गृहशोभा विशेष

दुनिया हर पल अपने रंग बदलती है. बदलते समय के साथ इंसानों ने अपने आराम और सुविधा के लिए कई चीजों का आविष्कार किया है. न तो आविष्कारों की कोई सीमा है और न ही क्रिएटीविटी की. क्रिएटीविटी का न तो कोई ओर है और न ही कोई छोर. बच्चों की चित्रकारी से लेकर आर्किटेक्ट द्वारा बनाई गई बड़ी बड़ी इमारतें, इन सबमें क्रिएटीविटी है, जरूरत है तो बस नजरिए की. इस दुनिया को कई आर्किटेक्ट ने अपने दिमाग की ऊल-जलूल कल्पनाओं से सजाया है. गौरतलब है कि यही ऊल-जलूल कल्पनाएं कि यह बहुत खूबसूरत संरचनाओं के रूप में मौजूद हैं. इनमें से कई रचनाएं ऐसी हैं जो कुछ लोगों के समझ के परे हैं.

आज हम आपको कुछ ऐसे ही क्रिएटीव बिल्डिंग के बारे में बताएंगे

1. नेशनल सेंटर फॉर द पर्फोर्मिंग आर्ट्स (एनसीपीए), चीन

एनसीपीए बीजिंग का ओपरा हाउस है और इसे बनाने में पूरे 6 साल लगे. एक आर्टिफीशियल तलाब के ऊपर बनी यह बिल्डिंग एक बड़े से अंडे जैसी है. इस इमारत को टाइटेनियम और ग्लास से बनाया गया है.

2. क्यूबिक हाउस, रौट्टरडैम, नेडरलैंड

क्यूबिक हाउस, क्यूब शेप के घर हैं जिन्हें अलग अलग ऐंगल पर बैठाया गया है. इन क्यूब्स को किसी पेड़ की तरह बनाया गया है और सारे घर एक साथ किसी जंगल के जैसे दिखते हैं. क्यूबिक हाउस को पीट ब्लोम ने डिजाइन किया था.

3. द क्रूक्ड हाउस, पोलैंड

द क्रूक्ड हाउस एक अजब डिजाइन वाली बिल्डिंग है. पोलैंड के सोपोट में स्थित इस बिल्डिंग की बनावट आम बिल्डिंग से काफी अलग है. दूर से देखने में यह किसी कार्टून फिल्म से प्रेरित लगती है. इस टेढ़े-मेढ़े बिल्डिंग को देखकर दिमाग में यह सवाल जरूर आता है कि आखिर बनाने वाले ने इसे बनाया कैसे?

4. डांसिंग हाउस, चेक रिपब्लिक

प्राग की इस बिल्डिंग को फ्रेड ऐंड जिंजर भी कहा जाता है. इस बिल्डिंग के रोमांटिक चार्म से कोई नहीं बच सकता. इस इमारत को देखकर ऐसा लगता है मानो दो इमारतें एक दूसरे को गले लगा रही हों. इस इमारत को व्लाडो मिलुनिक ने फ्रैंक गेहरी के साथ डिजाइन किया था. यह इमारत प्राग की पहचान है.

5. हैबिटाट 67, मोन्ट्रीयाल, कनाडा

यह मोन्ट्रीयाल का एक हाउसिंग कोम्प्लैक्स है. यह मोन्ट्रीयाल और कनाडा की पहचान है. इस कौम्प्लैक्स का आकार बच्चों के खेलने के क्यूब जैसा है. यह देखने में बिल्कुल असली नहीं लगती और यह यकीन करना मुश्किल है कि इस कोम्पलैक्स में लोग आराम से रहते हैं.

6. फौरेस्ट स्पाइरल, जर्मनी

यह जर्मनी का एक रेसिडेंशियल कौम्पलैक्स है. इस बिल्डिंग की छत हरियाली से ढकी है और यह स्पाइरल शेप की इमारत है. पूरी इमारत की शक्ल किसी जंगल जैसी है. कौन्क्रीट के जंगलों के बीच में एक जंगल जैसी इमारत तो होनी ही चाहिए.

7. द बास्केट बिल्डिंग, ओहायो

आपने मॉल में शॉपिंग करते हुए शॉपिंग बास्केट तो देखे ही होंगे, पर क्या आपने शॉपिंग बास्केट जैसी बिल्डिंग देखी है? अमेरिका के ओहायो स्टेट में दुनिया का सबसे बड़ा बास्केट मौजूद है. यह बास्केट जैसी बिल्डिंग असल में लौंगाबर्गर का हेडक्वार्टर है. डेव लौंगाबर्गर ने इस कंपनी की स्थापना की थी. यह कंपनी शॉपिंग और पिकनिक बास्केट बनाती है.

दुनिया में ऐसे कई अजूबे हैं, जिससे दुनिया तमाम परेशानियों के बावजूद बहुत खूबसूरत लगती है. इस जिन्दगी में एक दफा तो इनमें से किसी एक का दीदार करना जरूरी है.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं