गृहशोभा विशेष

अगर आपको दुनिया को उपर से देखने का मौका मिले तो आप क्या करेंगी? आप ही क्या कोई भी इस रोमांच का लुत्फ लेना चाहेगा चाहे जो हो जाए. तो आज हम आपको लेके जाने वाले हैं विशाखापट्टनम जहां 14 से 16 नवम्बर तक हौट एयर बलून शो का आयोजन किया जा रहा है. हमारी मानिये तो आप वहां जरूर जाएं.

17 देश होंगे शामिल

आंध्र प्रदेश पर्यटन विभाग 14 नवंबर से हौट एयर बैलून फेस्टिवल आयोजित करने वाला है. यह फेस्‍ट‍िवल 16 नवंबर तक चलेगा. इस फेमस फेस्‍ट‍िवल में स्विट्जरलैंड, जापान, मलेशिया, यूनाइटेड किंगडम, संयुक्त राज्य अमेरिका और ताइवान जैसे 17 देश शामि‍ल हैं. यहां एक्सपर्ट्स भी आसमान में करतब दिखाएंगें.

रोमांच से भरपूर अरकू

जी हां, लोगों को हौट एयर बैलून की सवारी करने में मजा आता है. आसमान में हवा में उड़ते हुए नीचे धरती की खूबसूरती देखना बेहद रोमांचक लगता है. ऐसे में अगर आप इसका मजा लेने के लिए कोई खास जगह की तलाश कर रही हैं तो फिर अरकू घाटी चले जाएं. यह आंध्रप्रदेश के विशाखापट्टनम में स्‍थ‍ित है.

बोर्रा गुफाएं हैं फेमस

अरकू घाटी ऐतिहासिक व प्राकृति‍क दोनों ही रूपों में ही प्रसिद्ध है. यह आंधप्रदेश का एक छोटा मगर बेहद ही खूबसूरत हिल स्टेशन है. यहां पर ऐतिहासिक रूप से प्राचीन संग्रहालय, टाइडा और बोर्रा गुफाएं पर्यटकों को आकर्ष‍ित करती हैं. विलियम किंग नाम के शख्स ने बोर्रा गुफा की खोज सन् 1807 में की थी.

विश्‍वस्‍तपर पर है पहचान

इसके अलावा यहां सांगडा झरने, पदमपुरम बौटनिकल गार्डन और छोटी-छोटी झीलें पयर्टकों को बहुत पसंद आती हैं. अरकू को पौधा रोपण के जरिए पर्यावरण को एक खास दिशा देने के लिए भी जाना जाता है. यहां पर आदिवासियों द्वारा उत्‍पादित की जाने वाली अरकू एमराल्ड कौफी विश्‍व स्‍तर पर अपनी पहचान बना चुकी है.

ऐसे जाएं इस फेस्‍ट‍िवल में

विशाखापट्टनम जिले में अरकू घाटी के इस फेस्‍ट‍िवल में शामिल होने के लिए बड़ी संख्‍या में पयर्टक आते हैं. यहां जाने के लिए हैदराबाद और विशाखापत्तनम से बसों की सुवि‍धा है. इसके अलावा यहां जाने के लिए रेल सुविधा भी ली जा सकती है. हालांकि यहां फि‍लहाल हवाई अड्डा नहीं है.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं