गृहशोभा विशेष

विदेशों में सेल्फी का क्रेज इतना बढ़ गया है कि लोग सेल्फी के लिए लंबी लंबी यात्रायें करते हैं, ताकि वे अच्छी सेल्फी ले सके. अब यही दौर भारत में भी आ गया है. फिर चाहे नई ड्रेस लेने में हो या फिर एक्सीडेंट होने पर हो. हर जगह सेल्फी का बुखार सिर चढ़कर बोल रहा है.

अगर आप भी सेल्फी के दीवाने है. आपको कोई ऐसी जगह सर्च कर रहे है. जहां का हर नजारा देखने में लगे कि यह तो स्वर्ग है तो फिर ऐसी जगहों पर जाने के लिए तैयार हो जाइए. विदेशों में ही नहीं भारत में भी ऐसे-ऐसे प्लेस हैं जहां पर अगर आपने सेल्फी न ली तो आपका सेल्फी लेना ही बेकार है.

फूलों की घाटी, उत्तराखंड

हिमालय की गोद में बसे उत्तराखंड प्रकृति का एक अनोखा उपहार है. यहां पर स्थित फूलों की घाटी कुछ खास है. नेशनल पार्क बन चुका यह क्षेत्र देश के रसाथ-साथ विदेशियों को भी अपनी ओर आकर्षित करता है. लगभग 90 किमी क्षेत्रफल में फैला यह क्षेत्र राष्ट्रीय धरोहरों में भी शामिल है. 3 किमी लंबी और आधा किमी चौड़ी फूलों की घाटी में मस्ती करते हुए सेल्फी लेना आपके लिए यादगार साबित होगा.

कच्छ, गुजरात

कभी खत्म न होने वाली यह जगह शांत की जगह है. इसे कच्छ का रण कहते हैं. गुजरात का यह मरुस्थल सूर्योदय और सूर्यास्त के अपने खास नजारे के कारण दुनिया भर में फेमस है. 45652 वर्ग किमी. के क्षेत्रफल में फैले गुजरात के कच्छ जिले का अधिकांश हिस्सा रेतीला और दलदली है. यहां पर अनेक ऐतिहासिक इमारतें, मंदिर, मस्जिद, आदि पर्यटन स्थल भी है. ऐसी खूबसूरत जगह पर सेल्फी तो बनती है न?

बनारस, उत्तर प्रदेश

बनारस को मंदिरों का शहर भी कहा जाता है. धार्मिक कारणों से पूरी दुनिया में इसकी अलग पहचान है. अपने समृद्ध इतिहास के लिए गलियों में बसने वाला असली बनारस और हमेशा भीड़ से घिरे गंगा घाट सेल्फी के लिए अच्छे स्पॉट बन गए हैं.

इस शहर की पौराणिक मान्यता तो है ही, रास्तों पर घूमते हुए आपको कई बार ऐसे मौके मिलेंगे, जहां बिना फोटो क्लिक किए आपका मन नहीं मानेगा. खास बनारसी पान की दुकानें, सड़क किनारे खाने-पीने की दुकानें और शाम की गंगा आरती. यहां पर सेल्फी लेने में पीछे मत हटिएगा.

डल झील, कश्मीर

भारत का स्वर्ग कहा जाने वाले कश्मीर के बारे में कौन नही जानता है. श्रीनगर की खूबसूरत वादियां अपनी खूबसूरती के कारण सभी को अपनी ओर आकर्षित करती रहती है. डल झील अपने साफ पानी के साथ-साथ नक्काशीदार शिकारे में बैठकर सेल्फी लेने का अपना ही मजा है.

पेंगोंग झील, लद्दाख

लद्दाख तो ऐसे भी रोड ट्रिप्स के लिए बेस्ट है. यह झील लद्दाख को और खूबसूरत बनाती है. इस झील को देखने के लिए दुनिया भर से पर्यटक आते हैं. आप भी एक बार यहां जाएं और सेल्फी जरुर लें.

जैसलमेर, राजस्थान

जैसलमेर की तो अपनी अलग पहचान है. राजस्थान के एक छोर में बसा जैसलमेर अपने किलों के कारण प्रसिद्ध है. शांति और सुकून ऐसा जो आपको किसी भी जगह नहीं मिल सकता है. यहां पर आप ऊंट की सवारी करते हुए सेल्फी लेना न भूलें.

नूरानंग झरना, अरुणाचल प्रदेश

नूरानंग झरना अरुणाचल प्रदेश राज्य के तवांग शहर से 35 किमी की दूरी पर है. इस झरने को ‘जुंग झरने’ के नाम से भी जाना जाता है. नूरानंग झरने का सफ़ेद ठंडा पानी 100 मीटर से भी अधिक ऊंचाई से मूसलधार बारिश के रूप में गिरता है. घने हरे रंग का प्रतिवेश नूरानंग झरने की सुंदरता को बढ़ाता है.

हरियाली और हिमालय के पर्वत नूरानंग झरने को एक खूबसूरत पर्यटन स्थल बनाते है. यह जगह इतनी खूबसूरत है कि 1997 में बनी शाहरुख खान और माधुरी दीक्षित की फिल्म ‘कोयला’ की शूटिंग भी यहां हुई है.

पिछोला झील, उदयपुर, राजस्थान

पिछोला झील एक कृत्रिम झील है जिसे 1362 ई. में विकसित किया गया था, और पिछोली नामक गांव के नाम पर इसका नाम रखा गया है. उदयपुर की पीने और सिंचाई की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए एक बांध का निर्माण किया गया जिसके क्रम में झील बनी. इस कृत्रिम झील की खूबसूरती रेतीले राजस्थान को ठंडक पहुंचाती है.

यहां की खूबसूरती देखनी हो, तो झील किनारे के घाट या झील के बीचों-बीच बने होटल की छत से देखिए, नजारा यादगार बन जाएगा. झील में विभिन्न प्रजाति के पक्षियों का डेरा हमेशा बना रहता है. आप यहां से पक्षियों के साथ सेल्फी ले सकते है. जो कि एक यादगार पल होगा.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं