‘‘मुझे यहां आ कर अलग सा लगता है पर परेशानी की बात यह है कि यहां बारबार आना काफी खर्चीला साबित होता है. यहां हर सुविधा की अलग कीमत देनी पड़ती है. ज्यादातर पार्कों में ऐंट्री फीस कम होती है बाकी खर्चे ज्यादा होते हैं. ये बाकी खर्चे ही सब से अधिक जेब पर भारी पड़ते हैं.’’

ऐम्यूजमैंट पार्क प्रबंधन से जुड़े लोग कहते हैं कि ऐसे पार्कों में रखरखाव बहुत जरूरी होता है. यह महंगा होता है. इस के अलावा यहां पर नएनए किस्म के झूले लगे होते हैं. जो महंगे होते हैं. ऐसे में इन की फीस ज्यादा हो जाती है, लेकिन हर राइड्स की फीस अलग होने से लाभ यह होता है कि जो पसंद हो वही प्रयोग किया जाए.

उदाहरण के लिए जब वाटर पार्क में जाना होता है तो वहां ऐंट्री फीस में ही सबकुछ शामिल होता है. ऐसे में किसी का प्रयोग न भी करना हो तो पैसा देना ही पड़ता है. ऐम्यूजमैंट पार्क में जितना इस्तेमाल करो उतने का ही भुगतान करना पड़ता है. इस से जेब ज्यादा भार नहीं पड़ता.

ऐम्यूजमैंट पार्क में बच्चों के साथ बड़ों की भी ऐक्सरसाइज हो जाती है, जिस से आज के दौड़तेभागते शहरी जीवन में कुछ नया मिलता है. आमतौर पर बच्चे आज के खुले माहौल से दूर होते जा रहे हैं, जिस से उन्हें तरहतरह के रोग लग रहे हैं. ऐम्यूजमैंट पार्क बच्चों को वापस अपनी ओर मोड़ने में सफल हो रहे हैं, यही वजह है कि अब बच्चों को ये बहुत पसंद आने लगे हैं और किशोरों के आकर्षण का सब से बड़ा केंद्र बन गए हैं.