गृहशोभा विशेष

ट्रैकिंग करना तो लगभग हर किसी को पसंद होता है, लेकिन रोजमर्रा के काम काज से फुर्सत कहां मिलती है, लेकिन अगर आप अपने रोज के काम धाम से बोर हो चुकी हैं और अपने दोस्तों के साथ कुछ फुर्सत के पल साथ में बिताना चाहती हैं तो आज हम आपको अरुणाचल प्रदेश के सफर पर ले जाने आएं हैं, जिन जगहों के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं वो ट्रैकिंग के लिये खासी प्रसिद्ध हैं.

ईटानगर

अरुणाचल प्रदेश का वाणिज्यिक केंद्र और राजधानी ईटानगर भी हिल स्‍टेशन के रूप में प्रसिद्ध है. यह इलाका ट्रैकिंग वे के लिए जाना जाता है. ईटानगर में सर्दियों में घूमने का अलग ही मजा है. यहां बना ईटा किला पयर्टकों को अपनी ओर आकर्षि‍त करता है. इसके अलावा गोम्पा बौद्ध मंदिर, ईटानगर संग्राहलय जैसे यहां कई आकर्षण केन्द्र हैं. यहां जाने के लिए गुवाहाटी से पयर्टक हवाई सफर या फिर बस सफर को चुन सकते हैं. 

पासीघाट

पासीघाट अरुणाचल प्रदेश राज्‍य का काफी पुराना शहर है. पर्यटकों के बीच यह जगह वौटर स्‍पोर्ट के लिए काफी पौपुलर है. समुद्रतल से 155 मीटर की ऊंचाई पर बने पासीघाट की मनोरम पहाड़ियों में घूमना काफी अच्‍छा लगता है. फोटोग्राफी के लिए सिआंग नदी के किनारे घनी हरियाली का नजारा बहुत ही खूबसूरत लगता है. यहां जंगली वन्यजीव अभयारण्य, मौलिंग नेशनल पार्क और जेनगिंग आदि रोमाचंक जगहें हैं.

जीरो

अगर आप विश्व धरोहर स्‍थल और खूबसूरत हिल स्‍टेशन घूमना चाहते हैं तो फिर अरुणाचल प्रदेश का जीरो एक अच्‍छी जगह सा‍बि‍त होगा. जीरो का सुंदर पाइन ग्रोव बेहद खूबसूरत पिकनिक स्‍थल है. जीरो हिल स्‍टेशन इटानगर से 115 किलोमीटर के दायरे में फैला है. यह जि‍तना ज्‍यादा खूबसूरत उतनी ही पयर्टकों की भीड़ कम होने से शांत रहता है. इतना ही नहीं जीरो में ब्‍यूटी हाई एल्टीट्यूड फिश फार्म देखे जा सकते हैं.

बोमडिला

बोमडिला भी अरुणाचल प्रदेश के खूबसूरत हिल स्‍टेशन में से एक है. यह समुद्र तल से 8000 फुट की ऊंचाई पर स्थित है. यह शांत बर्फ से ढंके पहाड़ों कांगटो और गोरिचेन चोटियों से घिरा हुआ है. बोमडिला का सबसे महत्वपूर्ण स्थान बोमडिला मठ है. सेसा और्किड अभयारण्य यहां के आकर्षण का मुख्‍य केंद्र है. बोमडिला फैमि‍ली ट्रि‍प के लिए अच्‍छा स्‍थान है. यहां पर साल भर पयर्टकों को आना जाना रहता है.

तवांग

तवांग भारत के अरुणाचल प्रदेश में पहाड़ों के बीच में बसा है. तवांग काफी छोटा जिला है लेकिन इसकी रहस्यमयी और जादुई खूबसूरती देखते ही बनती हैं. यहां की सुंदर वादियों में घूमने का एक अलग ही मजा है. यहां सूर्योदय के समय निकलने वाली पहली किरणों के बीच बर्फ से ढकी चोटि‍यां बेहद खूबसूरत लगती हैं. यहां पर पयर्टकों को घूमने के दौरान धर्म और सांस्‍कृति का एक अनोखा रूप देखने को मिलता है.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं