जीवन में तरक्की के लिए जरूरी है कि आप सही फैसले लें. आप के हर फैसले का आप के कैरियर पर असर पड़ता है. कोईर् भी फैसला लेने से पहले विषय की पूरी जानकारी होनी जरूरी है. यदि कोई गड़बड़ी हो जाए तो बचाव करना भी जरूरी है.

कभीकभी बिना सोचसमझे जल्दबाजी में लिए गए कुछ फैसले आप की प्रोफैशनल लाइफ को बरबाद कर सकते हैं. इसलिए सोचसमझ कर सही फैसले लें ताकि बाद में पछताना न पड़े.

सिर्फ पैशन फौलो करना

यदि आप का पैशन गिटार बजाना या फिजिकल एडवैंचर है, तो आप किसी बैंड को जौइन कर कैरियर बना सकते हैं, इस से पैसा कमाने की क्षमता को फौलो करने पर आप को अच्छा लगेगा, पर हो सकता है बाद में परेशानी हो इसलिए पता लगाएं कि आप का पैशन स्थायी है या नहीं और उस से कितना पैसा कमा सकते हैं.

लोग अपनी जरूरतें पूरी करने के एवज में आप को पैसा दे सकते हैं पर जरूरी नहीं कि वे हमेशा ही आप को अच्छा पैसा दें. इसलिए सोचसमझ कर सही फैसला लें.

सेल्स में कैरियर से बचना

क्या आप सेल्सपर्सन बनने से कतराते हैं? यह एक खतरनाक फैसला हो सकता है. इस बात का खयाल रखें कि प्रोफैशनल लाइफ में आप को हमेशा कुछ न कुछ सेल करना पड़ता है. अगर आप की सेल्स में थोड़ी भी दिलचस्पी है तो यह लाइन आप की जिंदगी बदल सकती है. 

सैलरी के लिए जौब

कैरियर के किसी भी मोड़ पर यदि आप को सब से ज्यादा सैलरी का औफर मिले तो उस औफर को स्वीकार करने से पहले एक बार जरूर सोचें. अपने स्किल सैट के लिए डिमांड सप्लाई डायनैमिक्स पर विचार करना चाहिए.

अगर कोई कंपनी लौंगटर्म के लिए शानदार रिवार्ड औफर कर रही है, तो वह आप को शौर्टटर्म के लिए कम सुविधाएं देगी. जहां पर लौंगटर्म कैरियर ग्रोथ और रिटर्न्स गायब होते हैं, वहां ऐंप्लौयर आप को लुभाने के लिए बड़े औफर देता है.

फ्रैंड्स को न भूलें

हर बार जब आप जौब बदलते हैं तो पुराने वर्कप्लेस पर कई दोस्त छोड़ जाते हैं. नए रोल में आप इन दोस्तों के साथ रिश्ते नहीं निभा पाते. इस से आप ऐक्सटर्नल प्रोफैशनल सपोर्ट सिस्टम को खो देते हैं और भविष्य में बेहतर नौकरी के अवसरों से भी वंचित रह जाते हैं. अच्छी नौकरी के लिए कभी विज्ञापन नहीं निकलते. ऐसी नौकरियां हमेशा किसी न किसी के रैफरैंस से भरी जाती हैं. इसलिए आप को पुराने संबंधों को हमेशा जीवित रखना चाहिए.

लाइफ पार्टनर की सुनें

प्रोफैशनल सपनों को पूरा करने के चक्कर में कई बार इंसान लाइफ पार्टनर की बातों को नजरअंदाज करता है. इस से परिवार में तनाव पैदा होता है और व्यक्ति काम पर पूरी तरह से फोकस नहीं कर पाता. भले ही आप काम में कितने भी व्यस्त रहते हों, लेकिन लाइफ पार्टनर को भी समय दें.

कैरियर बदलना ठीक नहीं

क्या आप पायलट हैं और फ्लाइंग से बोर हो चुके हैं? जब आप कैरियर बदलते हैं, तो अस्थायी रूप से ऐक्साइटिंग जौब मिलती है.

आप नए कैरियर में सब से निचले पायदान पर होते हैं, क्योंकि पुराना अनुभव काम नहीं आता. वहां आप की उम्र के लोग आप से ऊपर काम करते हैं. कैरियर बदलने से अच्छा तो यह होगा कि आप वर्तमान कैरियर में ही कुछ नया करते रहें ताकि बोरियत न आए और जोश बना रहे.

जल्द सैटल हो जाना

जिंदगी के शुरुआती दिनों में किसी शहर में सैटल हो जाने के कारण आप अन्य शहरों में जौब करने से कतराते हैं. यदि आप किसी शहर में बहुत जल्दी घर खरीद लेते हैं, तो इस बात की संभावना रहती है कि उस शहर को छोड़ कर कहीं और जाएंगे और कैरियर की नई राह तलाशेंगे.

जो भी मिला, उसे स्वीकार करना

अपनी काबिलीयत के अनुरूप अच्छे अवसर का इंतजार करें. आप को जो भी पहला अवसर मिलता है, उसे आप बेहतर समझते हैं.

ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि आप ने अन्य अवसर देखे ही नहीं होते हैं. इसलिए पहले अवसर को तुरंत स्वीकार कर लेना हर बार सही नहीं होता. पहले औफर को स्वीकार करने से पहले विचार कर लें.

चापलूसी को महत्त्व देना

यदि आप आगे बढ़ने के लिए मेहनत के बजाय चापलूसी को चुनते हैं तो इस से आप कभी भी स्थायी कामयाबी हासिल नहीं कर सकते. आप को फैसला लेना होगा कि जीवन में मेहनत को अहमियत देंगे और चापलूसी छोड़ देंगे. आप को मालूम होना चाहिए कि वही व्यक्ति सफल होता, जो ईमानदारी से मेहनत करता है.

नया सीखते रहें

शिक्षा एक सतत प्रक्रिया है. आप को हमेशा कुछ न कुछ सीखना चाहिए. हो सकता है कि आप ने ग्रैजुएशन या पोस्टग्रैजुएशन किया हो. इस पढ़ाई से शुरुआती स्तर पर तो जौब मिल जाती है, पर आप को अपनी शिक्षा कभी बंद नहीं करनी चाहिए. आप जितना ज्यादा सीखते हैं, उतनी ही तेजी से तरक्की पाते हैं. जौब के दौरान भी आप को नित नई चीजें सीखने की कोशिश करते रहना चाहिए.

अपना पैशन न भूलें

अपने पैशन को फौलो न करना एक खतरनाक फैसला हो सकता है. समर्पित व्यक्ति आलसी व टैलेंटेड व्यक्ति की तुलना में तेजी से सफल होता है. अगर आप काम को पसंद करते हैं, तो कड़ी मेहनत कर सकते हैं.

मैं हूं बौस

लीडर के तौर पर लंबे समय तक अपनी भूमिका निभाने पर आप को लगता है कि कोई भी आप की आलोचना नहीं कर सकता और आप नियमों से परे हैं, लेकिन हकीकत अलग होती है. आप पर ज्यादा जिम्मेदारी होती है और गलती होने पर सब से पहले आप को ही सजा दी जाती है.

मैं लोगों को दिखता ही नहीं

आप जितना बेहतर परफौर्म करेंगे, लोगों की निगाह आप पर उतनी ही ज्यादा रहेगी. लोग आप के शब्दों, कार्यों और रवैए पर नजर रखेंगे. लोग आप के बारे में बातचीत भी शुरू कर देंगे. ऐसे में आप का एक गलत कदम या झूठ लोगों को बरदाश्त नहीं होगा और वे आप पर हावी हो जाएंगे.

मिल कर चलें

यह बहुत आसान है कि आप अपनी सारी कामयाबी के लिए खुद को जिम्मेदार मानें. कई बार इस से आप घमंड भी करने लगते हैं.

आप को बेहतर नतीजों के लिए लोगों, माहौल और समय को भी अहमियत देनी चाहिए. सब के साथ मिल कर चलने पर ही स्थायी सफलता मिल सकती है.

मेरी कोई जिम्मेदारी नहीं

कई लोग यह भी मानते हैं कि हालात उन के कंट्रोल में नहीं हैं. इस से वे खुद को कमजोर साबित करते हैं. आगे आ कर जिम्मेदारी लेना सीखें और हालात को वश में करने की कोशिश करें. यदि आप अपने जीवन में कैरियर के प्रति गैरजिम्मेदार रहेंगे तो कैरियर में बड़ी असफलता ही मिलेगी.