अब घर बैठे ही खरीदें बहुत कुछ. होम शौपिंग करने के लिए कहीं जाने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि यह तो घर से ही टीवी, इंटरनैट या फिर मोबाइल के जरिए की जा सकती है. अब टीवी पर प्रसारित होने वाले शौपिंग चैनलों के कार्यक्रम रोचक ढंग से तैयार किए जाते हैं. घर के छोटेमोटे काम करते हुए टीवी तो देखा ही जा सकता है. ये कार्यक्रम नएनए उत्पादों की जानकारी देते हैं, जिस के जरिए फर्नीचर, इलैक्ट्रौनिक आइटम्स, होम फर्निशिंग आइटम्स, मोबाइल, ज्वैलरी व डिजाइनर कपड़े आसानी से खरीदे जा सकते हैं. पसंदीदा उत्पाद के कोड चैनल पर बताए जा रहे नंबर पर फोन कर के और्डर दे दें. किसी प्रकार का संशय होने पर या सुझाव लेने के लिए चैनल के शौपिंग कंसलटैंट से भी बात की जा सकती है. कुछ चैनलों का खास ब्रैंड्स के साथ टाईअप होता है व चैनल के माध्यम से इन नामी ब्रैंड्स की चीजें भी खरीदी जा सकती हैं.

फोन द्वारा और्डर देने के बाद आमतौर पर 5-7 दिनों के भीतर उत्पाद घर पर पहुंच जाता है. उत्पाद के निर्माण से संबंधित किसी भी प्रकार की गड़बड़ी पाए जाने पर ग्राहक को तुरंत कंपनी में सूचित करना चाहिए. उत्पाद को बदलने के लिए प्रत्येक चैनल के नियम अलगअलग होते हैं. इसलिए बेहतर है कि शौपिंग से पहले चैनल की शर्तों को जान लें.

फायदे ही फायदे

यह शौपिंग है आराम की: होम शौपिंग करने से बाजार जाने का समय तो बचता ही है, थकान भी नहीं होती है. शौपिंग भी मनोरंजन भी: शौपिंग चैनल के माध्यम से शौपिंग करना आसान तो होता ही है, इस पर प्रसारित कार्यक्रम मनोरंजन भी करते हैं. जल्दी क्या है: मार्केट में शौपिंग करते समय ग्राहक के पास सीमित समय होता है, जबकि होम शौपिंग में समय की पाबंदी नहीं रहती. व्यक्ति बिना किसी दबाव में आए खुले दिमाग से सामान खरीदता है. 

वैराइटी की भरमार: होम शौपिंग में ग्राहकों को उत्पादों की बहुत सारी वैराइटी देखने को मिलती है. तरहतरह के उत्पादों का भंडार देखने के बाद वह सर्वोत्तम वस्तु का चुनाव कर सकता है.

भुगतान है आसान: होम शौपिंग करने पर ग्राहक तभी भुगतान करता है, जब उस के घर पर उत्पाद सही तरह पहुंच जाता है. कैश, ड्राफ्ट या चैक के अलावा के्रडिट कार्ड से भी भुगतान किया जा सकता है. कुछ उत्पादों पर ईएमआई से भुगतान करने की सुविधा भी मिल जाती है. होम शौपिंग में बाजार की तुलना में आकर्षक छूट के अवसर अधिक मिलते हैं. यह खास बात इस शौपिंग को और भी किफायती बना देती है.