गृहशोभा विशेष

तकनीक, संस्कृति और प्राकृतिक सुंदरता के तालमेल से बने कनाडा को आज भी पर्यटन की सब से उम्दा जगह माना जाता है. यही आकर्षण पर्यटकों को यहां आने पर मजबूर कर देता है.

कनाडा दुनिया के चुनिंदा देशों में से एक है जहां विभिन्न संस्कृतियों का सुंदर मेल दिखाई देता है. अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने भी कहा था कि कनाडा सभी संस्कृतियों को साथ ले कर शांति से आगे बढ़ने वाला एकमात्र देश है. जहां तक खूबसूरत नजारों और आकर्षक पर्यटन स्थलों वाले कनाडा के आकार की बात है तो रूस के बाद कनाडा का ही नंबर आता है. दुनियाभर में मशहूर प्रेयरीज के मैदानों से ले कर दूर तक फैले इस के अनछुए नजारे और तकनीक का सुंदर इस्तेमाल देखने के लिए पर्यटक दूरदूर से आते हैं.

कनाडा जितना प्राकृतिक खूबसूरती में आगे है उतना ही अर्थव्यवस्था और तकनीक के क्षेत्र में भी. विश्व के सब से अमीर देशों की सूची में शुमार कनाडा आर्थिक रूप से काफी संपन्न है.

भौगोलिक नजरिए से अगर बात करें तो कनाडा दुनिया के सब से मजबूत देश अमेरिका से सटा हुआ है लेकिन कनाडा की संस्कृति में अमेरिकी झलक कम ही दिखाई पड़ती है. कनाडा में अभी भी इंग्लैंड का प्रभाव काफी ज्यादा है और इसे कोई भी पर्यटक महसूस कर सकता है. अंग्रेजी और फ्रैंच भाषा वाला कनाडा 1931 में यूनाइटेड किंगडम से पूरी तरह से आजाद हो गया था. उस के बाद से ही कनाडा लगातार विश्वभर में अपनी अलग राजनीतिक और सांस्कृतिक साख के लिए जाना जाता रहा है.

कनाडा में वैसे तो बहुत से शहर हैं जहां हर एक चीज अपनेआप में बेहद खूबसूरत है लेकिन कुछ जगहें ऐसी हैं जहां जाए बिना कनाडा का सफर पूरा नहीं होता.

ओटावा

कनाडा की राजधानी ओटावा वहां का चौथा सब से बड़ा शहर है. यह पूरा शहर ओटावा नदी के किनारे बसा है. गरमियों में बेहद गर्म और सर्दियों में बर्फ से ढका रहने वाला यह शहर दुनिया के कुछ सब से साफ शहरों में शुमार किया जाता है. ओटावा में देखने के लिए काफी ऐसी जगहें हैं जहां कनाडा की असली झलक मिलती है.

रिडियू कैनाल : इसे ‘रिडियू वाटर वे’ के नाम से भी जाना जाता है. यह नहर आपस में कई जगहों को जोड़ती है. रिडियू फ्रैंच शब्द है जिस का मतलब है ‘परदा’. यह नाम इसे इस के परदे जैसे झरनों की वजह से मिला है जो इसे ओटावा नदी से जोड़ते हैं. 2001 में यूनैस्को ने इसे वर्ल्ड हैरिटेज साइट का दरजा दिया है. इस में बोटिंग का लुत्फ उठाया जा सकता है.

नैशनल गैलरी औफ कनाडा : शीशे और ग्रेनाइट से बनी यह गैलरी बेहद आकर्षक लगती है. इस के निर्माण की देखरेख के लिए खासतौर पर कनाडाई प्रधानमंत्री द्वारा लोग नियुक्त किए गए थे. यहां देखने के लिहाज से काफी कुछ मौजूद है, जो कनाडा की संस्कृति को दर्शाता है.

लोअर टाउन : यह ओटावा का केंद्रीय हिस्सा है. यह रिडियू कैनाल, रिडियू नदी और ओटावा नदी से घिरा है. लोअर टाउन में बेवार्ड मार्केट है जो यहां की कमर्शियल मार्केट है. यहां का बाकी हिस्सा रिहायशी इलाके में आता है. कनाडा का आम रहनसहन यहां महसूस किया जा सकता है.

वेंकूवर

वेंकूवर को कनाडा के सैंट कोलंबिया का दिल माना जाता है. यह कनाडा का सुंदर शहर है. वेंकूवर को पर्यटक इसलिए भी पसंद करते हैं क्योंकि यहां आप हर चीज का मजा ले सकते हैं. पहाड़ों के खूबसूरत नजारों से ले कर समुद्र की लहरों तक का पूरा आकर्षण यहां मौजूद है. आप चाहें तो समुद्र के किनारे दिन बिताएं या यहां के मशहूर स्टैनले पार्क में साइकिलिंग करें. सुबह आप पहाड़ों की बर्फ पर स्कीइंग करने का मजा ले सकते हैं या फिर शाम को समुद्र में लहरों के साथ डिनर कर सकते हैं. ‘कनाडा प्लेस’ यहां का सब से ज्यादा फोटोग्राफी वाला स्पौट है. इस के अलावा आईमैक्स थिएटर, क्रूज शिप टर्मिनल वगैरह यहां के मुख्य आकर्षण हैं.

स्टैनले पार्क : इस पार्क  की सब से बड़ी खासीयत है कि यह एक द्वीप जैसा दिखाई देता है. यहां साइकिलिंग, स्केटिंग वगैरह रोजाना होती हैं. हर साल लगभग 8 लाख पर्यटक इस पार्क में आते हैं. पर्यटन के लिहाज से यह बेहद आकर्षक है.

टोरंटो

कनाडा का सब से बड़ा और खास शहर है, टोरंटो. यह कनाडा की आर्थिक और सांस्कृतिक राजधानी भी है. टोरंटो अपने कुछ खास पर्यटन स्थलों के लिए बेहद मशहूर है. यही पर्यटन स्थल इसे दुनिया के नक्शे में खास स्थान दिलाते हैं. टोरंटो में न्यूयार्क सिटी और लंदन के बाद दुनिया का सब से बड़ा लाइव थिएटर मार्केट है जो अपनेआप में खास है. इस के अलावा जो जगहें टोरंटो को खास बनाती हैं, वे हैं :

सीएन टावर : लगभग 1800 फुट ऊंचा यह टावर 1976 में बन कर तैयार हुआ था. उस वक्त से ले कर लगभग 34 सालों तक यह दुनिया का सब से ऊंचा टावर था. यह टावर टोरंटो की शान है. कनाडा आने वाला हर पर्यटक यहां आ कर इसे जरूर देखना चाहता है.

रौयल औंटारियो म्यूजियम : यह कनाडा का सब से बड़ा म्यूजियम है. विश्व संस्कृति और प्राकृतिक इतिहास इस म्यूजियम की खासीयतें हैं. यह म्यूजियम टोरंटो यूनिवर्सिटी के क्वींस पार्क में बना है. पर्यटकों की अच्छीखासी तादाद रोजाना यहां मौजूद कुछ बेहद खास चीजों को देखने आती है, जिन्हें इस म्यूजियम में सहेज कर रखा गया है.

आर्ट गैलरी औफ औंटारियो : यह एक आर्ट म्यूजियम है जो टोरंटो के डाउनटाउन के ग्रेंज पार्क में बना है. पहली शताब्दी से ले कर मौडर्न आर्ट तक  के 80 हजार से भी ज्यादा का कला संग्रह यहां मौजूद है.

4 लाख 80 हजार वर्ग फुट में फैली यह गैलरी उत्तरी अमेरिका की सब से बड़ी गैलरी है. ये सभी जगहें मिल कर टोरंटो को कनाडा का एक खास पर्यटन स्थल बनाती हैं.

कनाडा का खानपान

कनाडा के खानपान का भी कोई जवाब नहीं. यहां आप की प्लेट में सी फूड से ले कर जंगली सालमन मछली जैसे कई पकवान मिलेंगे. वाइन के अलग स्वाद भी आप को यहां काफी लुभाएंगे.

कनाडा का मौसम

विश्व मानचित्र पर कनाडा ऐसी जगह पर है जहां सर्दी और गरमी दोनों का ही मजा भरपूर लिया जा सकता है. कनाडा के मौसम की बात करें तो यहां गरमियों में तापमान लगभग 35 डिग्री से भी पार जा सकता है, वहीं सर्दियों में यहां के कुछ इलाकों में तापमान 40 डिग्री तक भी पहुंच जाता है. इस लिहाज से अगर आप कनाडा घूमने का प्लान बनाते हैं तो साल के किसी भी वक्त आप वहां जा सकते हैं. इस की पहली शर्त यही है कि मौसम का चुनाव आप को खुद करना होगा.

कनाडा के कुछ खास शहर और भी हैं जो पर्यटन के लिहाज से काफी आकर्षक हैं, जैसे कैलगरी, मौंट्रियल, क्यूबेक सिटी वगैरह. अगर आप इन छुट्टियों में किसी विदेशी जगह पर घूमने का मन बना रहे हैं तो कनाडा आप के और आप के परिवार के लिए बेहद आकर्षक पर्यटन स्थल साबित हो सकता है.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं