आंध्र प्रदेश को प्रकृति ने कई समुद्र तट उपहार में दिए हैं, जिन की तट रेखा बंगाल की खाड़ी से लगती है. छुट्टियों में दक्षिण भारत के कुछ खूबसूरत समुद्र तटों का आनंद लेने के लिए अपनी यात्रा की योजना बना लें…

येरादा समुद्र तट

येरादा समुद्र तट, जिस की तटरेखा आंध्र प्रदेश की दूसरी सब से बड़ी तट रेखा है. यह पहाड़ियों और बंगाल की खाड़ी से घिरा है. यह घरेलू और विदेशी पर्यटकों की छुट्टियां बिताने की पसंदीदा जगह है. यह समुद्र तट हरी-भरी वनस्पतियों और नर्म सुनहरी रेत से सजा है, जिस के बीच ब्लैक मोर्स हिल पर डौल्फिंस नोज लाइटहाउस स्थित है. इस स्थान की खूबसूरत छटा को निहारने के लिए प्रकृति प्रेमियों के यहां आने का उपयुक्त समय अक्तूबर से मार्च के बीच है.               

रामकृष्ण समुद्र तट

रामकृष्ण समुद्र तट ‘आर के बीच’ के नाम से लोकप्रिय है. यह विशाखापट्टनम के लोकप्रिय स्थानों में से एक है. यह खूबसूरत समुद्र तट भारत के कोरोमंडल तट का विस्तार है. देश के विभिन्न हिस्सों से पर्यटक समुद्र स्नान, वाटर स्पोर्ट्स एवं तट रेखा के किनारे-किनारे तेज चलने के लिए इस स्थान पर आते हैं. रामकृष्ण समुद्र तट के चारों ओर कई बेहतरीन पर्यटन स्थल हैं जैसे ऐक्वेरियम, विशाखा म्यूजियम, सबमैरिन म्यूजियम और वाटर मैमोरियल.

कलिंगपटनम समुद्र तट

कलिंगपटनम समुद्र तट आंध्र प्रदेश के प्राचीन बंदरगाह शहरों में से एक है, जो खूबसूरत लोक शैली के मंदिरों, आकर्षक रंगों में रंगे बंगलों और फूलदार वृक्षों से सुशोभित है. यहां का पानी नीला है और समुद्र तट स्वच्छ है, जिस की छटा इस की सुनहरी रेत के चलते और अधिक बढ़ जाती है. इस समुद्र तट को ‘ओपन रोड सी’ के रूप में भी जाना जाता है, क्योंकि सड़क समुद्र तक पहुंच कर समाप्त हो जाती है. कलिंगपटनम का समुद्र तट आराम के पल बिताने के लिए सब से उपयुक्त स्थान है.

ऋषिकोंडा समुद्र तट

ऋषिकोंडा बीच लोगों के घूमनेफिरने के लिए उपयुक्त स्थान है. यह छोटा है व एकांत में स्थित है. दूर तक फैली रेत और समुद्र की आनंददायक लहरें इस समुद्र तट को यकीनन देखने लायक बनाती हैं. इस का स्वच्छ, निर्मल नीला पानी स्नान करने वालों को लुभाता है, लेकिन तीव्र धाराओं के चलते यहां तैरने पर प्रतिबंध है. ऋषिकोंडा समुद्र तट की शांति व नीरवता अद्भुत है.                     

भीमुनिपटनम समुद्र तट

भीमुनिपटनम समुद्र तट आंध्र प्रदेश के उत्कृष्ट पर्यटन स्थलों में से एक है. इस समुद्र तट का माहौल शांत एवं निर्मल है. यह यहां आने वालों के लिए संपूर्ण मनोरंजन भी सुनिश्चित करता है. एक तरफ हरेभरे नारियल के पेड़ तो दूसरी तरफ इस की सुनहरी रेत इसे आकर्षक रूप प्रदान करती है. डच कब्रिस्तान, प्राचीन क्लौक टावर, लाइटहाउस, पेंट की हुई मूर्तियों की विभिन्न प्रदर्शनियां और बौद्ध सन्यासियों की विभिन्न प्रदर्शनियां इसे जिंदादिल बनाती हैं. कुछ शांतिपूर्ण पल बिताने के इच्छुक पर्यटकों के लिए यह बेहद शांतिप्रद जगह है.