गृहशोभा विशेष

समुद्री तटों पर जाना और वहां जाकर बीच का आनंद लेना लगभग सभी को पसंद होता है. समुद्र के किनारे सन बाथ, और वौटर एक्टिविटिज का अपना अलग ही मजा होता है. आज हम आपको लक्षद्वीप की सैर पर ले जाने आएं हैं ताकि आप वहां के प्राकृतिक सुंदरता से रुबरु हो पाएं. लक्षद्वीप के समुद्र तट अपने खूबसूरती के लिये खासे मशहूर है, यहां के चमकीले पत्थर, यहां के मलाईदार रेत तथा टूना फिशिंग ये अपने आप में लक्षद्वीप की खासियत हैं, तो चले अब लक्षद्वीप के सैर पर.

कवाराट्टी बीच

कवाराट्टी बीच वौटर एक्टिविटिज के लिए यह एक परफेक्‍ट प्‍लेस है. यहां पर स्‍वीमिंग से लेकर गर्म रेत पर दौड़, पयर्टकों को सब कुछ करने का मौका मिलता है. इसके अलावा यहां पर कई सारे ऐतिहासिक स्‍थल भी बने हैं. जिनमें बड़ी संख्‍या में स्मारक और मस्जिद शामिल है. इसके अलावा यहां पर बने एक्‍वैरियम में मरीना लाइफ की खूबसूरती भी देखते बनती है. यहां पर आप नौकायान से समुद्री यात्रा का आनंद ले सकती हैं.

मिनिकौय बीच

यह लक्षद्वीप के द्वीपसमूह में दक्षिणी द्वीप है. मिनिकौय बीच मालदीव के प्रभाव को उजागर करता है. यह बीच मिनिकौय द्वीप के समृद्ध संस्कृति को दर्शाता है. यहां के खूबसूरत पत्‍थर पयर्टकों को अपनी ओर आकर्षि‍त करते हैं. यह 10 गांवों के एक समूह के साथ दूसरा सबसे बड़ा द्वीप है. यहां इलाका टूना मछली पकड़ने का प्रमुख केंद्र है. यहां पर जाएं तो लावा नृत्य जरूर देखें. यहां का यह नृत्‍य प्रसिद्ध है.

कदमेट बीच

कोचीन से करीब 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित कदमेट समुद्र तट पर घूमना भी काफी रोमांचक लगता है. यहां पर बने विशाल लैगूनों को देखने में बड़ा अच्‍छा लगता है. पयर्टकों को सफेद संगमरमर से चमकते रेतीले मैदान पर पैदल चलने में बड़ा आनंद आता है. यहां पर स्‍नोर्कलिंग, डाइविंग जैसे अनेक वौटर स्‍पोर्ट का मजा लिया जा सकता है. परिवार के साथ छुट्ट‍ियां मनाने का एक बेस्‍ट प्लेस है.

बंगारम बीच

बंगारम समुद्र तट भी बेहद आकर्षक है. मलाईदार रेत से घि‍रे इस तट पर सूर्योदय के समय का मौसम बड़ा ही सुहाना लगता है. यह दुनिया के उन गेटवे में से एक है जहां आप रेत, सूरज और वौटर सर्फिंग का मजा एक साथ ले सकते हैं. स्कूबा डाइविंग, विंडसर्फिंग, वौटर स्कीइंग, पैरासेलिंग, स्नौर्केलिंग जैसी कई दूसरी वौटर एक्‍टि‍विटीज की जा सकती हैं.  

कल्पनी द्वीप

कल्पनी द्वीप में भी पयर्टक मस्‍ती कर सकते हैं. यह जगह भी सनबाथिंग, स्‍वीमिंग और दूसरी वौटर एक्‍टविटीज के लिए एकदम सही है. इसके अलावा लक्षद्वीप में किल्टन, अमिनी, एंड्रट, चेतलाट, बित्र, आदि जगहों पर दोस्‍तों के साथ मस्‍ती की जा सकती है.

ऐसे जाएं यहां

कोच्चि से लक्षद्वीप के अग्टाटी हवाई अड्डे तक हवाई सफर तय किया जाता है. वहीं कोच्चि और अगाटी के बीच समुद्री जहाज का लाभ उठा सकते हैं. इसके अलवा केरल से रेल द्वारा भी लक्षद्वीप की सैर की जा सकती है. केरल चेन्नई, मुंबई, दिल्ली, गोवा, कोलकाता जैसे अन्य प्रमुख शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं