विश्वास
विश्वास

अमित के सुखी वैवाहिक जीवन की बातें सुन कर अंजलि खिन्न हो उठी. तभी तो वह शिखा से मिल कर उस के वैवाहिक जीवन में जहर घोलना चाहती थी. क्या वह अपने मकसद में कामयाब हो पाई.

विमोहिता
विमोहिता

आधुनिकता की चकाचौंध में अनिता को ऐसे पंख लगे कि वह उड़ती चली गई. मगर जब यथार्थ से आमनासामना हुआ तो उसे अपना सब कुछ लुटता सा नजर आया, और फिर एक दिन.

रोमांस के रंग, श्रीमतीजी के संग
रोमांस के रंग, श्रीमतीजी के संग

बरसात में मचलती श्रीमतीजी की अदाओं पर हम भी फिसल गए और उन्हें ले कर छत के ऊपर चढ़ गए. मगर आज तक उन की इस जिद का हम हरजाना भर रहे हैं.

सबक
सबक

पटाखों के धमाके से गहरी नींद में सोया मोहित जब जागा तो उस ने नेहा के घर पर जो दृश्य देखा, वह उस के तनमन में आग लगाने के लिए काफी था. आखिर ऐसा क्या देख लिया मोहित ने.

ममता की मूरत
ममता की मूरत

सीमा के मन में यह बात बैठ गई थी कि सास कभी अच्छी नहीं होती. पर उस की चचिया सास ने उस की यह सोच बिलकुल ही बदल डाली. आखिर ऐसा क्या किया उन्होंने.